2nd October, 201827 min read

4 प्रकार के पेट दर्द और आप इस स्थिति में क्या कर सकते हैं?

 4 प्रकार के पेट दर्द और आप इस स्थिति में क्या कर सकते हैं?
मेडिकली रिव्यूड

पेट दर्द आपके सीने और कमर के बीच के क्षेत्र में होने वाले दर्द को कहते हैं।

दर्द के अलग कारणों के आधार पर दर्द का प्रकार निर्भर करता है, कभी कभी पेट में दर्द एक धीमे दर्द की तरह महसूस हो सकता है, कभी एक तेज, ऐंठन भरा दर्द या अचानक छुरा भोंकने जैसा दर्द। यह एक निरंतर दर्द भी हो सकता है, या बारी बारी से आ और जा सकता है।

एक अध्ययन के अनुसार, अमेरिका में पेट दर्द सबसे आम कारणों में से एक है जिसकी वजह से लोग आपातकालीन विभाग जाते हैं। दर्द के अध्ययन के लिए इंटरनेशनल एसोसिएशन द्वारा जारी आंकड़े यह भी बताते हैं कि 15-25 प्रतिशत के बीच की आबादी एक ही समय पेट के दर्द से पीड़ित हो सकती है।

कुछ लोगों में, पेट का दर्द पाचन समस्याओं जैसे IBS या गैस्ट्रोएंटेराइटिस के कारण होता है, और मतली, उल्टी या दस्त जैसे अन्य लक्षणों के साथ होता है। यही कारण है कि कुछ लोग सभी प्रकार के पेट दर्द को 'पेट में दर्द' से संदर्भित करते हैं।

आपके पेट के अंदर और भी चीज़ें होती हैं। आपके लिवर, अप्पेंडिक्स, पैंक्रीयास और आंत सभी आपके छाती और पेल्विस के बीच के क्षेत्र में होते हैं। इन अंगों में से किसी एक को प्रभावित करने वाली स्थितियां पेट दर्द का कारण बन सकती हैं।

इससे आपके दर्द का कारण क्या है, यह समझ पाना मुश्किल है, और आपके लिए यह मान लेना आसान है कि कुछ गंभीर रूप से गलत है। बहुत अधिक घबराने की कोशिश न करें, लेकिन पेट दर्द का कारण बनने वाली कुछ स्थितियों में तत्काल चिकित्सा की आवश्यकता होती है, लेकिन सबसे आम कारणों को आप घर पर ही ठीक कर सकते हैं।

आपके दर्द का कारण खोजने का एक उपयोगी तरीका यह है कि आप किसी डॉक्टर को कैसे समझाएँ की दर्द किस प्रकार का और कहाँ है। यदि आप यह तय कर सकते हैं कि क्या आपको होने वाला दर्द एक छुरी से हुई सनसनी की तरह, ऐंठन या मामूली दर्द है, तो आप संभावित कारणों का अंदाज़ा लगा सकते हैं।

यह आपके द्वारा अनुभव किए जा रहे किसी भी अन्य लक्षण भी दर्द का कारण तलाशने में मदद कर सकते हैं - जैसे सूजन और उल्टी - या आपके दर्द का स्थान। पेट दर्द का कारण बनने वाली विभिन्न स्थितियां अलग अलग पेट के हिस्सों को प्रभावित करती हैं, और यह समझना कि आपका दर्द कहां केंद्रित है, आपके दर्द के सही कारण का पता लगाने में मूल्यवान साबित हो सकता है।

पेट के 4 प्रमुख हिस्से हैं:

  • पेट के ऊपर का हिस्सा
  • निचला पेट
  • पेट के दाईं ओर
  • पेट के बाईं ओर

यहां, आप पेट दर्द के 11 सामान्य कारणों के साथ-साथ उनके लक्षणों, दर्द की जगह और उपचार के बारे में जानकारी ले सकते हैं।

चिंता कब करनी चाहिए

कभी-कभी, पेट में दर्द एक गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है, खासकर अगर ये लक्षण भी साथ में महसूस हों:

  • पेट दर्द बहुत अचानक या गंभीर रूप से होना
  • आपके पेट को छूते वक़्त दर्द होना
  • आप खून की उल्टी कर रहे हों या आपकी उल्टी ग्राउंड कॉफी की तरह दिख रही हो
  • शौच में ख़ून आना
  • शौच काला, चिपचिपा और बदबूदार होना
  • आप पेशाब नहीं कर पा रहे
  • आप शौच नहीं कर सकते
  • आप सांस नहीं ले पा रहे
  • आपको सीने में दर्द है
  • आप मधुमेह से ग्रस्त हों और उल्टी हो
  • कोई बेहोश हो गया हो

यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो आपको तत्काल मेडिकल सहायता लेनी चाहिए।

ऊपरी पेट दर्द के सामान्य कारण

ऊपरी पेट का चित्र

फंसी हुई गैस

हर कोई गैस पैदा करता है; यह पाचन प्रक्रिया का एक प्राकृतिक उपोत्पाद है। कुछ लोग हालांकि दूसरों की तुलना में अधिक गैस का उत्पादन करते हैं।

