COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
23rd June, 20206 min read

एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines): क्या उपलब्ध है और इसके दुष्प्रभाव क्या हैं?

Medical Reviewer: Healthily's medical team
Author: Alex Bussey
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Alex Bussey द्वारा लिखा गया है और Healthily's medical team ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines), दवाइयों का एक समूह है जो अक्सर हे फीवर (hay fever), पित्ती (hives), एक्जिमा (eczema) या एलर्जी के कारण होने वाले नेत्रशोथ (allergic conjunctivitis) जैसी एलर्जी स्थितियों का प्रबंधन करने हेतु उपयोग की जाती हैं।

इनका उपयोग, मोशन सिकनेस (motion sickness), मतली (nausea) और कीट के काटने (insect bites) वाले लक्षणों से राहत दिलाने के लिए भी किया जाता है।

एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines), हिस्टामाइन (histamine) के प्रभाव को अवरुद्ध करके काम करते हैं - यह एक रसायन जो आपकी रक्त वाहिकाओं (blood vessels) को अधिक सफेद रक्त कोशिकाओं (जो संक्रमण से बचाती हैं) को प्रभावित क्षेत्र तक पहुंचने की अनुमति देकर आपके शरीर को संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

हालांकि, कुछ हानिकारक कारकों जैसे - पराग या घर की धूल के संपर्क में आने पर हिस्टामाइन रिलीज होने से लोगों को एलर्जी हो जाती है, क्योंकि ये कारक एलर्जी को बढ़ाने में ट्रिगर का काम करते हैं जिसके फलस्‍वरूप गले, आंख, फेफड़ों, साइनस (sinuses), पाचन तंत्र (digestive system) या त्वचा में जलन पैदा हो सकती है।

एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines) लेने से राहत मिलती है, लेकिन आप सोच रहे होंगे कि इनमें से कौन सी दवा बेहतर रहेगी, क्‍योंकि ये भिन्‍न प्रकार की होती हैं।

कितने प्रकार के एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines) होते हैं?

एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines) को मुख्‍यत: दो श्रेणियों में बांटा गया है:

  • सिडेटिंग एंटीहिस्टामाइन (Sedating Antihistamines)
  • गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन (Non-drowsy Antihistamines)

सिडेटिंग एंटीहिस्टामाइन, ख़हों और दिमाग़ के अवरोध को पार करने में सक्षम है और इससे आपको नींद आती है क्योंकि ये आपके समन्वय, गतिशीलता और ध्यान को प्रभावित करता है।

गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन आपके ब्रेन में प्रवेश करते हैं लेकिन इसके सेवन से नींद कम आती है।

एंटीहिस्टामाइन के दोनों प्रकार, फार्मेसियों पर उपलब्ध होते हैं, और सामान्यतः: से विभिन्न रूपों में पाई जाती हैं जिनमें टेबलेट, कैप्सूल, सिरप, आई ड्रॉप और नाक स्प्रे शामिल हैं। कुछ एंटीहिस्टामाइन खरीदने के लिए आपको डॉक्टर के पर्चे की आवश्यकता पड़ सकती है।

आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले एंटीथिस्टेमाइंस में कुछ शामिल हैं:

Sedating antihistamines Non-drowsy antihistamines
alimemazine acrivastine
chlorphenamine maleate cetirizine hydrochloride
clemastine desloratadine
cyproheptadine hydrochloride fexofenadine
hydroxyzine levocetirizine
promethazine loratadine

किस प्रकार की एंटीहिस्टामाइन सबसे अच्‍छी होती हैं?

दोनों प्रकार की एंटीहिस्‍टामाइन विभिन्न प्रकार के एलर्जी लक्षणों को उपचार करने करने में बराबर प्रभावी हो सकती है, इसलिए यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार की दवा का सेवन करना चाहते हैं। साथ ही यह आपकी स्थिति पर भी निर्भर करती है कि आपको कैसा इलाज चाहिए।

हे फीवर और एलर्जिक राइनाइटिस

हे फीवर और अन्य प्रकार की एलर्जी वाली स्थितियां जो कि नाक, गले और आंखों को प्रभावित करती हैं उन्हें सामान्यतः: गैर-ड्राउजी एंटीहिस्टामाइन (non-drowsy antihistamines) जैसे सिट्रीजीन (cetirizine) या लोरैटैडाइन (loratadine) जैसी दवाओं के सेवन से ठीक किया जा सकता है, इनसे आपको नींद या थकान काम महसूस हो सकता है।

लेकिन दवाइयों का सेवन करने से पहले आपको दोनों प्रकार को ट्राई करके देखना चाहिए कि किस प्रकार की एंटीहिस्‍टामाइन आपके लिए उपयुक्‍त है।

