COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
6th February, 20216 min read

REM नींद क्या है और क्या यह ज़रूरी है ?

Medical Reviewer:Dr Adiele Hoffman
Author:Jennifer Co
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Jennifer Co द्वारा लिखा गया है और Dr Adiele Hoffman ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

क्या आपने कभी सोचा है कि आप कभी-कभी स्वप्न देखते और कभी-कभी क्यों नहीं देखते हैं। और जब आपको स्वप्न आता है तो वह टुकड़ों में क्यों आता है।

जब हम सोते हैं तो हमारा कई विभिन्न चरणों से होकर गुजरता है और हम हर चरण में अलग-अलग समय व्यतीत करते हैं। आप जिस चरण में सबसे ज़्यादा स्वप्न देखते हैं रैपिड आई मूवमेंट स्लीप (rapid eye movement sleep) कहते हैं।

रेम स्लीप (REM sleep) क्या है और आपको इसकी क्योंऔर कितनी आवश्यकता है। और नींद के बारे में डॉक्टर को कब दिखाएं।

रेम नींद क्या है ? (What is REM sleep?)

रैपिड आई मूवमेंट स्लीप (rapid eye movement sleep) सोने के चरण का दूसरा भाग होता है यह नॉन रैपिड आई मूवमेंट स्लीप (non rapid eye movement sleep) के बाद होता है जिसके तीन चरण होते हैं।

रात के दौरान आप सामान्य रूप से नॉन रैपिड आई मूवमेंट स्लीप (non rapid eye movement sleep) के 3 चरणों और रैपिड आई मूवमेंट स्लीप (rapid eye movement sleep) के एक चरण से गुजरते हैं जो 90 से 120 मिनट का होता है।

रेम स्लीप (REM sleep) के दौरान आपका दिमाग बहुत सक्रिय होता है उतना ही जितना आप जागते समय होते हैं आपकी आंखें तेज़ी से पलक के अंदर चलती हैं और आपकी साँस (breathing), हृदय गति (heart rate) और रक्तचाप (blood pressure) बढ़ जाता है।

रेम स्लीप (REM sleep) की संभावना तब होती है जब आपको उज्ज्वल स्वप्न दिखते हैं। जिसमें आपकी कुछ मांसपेशियां अस्थायी रूप से लकवा मार देता है जिससे आप अपने स्वप्न में हिल या कोई गतिविधि नहीं कर सकतें। लेकिन हल्की मांसपेशियां का हिलना भी हो सकता है।

क्या आपको रेम नींद की ज़रूरत है? (do you need REM sleep?)

आपको जीवित और स्वस्थ रहने के लिए सोने की ज़रूरत पड़ती है लेकिन यह सही रूप से यह काम कैसे करता है यह पता नहीं चला है। विशेषज्ञ मानते हैं कि आपके शरीर में बहुत सी प्रक्रियाओं और कार्यों के लिए नींद की ज़रूरत पड़ती है। जिसमें शामिल है:

  • ऊर्जा संरक्षण (Energy conservation)
  • विकास और सुधार (growth and recovery)
  • दिमाग के स्वस्थ कार्य के लिए (healthy brain function)
  • भावनात्मक रूप से ठीक रहने के लिए (emotional well-being)
  • वज़न नियंत्रण और इंसुलिन के कार्य में (weight control and insulin function)
  • इम्यून सिस्टम का स्वास्थ्य (immune system)

रेम स्लीप (REM sleep) की ज़रूरत पूर्ण रूप से ज्ञात नहीं है लेकिन यह माना जाता है यह स्मृतियों को पढ़ने और उन्हें संरक्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है
विशेषज्ञ स्वप्न के उद्देश्य से सहमत नहीं होते हैं लेकिन भहूत से सिद्धांत हैं । अन्य विचारों के बीच, यह सोचा गया कि सपने देखने से आपको मदद मिल सकती है:

  • अपने जीवन की भावनात्मक समस्याओं से लड़ने में
  • भय से लड़ने के लिए तैयार रहने में
  • रचनात्मक रूप से सोचने में
  • महत्वपूर्ण जानकारी याद रखने में

आपको कितनी मात्रा में रेम स्लीप की ज़रूरत है ? (how much REM sleep do you need?)