कभी-कभी, यह अतिरिक्त गैस अटक सकती है और पेट दर्द का कारण बन सकती है। इसे 'ट्रैप्ड विंड’ कहा जाता है। यदि आप फंसे हुए गैस का अनुभव कर रहे हैं, तो आप भी इस तरह के लक्षण अनुभव कर सकते हैं:

  • एक फूला हुआ पेट
  • बार-बार गैस पास करना या ढ़कार लेना
  • खाने के बाद असहज महसूस होना
  • आपके पेट में गड़गड़ाहट या मरोड़ उठना
  • पेट में ऐंठन
  • जी मिचलाना

फंसी हुई हवा कई लोगों को प्रभावित करती है। कुछ लोगों के लिए यह कभी-कभार ही होता है, अगर वे अधिक लिप्त हो जाते हैं, लेकिन दूसरों के लिए यह एक दैनिक घटना है जो उनके जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती है।

अतिरिक्त गैस को कम करने के लिए इन खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें:

  • बीन्स
  • प्याज
  • ब्रोकोली
  • पत्ता-गोभी
  • अंकुरित अनाज
  • गोभी

धीरे-धीरे खाना भी सहायक हो सकता है, और भोजन करते समय बात करने से बचें। जब आप भोजन कर रहे हों तो यह आपको कम हवा निगलने में मदद करेगा। फ़िज़ी पेय की मात्रा को कम करें, और चूइंग गम्ज़ को चबाने से भी परहेज़ करें। इन सबसे अतिरिक्त गैस को रोकने में भी मदद मिल सकती है।

कुछ मामलों में, फंसी हुई हवा अधिक गंभीर स्थिति का संकेत हो सकती है जैसे कि सीलिएक रोग(coeliac disease), जो तब होता है जब आपका शरीर ग्लूटेन को नहीं सोख पाता है। यह एक खाद्य असहिष्णुता या इरिटबल बोवेल सिंड्रोम(irritable bowel syndrome) का संकेत भी हो सकता है।

चिंता कब करनी चाहिए

अगर आपको लगातार गैस की समस्या हो, तो आपको किसी भी गंभीर स्थिति से बचने के लिए डॉक्टर से मिलना चाहिए।

ऐसिड रीफ़्लक्स(Acid reflux)

एसिड रीफ़्लक्स एक सामान्य स्थिति है जो आपके गले के पीछे के हिस्से में दर्दनाक जलन पैदा कर सकती है। यह हार्ट बर्न, या सीने में जलन का कारण भी बन सकता है, जो आपके सीने के केंद्र में महसूस की जाने वाली जलन है।

एसिड रीफ़्लक्स के अन्य कम सामान्य लक्षण हैं:

  • लगातार खांसी या हिचकी
  • कर्कश आवाज
  • सांसों की बदबू
  • पेट फूल जाना
  • ऊबकायी

एसिड रिफ्लक्स तब होता है जब आपके पेट का एसिड आपकी अन्नप्रणाली(oesophagus) में प्रवाहित होता है, जिसके परिणामस्वरूप जलन होती है। यह सभी उम्र के लोगों को प्रभावित कर सकता है, और जीवन शैली के कारक जैसे अधिक मात्रा में भोजन करना से ऐसा हो सकता है। हालांकि कुछ कारण अज्ञात हैं।

आपको एसिड रिफ्लक्स का अनुभव होने की अधिक संभावना है, यदि आप:

  • अधिक वजन वाले हैं
  • सिगरेट पीते हैं
  • गर्भवती हैं
  • तनावग्रस्त या चिंतित रहते हैं
  • कुछ दवाएं ले रहे हैं जैसे आइबुप्रोफ़ेन
  • हेटस हर्निया से ग्रस्त हैं

आहार भी एसिड रीफ़्लक्स में भूमिका निभा सकते हैं, और निम्नलिखित खाद्य पदार्थ इस की संभावना को बढ़ा सकते हैं:

  • कैफीन
  • शराब
  • मसालेदार भोजन
  • चॉकलेट
  • गैस मिश्रित पेय
  • एसिडिक जूस

एसिड रीफ़्लक्स का प्उपचार करने के लिए, आप अपने आहार को बदलने और इन खाद्य पदार्थों से बचने पर विचार कर सकते हैं, या कोई भी अन्य जो आपकी स्थिति को बढ़ा सकता है।

कुछ अन्य उपयोगी सुझाव हैं:

  • छोटी मात्रा में भोजन करें, थोड़ी थोड़ी देर पर
  • अपनी छाती और सिर को अपनी कमर से ऊपर करके सोएं
  • यदि आप अधिक वजन वाले हैं, तो अपना वजन कम करें
  • धूम्रपान न करें
  • शराब का सेवन सीमित करें
  • बिस्तर पर जाने के 3-4 घंटे के भीतर खाना न खाएं

यदि ये परिवर्तन मदद नहीं करते हैं, तो कुछ अन्य उपचार हैं जिन पर आप विचार कर सकते हैं। किसी फार्मासिस्ट से बात करें, वो आपकी स्थिति के अनुसार किसी दवा का सुझाव देंगे, जैसे कि एंटासिड।