पित्‍त/हाइव्ज़ (Hives)

पित्‍ती (urticaria) और अन्य प्रकार की एलर्जी वाली स्थितियों को सामान्यत: सिट्रीजीन (cetirizine), फेक्सोफेनाडाइन (fexofenadine), या लोरैटैडाइन(loratadine) जैसी गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन (non-drowsy antihistamines) से ठीक किया जा सकता है।

आप सिडेटिंग एंटीहिस्टामाइन जैसे - प्रोमेथाजीन (promethazine) भी ले सकते हैं अगर आपको खुजली और रैश भरी त्‍वचा की समस्‍या है। ये दवा ऐसे मामलों में काफी असरदार देखे गए हैं।

मोशन सिकनेस और मतली (Motion sickness and nausea)

साइक्‍लीजाइन (cyclizine) जैसे एंटीहिस्‍टामाइन को मतली (nausea), मोशन सिकनेस (motion sickness) और चक्कर (vertigo) आने की स्थिति में इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसा माना जाता है कि ये दवा आपके मस्तिष्क के उस हिस्से पर काम करती हैं जो मतली और उल्टी को नियंत्रित करती है।

आंखों में जलन (Itchy eyes)

अगर आपको आंखों में जलन होती है, तो आप अक्सर देखते हैं कि एंटीहिस्टामाइन आई ड्रॉप से काफी आराम मिलती है, जिसमें केटोटिफेन (ketotifen) या एजेलास्टाइन (azelastine) जैसे गैर-निंद्रक एंटीहिस्टामाइन शामिल होते हैं। ये एंटीहिस्टामाइन तेजी से काम करते हैं, और इससे आपको थोड़ी सी ही नींद आने की संभावना होती है।

इसके दुष्प्रभाव क्या हैं?

एंटीहिस्टामाइन का सेवन आपको सुस्ती और नींद का अहसास कराएगा और आपके समन्वय, गतिशीलता और एकाग्रता को भी प्रभावित कर सकता है।

अगर आप इन दवाओं का सेवन करते हैं तो आपको गाड़ी, साइकिल या कोई अन्य मशीन नहीं चलाना चाहिए। आपको अन्‍य दुष्प्रभाव जैसे - मुंह सूखना, धुंधला दिखना या पेशाब करने में दिक्कत आना भी हो सकते हैं।

हालांकि, इनमें ब्लड-ब्रेन बैरियर को क्रॉस करने की संभावना कम होती हैं, गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन को लेने से भी कई बार लोगों को नींद या थकान महसूस होती है, विशेषकर तब वो इसकी ज्यादा मात्रा लेते हैं या अल्कोहल के साथ इनका कम्बाइन करते हैं।

अगर आप गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन लेते हैं और आपको थकान व नींद महसूस होती है तो आपको गाड़ी, साइकिल या कोई भी मशीन नहीं चलानी चाहिए।

गैर-ड्राउज़ी एंटीहिस्टामाइन के अन्‍य दुष्प्रभावों में सिरदर्द, मुँह सूखना और मतली भी शामिल हैं।

एंटीहिस्टामाइन को कुछ दवाओं के साथ मिलाकर ले सकते हैं। अगर दुष्प्रभावों को लेकर चिंताजनक हैं या ये दवाई सुरक्षित है या नहीं, इसे लेकर सुनिश्चित नहीं है तो डॉक्टर से पूछें या सलाह के लिए फार्मासिस्ट से बात करें।

मैं एंटीहिस्टामाइन को कैसे ले सकता/सकती हूँ?

कई लोग बिना गंभीर दुष्‍प्रभावों का अनुभ‍व किये बिना परामर्श के ही इनका सेवन करना शुरू कर देते हैं , लेकिन आपको दवा का सेवन शुरू करने से पहले लिखित दिशा-निर्देशों को अवश्‍य ध्यान में रखना चाहिए और अगर कोई चिंता हो तो फार्मासिस्ट से बात करनी चाहिए।

अगर आप नीचे दिए गए लक्षणों या स्थितियों का सामना कर रहे हैं तो इन दवाओं को लेने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें:

  • गर्भवती हो या बच्‍चे को स्‍तनपान करा रही हों

  • नवजात या शिशु को एंटीहिस्टामाइन देने का सोच रहे हों

  • कोई अन्‍य दवा का सेवन कर रहे हों

  • हृदय रोग, लीवर रोग, किडनी रोग या मिर्गी (epilepsy) आदि जैसी कोई गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या से पहले से ग्रस्त हों

    एंटीहिस्टामाइन के प्रकार और ये शरीर पर किस प्रकार कार्य करती है के बारे में अधिक जानकारी हासिल करें।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।