6 min read

एंटिहिस्टामाइन्स

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

Feeling unwell?

Try our Smart Symptom Checker, which is trusted by millions.

एंटीहिस्टामाइन वे दवाएं हैं जिनका उपयोग अक्सर एलर्जी के लक्षणों को दूर करने के लिए किया जाता है, जैसे हे फीवर, पित्ती(hives), नेत्रशोथ (conjunctivitis) और कीड़े के काटने या डंक के प्रति प्रतिक्रिया।

उन्हें कभी-कभी मोशन सिकनेस को रोकने के लिए और नींद सम्बंधी कठिनाइयों (अनिद्रा) के लिए एक अल्पकालिक उपचार के रूप में भी उपयोग किया जाता है।

अधिकांश एंटीहिस्टामाइन फार्मेसियों और दुकानों से खरीदे जा सकते हैं, लेकिन कुछ केवल डॉक्टर की पर्ची पर उपलब्ध हैं।

इस पृष्ठ में शामिल हैं:

  • एंटीहिस्टामाइन के प्रकार
  • उन्हें कैसे लें
  • दुष्प्रभाव
  • उन्हें अन्य दवाओं, भोजन या शराब के साथ लेना
  • उन्हें कौन ले सकता है - गर्भावस्था सलाह सहित
  • वे कैसे काम करते हैं

एंटीहिस्टामाइन के प्रकार

एंटीहिस्टामाइन कई प्रकार के होते हैं।

वे आम तौर पर दो मुख्य समूहों में विभाजित होते हैं:

  • पुराने एंटीहिस्टामाइन जिनसे आपको नींद आती है - जैसे क्लोरफेनमाइन, हाइड्रॉक्सीज़ाइन और प्रोमेथाज़िन
  • नई, गैर-नींद वाली एंटीथिस्टेमाइंस जिससे आपको नींद आने की संभावना कम होती है - जैसे कि सेटीरिज़िन, लॉराटाडाइन और फ़ेक्सोफेनाडाइन

वे कई अलग-अलग रूपों में भी आते हैं - जिनमें टैबलेट, कैप्सूल, तरल पदार्थ, सिरप, क्रीम, लोशन, जैल, आई ड्रॉप और नेजल स्प्रे शामिल हैं।

कौन सा प्रकार सबसे अच्छा है?

एलर्जी के लक्षणों से राहत पाने के लिए कोई विशेष एंटीहिस्टामाइन किसी अन्य से बेहतर है, यह सुझाव देने के लिए बहुत अधिक साक्ष्य उपलब्ध नहीं हैं।

कुछ लोग पाते हैं कि कुछ प्रकार उनके लिए अच्छे हैं और अन्य नहीं। आपके लिए कौन सा प्रकार अच्छा है ये पता करने के लिए आपको एक से अधिक प्रकार के इस्तेमाल करने की आवश्यकता हो सकती है।

नॉन -ड्राउज़ी यानी बग़ैर नींद लाए कार्य करने वाले एंटीहिस्टामाइन आमतौर पर सबसे अच्छा विकल्प होते हैं, क्योंकि उनसे आपको नींद आने की संभावना कम होती हैं। लेकिन वे प्रकार जो आपको नींद का अनुभव कराते हैं, बेहतर हो सकते हैं यदि आपके लक्षण आपकी नींद को प्रभावित करते हैं।

सलाह के लिए फार्मासिस्ट से पूछें अगर आप अनिश्चित हैं कि कौन सी दवा आपके लिए ठीक रहेगी। सभी एंटीहिस्टामाइन सभी के लिए उपयुक्त नहीं हैं - अधिक जानकारी के लिए देखें कि एंटीहिस्टामाइन कौन ले सकता है।

एंटीहिस्टामाइन कैसे लें

अपने फार्मासिस्ट या डॉक्टर की सलाह के अनुसार या इसके साथ आने वाले लीफलेट में बताए अनुसार अपनी दवा लें।

एंटीहिस्टामाइन लेने से पहले, आपको पता होना चाहिए:

  • इसे कैसे लें - इसमें शामिल है कि इसे पानी या भोजन के साथ लेने की आवश्यकता है, या इसे सही तरीके से कैसे उपयोग किया जाए (यदि आई ड्रॉप या नाक स्प्रे)
  • कितना लेना है (खुराक) - यह आपकी उम्र और वजन जैसी चीजों के आधार पर भिन्न हो सकता है
  • इसे कब लेना है - इसमें शामिल है कि आप इसे दिन में कितनी बार ले सकते हैं और कब ले सकते हैं (पुराने प्रकार सोने से पहले लेना चाहिए)
  • इसे कितने समय तक लेना है - कुछ प्रकार लंबे समय तक उपयोग किए जा सकते हैं, लेकिन कुछ केवल कुछ दिनों के लिए अनुशंसित होते हैं
  • यदि आप एक खुराक लेना चूक जाते हैं या बहुत अधिक मात्रा में लेते हैं तो क्या करें (अधिक मात्रा में)

आपके द्वारा ली जा रही दवा के आधार पर सलाह भिन्न होते है। यदि आप सुनिश्चित नहीं हैं कि अपनी दवा कैसे लें, तो अपने फार्मासिस्ट से पूछें।

एंटीहिस्टामाइन के दुष्प्रभाव

सभी दवाओं की तरह, एंटीहिस्टामाइन दुष्प्रभाव पैदा कर सकते हैं।

पुराने प्रकार के एंटीथिस्टेमाइंस के दुष्प्रभाव शामिल हो सकते हैं:

  • तंद्रा (उनींदापन) और कम समन्वय, प्रतिक्रिया और निर्णय लेने में समस्या होना, इस जोखिम के कारण इन एंटीहिस्टामाइन को लेने के बाद वाहन न चलाएं या मशीनरी का उपयोग न करें
  • मुंह सूखना
  • धुंधली दृष्टि
  • अपने मूत्राशय को खाली करने में कठिनाई

नॉन -ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन के साइड इफेक्ट्स में शामिल हो सकते हैं:

  • सरदर्द
  • मुंह सूखना
  • उबकाई आना
  • उनींदापन - यह पुराने प्रकार के एंटीहिस्टामाइन की तुलना में कम आम है

संभावित दुष्प्रभावों की पूरी सूची और चिकित्सा सहायता कब लेनी है, इस बारे में सलाह के लिए अपनी दवा के साथ आने वाले दिशानिर्देशों की जाँच करें।

यदि आपको लगता है कि आपकी दवा के कारण कोई अवांछित दुष्प्रभाव हुआ है, तो आप यूके में येलो कार्ड योजना के माध्यम से इसकी रिपोर्ट कर सकते हैं।

अन्य दवाओं, भोजन या शराब के साथ एंटीहिस्टामाइन लेना

यदि आप पहले से ही अन्य दवाएं ले रहे हैं तो एंटीहिस्टामाइन लेने से पहले फार्मासिस्ट या अपने डॉक्टर से बात करें।

एक जोखिम हो सकता है कि दवाएं एक दूसरे को प्रभावित कर सकती हैं, जो या तो ठीक से काम करना बंद कर सकती हैं या साइड इफेक्ट के जोखिम को बढ़ा सकती हैं।

दवाओं के उदाहरण जो एंटीहिस्टामाइन के साथ लेने पर समस्या पैदा कर सकते हैं, उनमें कुछ प्रकार शामिल हैं:

  • एंटीडिप्रेसन्ट
  • पेट का अल्सर या गैस्ट्रो-ओओसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GORD) की दवाएं
  • खांसी और सर्दी के उपचार जिनमें एंटीहिस्टामाइन भी होता है

एंटीहिस्टामाइन लेते समय शराब से परहेज़ करना बेहतर है, खासकर यदि आप पुराने प्रकार के एंटीहिस्टामाइन ले रहे हैं, क्योंकि इससे आपको नींद आने की संभावना बढ़ सकती है।

भोजन और अन्य पेय अधिकांश एंटीहिस्टामाइन को प्रभावित नहीं करते हैं, लेकिन यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी दवा के साथ आने वाले पत्रक की जांच करें।

एंटीहिस्टामाइन कौन ले सकता है

अधिकांश लोग सुरक्षित रूप से एंटीहिस्टामाइन ले सकते हैं।

लेकिन सलाह के लिए किसी फार्मासिस्ट या अपने डॉक्टर से बात करें यदि आप:

  • गर्भवती हैं - गर्भावस्था में हे फीवर की दवाएं लेने के बारे में पढ़ें
  • स्तनपान करा रही हैं - स्तनपान के दौरान हे फीवर की दवाएं लेने के बारे में पढ़ें
  • एक छोटे बच्चे के लिए दवा की तलाश कर रहे हैं
  • अन्य दवाएं ले रहे हैं - अन्य दवाओं के साथ एंटीहिस्टामाइन लेने के बारे में पढ़ें
  • किसी अंदरूनी बीमारी से ग्रस्त हैं, जैसे हृदय रोग, यकृत रोग , गुर्दे की बीमारी या मिर्गी

कुछ एंटीहिस्टामाइन इन मामलों में उपयुक्त नहीं हो सकते हैं। आपका फार्मासिस्ट या डॉक्टर आपके लिए सबसे अच्छा सुझाव दे सकते हैं।

दवा लेने या अपने बच्चे को देने से पहले यह जाँचने के लिए कि यह आपके लिए सुरक्षित है, हमेशा अपनी दवा के साथ आने वाले पत्रक को पढ़ें।

एंटीहिस्टामाइन कैसे काम करते हैं

एंटीहिस्टामाइन आपके शरीर में कोशिकाओं को प्रभावित करने वाले हिस्टामाइन नामक पदार्थ को रोककर काम करते हैं।

हिस्टामाइन एक रसायन है जो तब निकलता है जब शरीर किसी हानिकारक चीज का पता लगाता है, जैसे संक्रमण। इससे रक्त वाहिकाओं का विस्तार होता है और त्वचा सूज जाती है (इन्फ़्लमेशन के रूप में जानी जाती है), जो शरीर की रक्षा करने में मदद करती है।

लेकिन एलर्जी से ग्रस्त लोगों में, शरीर कुछ हानिरहित चीज़ों, जैसे पराग(pollen), को गलती से ख़तरा समझ लेता है। इसके बाद यह हिस्टामाइन पैदा करता है, जो रैशेज, नाक बहना और/या छींकने जैसे लक्षण पैदा करता है।

एंटीहिस्टामाइन ऐसा होने से रोकने में मदद करते हैं यदि आप उन्हें उस पदार्थ के संपर्क में आने से पहले लेते हैं जिससे आपको एलर्जी है। या बाद में लेने पर वे लक्षणों की गंभीरता को कम कर सकते हैं।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।