कब चिंता करे

आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए, यदि:

  • जीवनशैली में बदलाव और बिना डॉक्टर के पर्चे की दवा लेने के बावजूद लक्षण हैं
  • आप अपने लक्षणों को लेकर चिंतित हैं
  • तीन सप्ताह या उससे अधिक समय तक बार-बार हार्टबर्न होता है
  • निगलने में कठिनाई होने लगे
  • बिना किसी कारण के वजन कम हो
  • लगातार उल्टी या उल्टी में ख़ून आना
  • बार-बार खांसी या खाँसी में ख़ून आना
  • आवाज कर्कश हो जाना

पेट का अल्सर

पेट के अल्सर बेहद दर्दनाक हो सकते हैं और आपके पेट के केंद्र में तेज दर्द का कारण बन सकते हैं। आम तौर पर, कुछ लोगों में कम से कम लक्षण होते हैं और केवल सीने में जलन और रीफ़्लक्स जैसी चीजों का अनुभव करते हैं।

यदि आपको निम्नलिखित लक्षण हैं, तो आपके पेट में अल्सर हो सकता है:

  • पेट में जलन
  • ऊबकायी या उलटी
  • अपच
  • भूख की कमी

यह स्पष्ट नहीं है कि कितने लोग पेट के अल्सर से प्रभावित हैं, लेकिन वे काफी सामान्य हैं। किसी को भी ये प्रभावित कर सकते हैं, चाहे वे किसी भी उम्र या लिंग के हों, पर 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों में पेट के अल्सर सबसे आम हैं। पुरुष महिलाओं की तुलना में अधिक प्रभावित होते हैं।

पेट का अल्सर तब होता है जब आपके पेट की परत क्षतिग्रस्त हो जाती है, और वे बैक्टीरिया हेलिकोबैक्टर पाइलोरी(Helicobacter pylori) या इबुप्रोफेन या एस्पिरिन जैसे एंटी इंफ़्लामेटरी दवाओं को लेने के दुष्प्रभाव के कारण होते हैं।

यदि आपका पेट का अल्सर हेलिकोबैक्टर पाइलोर से होता है तो डॉक्टर आपको एंटीबायोटिक और PPI दे सकते हैं। इबूरोप्रोफ़ेन्न की जगह पैरसीटमॉल लेने की सलाह दी जा सकती है।

पेट के अल्सर आमतौर पर 1-2 महीने के बाद ठीक हो जाते हैं और उपचार की प्रक्रिया को तेज़ करने के लिए आपको इनसे बचने की कोशिश करनी चाहिए:

  • तनाव
  • मसालेदार भोजन
  • धूम्रपान

आप कुछ अल्पकालिक, तत्काल राहत प्रदान करने के लिए एक एंटासिड भी ले सकते हैं।

कब चिंता करे

यदि आप खून की उल्टी कर रहे हैं, या आपको अचानक, तेज पेट दर्द हो रहा हो, या आपका शौच गहरे रंग का और चिपचिपा हो, इन मामलों में तत्काल डॉक्टर से सलाह लें।

दिल का दौरा(एनजाइना)

दिल का दौरा एक मेडिकल इमरजेंसी है, इसलिए यदि आपको लगता है कि आपको दिल का दौरा पड़ रहा है, तो आपको तत्काल चिकित्सा की आवश्यकता है।

आमतौर पर, जिन लोगों को दिल का दौरा पड़ रहा है वे छाती में दर्द का अनुभव करते हैं। हालांकि कभी-कभी, लोग वास्तव में इसे ऊपरी पेट दर्द या असहजता के रूप में वर्णित करते हैं। दर्द जलन की तरह महसूस हो सकता है या आपकी छाती को किसी भारी चीज से दबाया या निचोड़ा जा रहा है। दर्द जबड़े, गर्दन या बाहों में भी जा सकता है।

इसके अलावा, दिल का दौरा पड़ने वाले व्यक्ति को निम्नलिखित लक्षणों का अनुभव हो सकता है:

  • सांस फूलना
  • पसीना आना
  • कमजोर और/या हल्का महसूस करना
  • उलटी अथवा मितली

दिल के दौरे आमतौर पर कोरोनरी हृदय रोग(coronary heart disease) के कारण होते हैं, जो तब होता है जब आपके दिल को रक्त की आपूर्ति करने वाले वाहिकाओं को कोलेस्ट्रॉल जमा से भरा होता है, जिसे आमतौर पर प्लाक़(plaque)के रूप में जाना जाता है। यदि प्लाक़ फट जाती है, तो यह दिल के रक्त की आपूर्ति को अवरुद्ध कर सकती है, जिससे दिल का दौरा पड़ता है।

यदि आपको हृदय रोग होने की संभावना अधिक है, यदि:

  • आप सिगरेट पीते हैं
  • आपको मधुमेह है
  • आपको हाई कोलेस्ट्रॉल है
  • उच्च रक्तचाप(high BP) हो
  • आप अधिक वजन या मोटापे से ग्रस्त हैं
  • आप उच्च वसा युक्त आहार ले रहे हों

दिल के दौरे से बचाव के लिए आपको चाहिए:

  • एक स्वस्थ और संतुलित आहार लें
  • धूम्रपान से बचें
  • अधिक वजन होने पर वजन कम करें
  • नियमित रूप से व्यायाम करें
  • शराब का सेवन कम करें

कब चिंता करे

यदि आप इन लक्षणों में से किसी भी दो का साथ में अनुभव करते हैं:

  • छाती में दर्द
  • सांस लेने में कठिनाई
  • कमजोर और/या चक्कर जैसा महसूस करना
  • घबराहट का एहसास होना

आपको दिल का दौरा पड़ सकता है और आपको तत्काल चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

पेट दर्द के सामान्य कारण

निचली पेट की तस्वीर

पीरीयड का दर्द

मासिक धर्म से पहले और उसके दौरान पीरियड का दर्द कई महिलाओं को प्रभावित करता है और हर कोई इसे अलग तरह से अनुभव करता है। यह एक कष्टप्रद, नीरस दर्द से लेकर अधिक गंभीर और दुर्बल दर्द तक हो सकता है।

पीरियड दर्द के दो प्रकार हैं: प्राथमिक कष्टार्तव और द्वितीयक कष्टार्तव(primary dysmenorrhea and secondary dysmenorrhea)।

यदि आप प्राथमिक कष्टार्तव के लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं जो पेट के निचले हिस्से में दर्द के अलावा ये हो सकते हैं:

  • थकान
  • ऊबकायी या उलटी
  • दस्त
  • पीठ दर्द
  • सिरदर्द
  • सूजन
  • भावनात्मक लक्षण

यदि आपका मासिक दर्द माध्यमिक कष्टार्तव के कारण होता है, तो आप ये भी अनुभव कर सकते हैं:

  • भारी या अनियमित पीरियड्स
  • ब्लीडिंग बीच-बीच में
  • आपकी योनि से असामान्य स्राव होना
  • सेक्स के बाद दर्द या खून बहना

प्राथमिक डिस्मेनोरिया दर्द का एक प्रकार है जिसे आप आमतौर पर मासिक धर्म के साथ जोड़ते हैं। यह आमतौर पर आपकी पहली अवधि के 6-12 महीनों के भीतर शुरू होता है और दर्द आठ घंटे और तीन दिनों के बीच रहता है।

जबकि, सेकंडेरी डिसमेनोरिया एक विशेष स्थिति जैसे एंडोमेट्रियोसिस के कारण होने वाला पीरियड दर्द है। इस तरह का दर्द आपके 30 और 40 की उम्र के आसपास अधिक आम है और यह आपके मासिक चक्र के दौरान किसी भी समय हो सकता है।

दर्दनाक पिरीयड्ज़ का इलाज करने के लिए आपको यह जानने की जरूरत है कि दर्द का कारण क्या है, अगर यह प्राथमिक कष्टार्तव है तो आपको दर्द निवारक और कुछ घरेलू उपचारों के साथ इसका इलाज करने में सक्षम होना चाहिए:

  • हीट - या तो हीट पैच या गर्म पानी की बोतल के साथ
  • एक ट्रांसक्यूटेनस इलेक्ट्रिकल नर्व स्टिमुलेशन(TENS) मशीन को पास रखा जाता है जहाँ आपको दर्द महसूस होता है। यह विद्युत संकेतों को भेजने में मदद कर सकता है, जो कि आपके मस्तिष्क को भेजे जाने वाले दर्द संकेतों को बाधित करने के लिए सोचा जाता है।
  • धूम्रपान न करें, यदि आप ऐसा करते हैं तो छोड़ दें
  • कुछ शारीरिक गतिविधि करना

यदि आपको सेकंडेरी डिसमेनोरिया है, तो डॉक्टर यह पता लगाने की कोशिश करेंगे कि आपके लक्षणों का क्या कारण है और उपचार विकल्पों पर चर्चा करेंगे।

कब चिंता करे

यदि आपको गंभीर दर्द होता है या यदि आपके पिरीयड्ज़ में अचानक बदलाव आता है, उदाहरण के लिए यदि वे सामान्य से अधिक भारी या अनियमित हो जाते हैं।

यदि आपको सेकेण्डरी डेसेमेनोर्रिया के लक्षण हैं, जैसे कि तेज़ दर्द या भारी पिरीयड होना, तब भी डॉक्टर से मिलें।

कब्ज़

जितना आप सोच सकते हैं, क़ब्ज़ उससे ज़्यादा सामान्य समस्या है। कई मामलों में, कब्ज आपके द्वारा खाया गया खाना, आपकी जीवन शैली, दवा, या किसी स्थिति के कारण होता है। लेकिन कुछ लोगों के लिए उनकी कब्ज का कारण पता नहीं होता है और इसे क्रॉनिक इडीओपैथिक कॉन्स्टिपेशन(chronic idiopathic constipation) कहा जाता है।

आपको कब्ज़ होने की संभावना है अगर:

  • आपने एक सप्ताह में कम से कम 3 बार शौच नहीं किया
  • आपके लिए शौच करना मुश्किल और तनावपूर्ण है
  • आपका शौच सामान्य से बड़ा है
  • आपका शौच सूखा, कठोर या गांठदार है

इन लक्षणों के साथ साथ कब्ज से पेट की सूजन और दर्द सहित अन्य अप्रिय दुष्प्रभाव हो सकते हैं। ये लक्षण आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं, लेकिन कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे आप घर पर ही कब्ज से राहत पा सकते हैं।

आप अपने आहार में कुछ सरल बदलाव करके शुरू कर सकते हैं। उदाहरण के लिए आप इन बातों की कोशिश कर सकते हैं:

  • अधिक पानी और कम शराब पीना
  • फाइबर का सेवन अधिक करना
  • अपने आहार में कुछ गेहूं की भूसी, जई या लिन्सीड शामिल करें

आप अपनी गतिविधियों को बढ़ा सकते हैं और शौचालय जाने की दिनचर्या बना सकते हैं। उदाहरण के लिए, नियमित समय पर शौचालय जाएं और यदि आपको जाने की आवश्यकता महसूस हो, तो ज़रूर जाएँ। जब आप शौचालय में होते हैं, तो आप अपने पैरों को एक छोटे स्टूल पर रखने की कोशिश कर सकते हैं, आदर्श रूप से आपके घुटने आपके कूल्हे से ऊपर होने चाहिए।

यदि ये परिवर्तन किसी फार्मासिस्ट से बात करने में मदद नहीं करते हैं और वे आपको कोई लैक्सटिव दे सकते हैं, जिसे तीन दिनों के भीतर काम करना चाहिए। हालांकि वे दीर्घकालिक उपयोग के रूप में उपयुक्त नहीं हैं।

कब चिंता करे

डॉक्टर से सम्पर्क करें यदि:

  • आप अपने आहार में बदलाव के बाद भी सुधार नहीं कर रहे हैं
  • आप नियमित रूप से कब्ज महसूस करते हैं
  • आप अक्सर पेट फूला हुआ महसूस करते हैं
  • आपके शौच में ख़ून नज़र आए
  • अप्रत्याशित रूप से वजन कम हो
  • हर समय थकान महसूस कर रहे हों

यूटीआई(UTI)

यूटीआई काफी सामान्य हैं, पुरुष और महिला दोनों इससे संक्रमित हो सकते हैं, पर महिलाओं में ये अधिक होता हैं।

अच्छी खबर यह है कि यदि शुरुआत में ही यूटीआई का इलाज हो जाए को ये समस्या उतनी गम्भीर नहीं होती। अगर आपको लगता है कि आपको यूटीआई होने की सम्भावना है, तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए, वो इलाज में सामान्यतः एंटीबायोटिक्स देंगे जो संक्रमण को साफ कर देगा।

हालांकि, अगर एक यूटीआई बिना इलाज के छोड़ दिया जाए तो यह गुर्दे में फैल सकता है, और इस स्थिति में संक्रमण अधिक गंभीर हो सकता है।

यूटीआई के लक्षणों में शामिल हैं:

  • सामान्य से अधिक या अचानक पेशाब करने की आवश्यकता महसूस होना
  • पेशाब करते समय दर्द या जलन होना
  • बदबूदार या धुँधला पेशाब
  • पेशाब में खून आना
  • आपके निचले पेट में दर्द
  • थकान और अस्वस्थ महसूस करना
  • वृद्ध लोगों में भ्रम या आंदोलन जैसे चिड़चिड़ापन जैसे परिवर्तन

कोई भी यूटीआई के अप्रिय लक्षणों का अनुभव नहीं करना चाहता है, हर समय इससे बचाव करना संभव नहीं है पर कुछ ऐसी चीजें हैं जो आप उनकी संभावना को कम करने के लिए कर सकते हैं।

जिनमें ये शामिल है:

  • टॉयलेट जाते समय आगे से पीछे की ओर पोंछना
  • सुनिश्चित करना कि आप पेशाब करते समय अपने मूत्राशय(bladder) को पूरी तरह से खाली कर रहे हैं
  • अधिक पानी पीना
  • टब में नहाने की जगह शावर लेना
  • ढीले सूती अंडरवियर पहने
  • सेक्स के बाद जितनी जल्दी हो सके पेशाब करना

इन चीज़ों का ध्यान रखें:

  • सुगंधित बबल बाथ, साबुन या टैल्कम पाउडर का प्रयोग ना करें
  • जब भी पेशाब करने की ज़रूरत हो उसे ना रोकें
  • नायलॉन जैसे टाइट, सिंथेटिक अंडरवियर ना पहनें
  • टाइट जींस या ट्राउजर पहनने से बचें
  • शुक्राणुनाशक चिकनाई का उपयोग करने से बचें, गैर-शुक्राणुनाशक चिकनाई या एक अलग प्रकार का गर्भनिरोधक आज़माएं जिसके लिए शुक्राणुनाशक की आवश्यकता नहीं है

यूटीआई को रोका जा सकता है और ज़्यादातर मामलों में आसानी से इलाज किया जा सकता है। लक्षणों को जानने और जल्दी से उपचार प्राप्त करने से किडनी संक्रमण जैसे कुछ और गंभीर होने से रोकने में मदद मिल सकती है।

कब चिंता करे

आपको डॉक्टर को देखना चाहिए अगर आपको लगता है कि आपको यूटीआई के लक्षण हैं और आप पुरुष हैं या आप गर्भवती हैं। आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए अगर:

  • आपको पहली बार UTI हुआ है
  • आपके पेशाब में खून है
  • आपके लक्षण कुछ दिनों में नहीं सुधरते हैं
  • आपके लक्षण इलाज के बाद वापस आते हैं

आपको तत्काल उपचार कराना चाहिए, अगर:

  • कमर या पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो
  • बुखार हो, गर्माहट महसूस हो या फिर कंपकपी महसूस हो
  • आप बीमार महसूस करते हैं
  • दस्त हो रहा हो

दाहिनी तरफ़ होने वाले पेट दर्द के सामान्य कारण

उदर के दाहिने भाग की छवि

पित्त पथरी(Gallstones)

पित्ताशय की पथरी वयस्कों में बेहद आम है और वेस्टर्न हैमिसफ़ेयर में लगभग 25% लोग उन्हें अनुभव करते हैं। वे छोटे पत्थर हैं - रेत के दाने से लेकर गोल्फ़ बॉल के आकार तक, जो आपके गॉल ब्लैडर में विकसित होते हैं, और सामान्यतः कोलेस्ट्रोल से बने होते हैं।

पित्ताशय की पथरी वाले सभी लोगों में इसके लक्षण नहीं होंगे, लेकिन जिन लोगों को ये दर्द करते हैं उनके लिए यह सबसे आम है। यह पेट के ऊपरी दाएँ पक्ष में उत्पन्न होता है, और यह आपके दाहिने कंधे के ब्लेड की नोक तक फैल सकता है।

अधिक गंभीर मामलों में आपको भी हो सकते हैं:

  • ऊबकायी आना
  • उलटी करना
  • उच्च तापमान या बुखार
  • कांपना और पसीना आना
  • लगातार दर्द का अनुभव
  • दिल की धड़कन तेज होना
  • त्वचा का पीलापन और आंखों का सफेद होना
  • त्वचा पर खुजली
  • दस्त होना
  • भ्रमित होना
  • भूख कम लगना

पित्ताशय की पथरी आमतौर पर तब बनती है जब आपके पित्ताशय में कोलेस्ट्रॉल, या बिलीरुबिन जो की एक अतिरिक्त या वेस्ट प्रोडक्ट है, के सामान्य रूप से काफ़ी ऊँचे स्तर हो जाएँ। हालांकि कुछ कारण अज्ञात भी होते हैं।

यह माना जाता है कि स्वस्थ और संतुलित आहार लेने से पित्त पथरी को बनने से रोकने में मदद मिल सकती है। यदि आप चिंतित हैं कि आपको पित्ताशय की पथरी हो सकती है, तो आपको सीधे अपने डॉक्टर के साथ अपॉइंटमेंट बुक करना चाहिए। वे जाँच कर सकेंगे कि आपको ये पथरी है या नहीं, और होने की स्थिति में इलाज करने में आपकी मदद करेंगे।

उपचार कई चीजों पर निर्भर करता है जैसे कि आपके द्वारा अनुभव किए गए लक्षण या जटिलताएं। इसमें किसी भी लक्षण, आहार परिवर्तन, पित्ताशय को नष्ट करने की दवाएं या सर्जरी के माध्यम से पित्ताशय की थैली को हटाने की एक प्रक्रिया या एक इंडोस्कोपिक प्रतिगामी कोलेजनियो-पैन्क्रियाग्राफी(ईआरसीपी) प्रक्रिया शामिल हो सकती है।

चिंता कब करें

यदि आप किसी भी अधिक गंभीर लक्षण का अनुभव करते हैं, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक करना चाहिए। आपके लक्षणों की गंभीरता और तीव्रता के आधार पर उपचार के विभिन्न विकल्प उपलब्ध हैं।

एपेंडिसाइटिस(Appendicitis)

एपेंडिसाइटिस अपेक्षाकृत आम है, और यह 13 लोगों में से लगभग 1 को अपने जीवनकाल में किसी एक बार प्रभावित करता है। यह किसी भी उम्र में हो सकता है लेकिन यह 10 और 20 वर्ष की आयु के बीच अधिक सामान्य है।

एपेंडिसाइटिस सामान्य पेट दर्द का कारण बनता है जो आता है और चला जाता है, लेकिन कुछ घंटों के भीतर दर्द आमतौर पर आपके पेट के निचले दाहिने हिस्से में जाता है, जहां यह निरंतर और अधिक गंभीर होता है। दर्द आमतौर पर खांसी या चलने से बदतर हो जाता है।

अन्य लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

  • ऊबकायी या उलटी
  • भूख की कमी
  • दस्त
  • उच्च तापमान और चेहरा लाल होना

अपेंडिक्स का हमारे शरीर में वास्तव में कोई कार्य नहीं होता, पर ये सूज सकता है। एपेंडिसाइटिस को हटाने से कोई भी दीर्घकालिक समस्या नहीं होती है, इसीलिए इसके इलाज में सर्जिकल तरीक़े से इसे हटाना शामिल है, सही समय पर।

आदर्श रूप से एक सर्जन फटने से पहले सूजे हुए अपेंडिक्स को हटा देगा, आपके पेट के बाकी हिस्सों में संक्रामक द्रव फैलने से पहले। यह महत्वपूर्ण है कि आप किसी डॉक्टर से मिलें यदि आपको संदेह है कि आपको एपेंडिसाइटिस है।

कब चिंता करे

पेट दर्द जो धीरे-धीरे और बढ़ रहा हो वह कई अलग-अलग स्थितियों का संकेत हो सकता है, इसके बावजूद कि इन लक्षणों का कुछ भी कारण हो सकता है, आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए या बात करनी चाहिए।

इसके अलावा, अगर आपको अचानक तेज दर्द होता है जो आपके पेट में फैलता है, तो आपको एम्बुलेंस को कॉल करना चाहिए, क्योंकि इससे संकेत मिल सकता है कि आपका अपेंडिक्स फट गया है। एक फट परिशिष्ट पेरिटोनिटिस का कारण बन सकता है, जो पेट के अंदरूनी अस्तर का एक संक्रमण है, और यह बहुत गंभीर हो सकता है।

बाइँ तरफ़ के पेट दर्द के सामान्य कारण

पेट के बायीं ओर की छवि

गुर्दे की पथरी और गुर्दे में संक्रमण(Kidney stones and kidney infections)

गुर्दे की पथरी या किडनी में संक्रमण से आपके पेट के बाएं या दाएं हिस्से में बहुत दर्द हो सकता है। आपकी किडनी आपकी रीढ़ के प्रत्येक तरफ आपके रिबकेज़ के नीचे स्थित होती है, और वे आपके शरीर से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थ निकालती हैं.

गुर्दे की पथरी अपेक्षाकृत सामान्य है, और 20 पुरुषों में लगभग 3, और 20 महिलाओं में 2 को प्रभावित करती है, और आमतौर पर 30-60 वर्ष की आयु के लोग प्रभावित होते हैं।

गुर्दे की पथरी और गुर्दे में संक्रमण के लक्षण हैं:

  • आपके बाएं और/या दाएं पेट में दर्द, पीठ के निचले हिस्से में या आपके जननांगों के आसपास दर्द
  • बुखार, कंपकंपी या ठंड लगना
  • कमजोरी या थकान महसूस होना
  • भूख कम लगना
  • ऊबकायी का उलटी

सभी गुर्दे की पथरी के लक्षण नहीं होते हैं, लेकिन बड़े पत्थर, या जो आपके मूत्रवाहिनी को अवरुद्ध करते हैं(ट्यूब जिससे मूत्र गुर्दे से मूत्राशय तक जाता है), उनसे ये लक्षण हो सकते हैं:

  • लगातार कमर दर्द और कभी-कभी पेट और जाँघ के बीच दर्द(पुरुषों के अंडकोष में दर्द हो सकता है)
  • आपकी पीठ या आपके पेट के किनारों पर तेज दर्द जो मिनटों या घंटों तक रह सकता है
  • बेचैनी महसूस होना
  • सामान्य से अधिक बार पेशाब करना
  • पेशाब करते समय दर्द होना
  • आपके पेशाब में खून आना

गुर्दे की पथरी आपके मूत्र में कुछ लवण(salt० या खनिज(minerals) के निर्माण से बनती है। अधिकांश गुर्दे की पथरी अपने आप ही निकल जाएगी और आप बहुत सारा पानी पीकर इसे बाहर निकालने में मदद कर सकते हैं। यदि आप बहुत दर्द में हैं या आपको ऊबकायी आ रही है, तो डॉक्टर आपको मतली की दवा और कुछ दर्द निवारक दे सकते हैं।

कभी-कभी आपको अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होती है क्योंकि आपकी गुर्दे की पथरी अपने आप बाहर निकालने के लिए बहुत बड़ी है, या यह आपके मूत्रवाहिनी में चली गई है और गंभीर दर्द और संभावित जटिलताओं का कारण बन रही है।

अस्पताल में गुर्दे की पथरी को छोटे टुकड़ों में तोड़ने के लिए या इसे मैन्युअल रूप से हटाने के लिए विभिन्न उपचार उपलब्ध हैं।

गुर्दे की पथरी होने की संभावनाओं को कम करने के लिए आपको अपने डॉक्टर से मिलकर उनके कारण का पता लगाना चाहिए, और फिर उसके अनुसार अपने कार्यों को अनुकूलित करना चाहिए। शरीर में बेकार पदार्थों के निर्माण को रोकने के लिए हाइड्रेटेड रहना(पानी पीना) हमेशा मददगार होता है।

कब चिंता करें

अधिकांश किडनी की पथरी को बिना मेडिकल उपचार के हल कर दिया जाता है, लेकिन डॉक्टर को दिखाना चाहिए, यदि:

  • आपको बुखार है, कंपकंपी शुरू हो जाए या आप हिलने लगें
  • दर्द अचानक और गंभीर रूप से बढ़ जाए

डायवर्टीकुलिटिस(Diverticulitis)

डायवर्टीकुलिटिस एक संक्रमण है जो डायवर्टिकुलर रोग के बाद हो सकता है। डायवर्टिकुला छोटे उभार को कहते हैं जो बड़ी आंत के किनारे विकसित होकर चिपक सकता है।

डायवर्टिकुला वाले लोगों में शायद ही कभी लक्षण होंगे, जब तक कि छोटे उभार में सूजन या संक्रमण नहीं हो जाता। यह डायवर्टीकुलिटिस के रूप में जाना जाता है।

डायवर्टीकुलिटिस के लक्षण:

  • लगातार, गंभीर पेट दर्द
  • बुखार
  • ऊबकायी या उल्टी
  • थकान महसूस करना
  • आपके शौच में खून आना या आपको नीचे से खून बहना

ये लक्षण डायवर्टिकुलर रोग से भिन्न होते हैं जो आमतौर पर होता है:

  • निचले बाएँ तरफा पेट दर्द जो आता है और चला जाता है और खाने के बाद खराब हो सकता है
  • फूला हुआ महसूस होना
  • कब्ज, दस्त या दोनों
  • शौच में बलगम

डायवर्टीकुलर बीमारी का कोई ठोस कारण नहीं है लेकिन इसे उम्र, आहार, जीवनशैली और आनुवांशिकी से जोड़ा गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि आप अधिक उम्र के होने के साथ डायवर्टिकुलर रोग विकसित करने की अधिक संभावना रखते हैं, सबसे अधिक संभावना है क्योंकि आपकी आंतों की दीवारें मजबूत नहीं हैं और इसलिए कठोर मल के दबाव से छोटे उभार, या पॉकेट्स बन सकते हैं।

अन्य संदिग्ध कारण हैं:

  • आहार में फाइबर की कमी
  • धूम्रपान
  • मोटापा
  • बार-बार कब्ज होना
  • इबुप्रोफेन और एस्पिरिन जैसे दर्द निवारक दवाओं का ज़्यादा प्रयोग
  • आनुवांशिकी - आपके पास बीमारी होने की संभावना अधिक है यदि किसी रिश्तेदार को ये बीमारी थी या है, खासकर 50 की उम्र से पहले

डायवर्टिकुलर बीमारी का उपचार आमतौर पर आपके आहार में अधिक फाइबर को शामिल करके आहार परिवर्तन के साथ किया जा सकता है। आहार के अलावा डॉक्टर आपको कुछ दवाएँ लिख सकते हैं जैसे कब्ज या दस्त के लक्षणों को कम करने में मदद करने के लिए एक बल्क फ़ोर्मिंग लैक्सटिव(bulk-forming laxative)। आपको दर्द निवारक भी दिया जा सकता है।

यदि आपको डायवर्टीकुलिटिस है, तो गंभीरता के आधार पर या तो आपको एंटीबायोटिक्स दिया जाएगा या आपको अस्पताल में उपचार करने की आवश्यकता होगी। अस्पताल में उपचार में इंट्रावेनस एंटीबायोटिक्स(intravenous antibiotics) और तरल पदार्थ शामिल हो सकते हैं, लेकिन अधिक गंभीर मामलों में आपको सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।

कब चिंता करे

यदि आपको किसी बीमारी के लक्षण हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए, और अगर आपको रक्तस्राव या गंभीर दर्द हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

निष्कर्ष

गैस्ट्रोएंटेराइटिस के अपेक्षाकृत हल्के मामलों से लेकर अपेंडिसाइटिस जैसी गंभीर बीमारियों तक, पेट की दर्द कई अलग-अलग स्थितियों के कारण हो सकता है। कई मामलों में, पेट का दर्द अपने आप हल हो जाएगा लेकिन अगर आप अपने दर्द के बारे में चिंतित हैं, तो आपको जल्द से जल्द एक डॉक्टर से मिलना चाहिए।

वे किसी गंभीर चिकित्सा स्थिति की जांच करने में सक्षम होंगे, और आपको अपने दर्द को प्रबंधित करने में मदद करेंगे।

आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए यदि आपका दर्द बहुत अचानक और तीव्र है, या:

  • आपके पेट को छूने में दर्द होता है
  • आप खून की उल्टी कर रहे हैं या आपकी उल्टी ग्राउंड कॉफी की तरह दिख रही है
  • शौच में ख़ून आ रहा हो
  • शौच काला, चिपचिपा और बेहद बदबूदार है
  • आप पेशाब नहीं कर पा रहे
  • आप शौच या गैस पास नहीं कर पा रहे
  • आप सांस नहीं ले पा रहे
  • आपको सीने में दर्द है
  • आपको मधुमेह है और उल्टी कर रहे हैं
  • कोई बेहोश हो गया हो
Your.MD द्वारा लिखा गया कॉंटेंटYOURMD लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

आगे क्या पढ़ें
अप्पेंडिसाइटिस
अप्पेंडिसाइटिस एक सूजा हुआ अपेंडिक्स है जिससे अत्यंत बढ़ता हुआ पेट दर्द होता है। तुरन्त सर्जरी उपचार है।