आपने सम्भवतः सुना होगा कि आपको रात में कम से कम 8 घण्टे सोना चाहिए। वास्तव में जब बात आती है कि किसे कितने नींद की ज़रूरत पड़ती है तो हर कोई भिन्न होता है । लेकिन यह आमतौर पर कहीं ना कहीं 6 से 10 घण्टे के बीच होता है।

और यह बस मात्रा के बारे में नहीं है आपके नींद की गुणवत्ता भी ज़रूरी है। आपको रात में स्वस्थ नींद के लिए नींद के पूर्ण चक्र से कई बार गुज़रना पड़ता है

इस सम्बंध में कि आपको रेम स्लीप (REM sleep) की कितनी ज़रूरत है इसका कोई निश्चित उत्तर नहीं है। लेकिन औसत स्वस्थ नींद के लिए यह आपके पूरे नींद की 20% से 25% लेता है।

अधिक रेम स्लीप (REM sleep) लेने या सामान्य रूप से सोने के बारे में सोच रहे हैं ? सोने की अच्छी आदत या अच्छी स्वच्छता का होना बहुत ज़रूरी है : प्रयास करें

  • अपने कार्यक्रम से जुड़े रहने का - हर दिन एक समय पर सोयें और उठें
  • सही तापमान पर अंधेरे, शांत और आरामदायक कमरे में सोयें
  • सोने से पहले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का इस्तेमाल ना करें
  • बिस्तर पर जाने से पहले अधिक भोजन, कैफ़ीन और शराब पीने से बचें
  • दिन के दौरान व्यायाम करें

सोने की कमी आपके शरीर पर बहुत तरह से नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है और यदि यह लम्बे समय तक होता है तो यह गम्भीर स्वास्थ्य स्थिति का कारण बन सकती है।

सोने की कमी इनसे सम्बंधित है:

  • मूड परिवर्तन (mood change)
  • चिंता (anxiety)
  • अवसाद (depression)
  • खराब मेमरी, ध्यान और चपलता (poor memory, concentration and movement)
  • थकान (fatigue)
  • कमज़ोर इम्यून सिस्टम (weekend immune system)
  • वज़न का बढ़ना (weight gain)
  • स्थितियां जैसे कि उच्च रक्तचाप (high blood pressure), मधुमेह (diabetes) और हृदय रोग (heart disease)

रेम स्लीप डिसऑर्डर क्या है? (What is REM sleep disorder?)

यदि आपको रेम स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर (REM sleep behaviour disorder) है तो आप रेम स्लीप (REM sleep) के दौरान मांसपेशियों में सामान्य लकवे का अनुभव नहीं करेंगे। जिसका मतलब है आप अपने स्वप्न को शारीरिक रूप से कर सकते हैं जो कभी-कभी तीव्र और हिंसक भी हो सकता है। आपकी गतिविधियों में चिल्लाना, मारना, दबाना या बैठ जाना या बिस्तर पर से कूद जाना शामिल हो सकता है।

यदि आपको कोई अवस्था है जो आपकी तंत्रिकाओं (nerves work) के कार्य को प्रभावित करती है जैसे कि पार्किन्सन रोग (Parkinson's disease) या एक दीर्घकालिक सोने की समस्या जो दिन में नींद का कारण बनती है जिसे आप नार्कोलेप्सी (narcolepsy) कहते हैं। या आप कुछ दवाएँ ले रहे हैं जिसमें एंटीडिप्रेसेंट (antidepressants) भी शामिल है तो आपको रेम स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर (REM sleep behaviour disorder) होने की बहुत संभावना है।

आपको डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए? (When should you see a doctor?)

यदि आप रेम स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर (REM sleep behaviour disorder) के किसी भी लक्षण को महसूस करते हैं तो डॉक्टर को दिखाएं।

यदि आपको अक्सर सोते समय या सोते रहने में कठिनाई होती है - तब भी जब आप नींद के लिए अच्छी स्वच्छता का अभ्यास कर रहे होते हैं - यह आपके डॉक्टर से बात करने के लिए भी एक अच्छा विचार हो सकता है। वे आपको यह पता लगाने में मदद कर सकते हैं कि आपको सोने से क्या रोक रहा है, और यदि आवश्यक हो तो उपचार का सुझाव दे सकते हैं

अपनी खराब नींद के लिए डॉक्टर से कब मिलें इसके बारे में अधिक जानें (when to see a doctor about your poor sleep)

मुख्य बिंदु

  • नींद के चक्र के दो मुख्य चरण नर्म (NREM) और रेम (REM) होते हैं और आप हर रात कई चक्रों से गुजरते हैं।
  • रेम स्लीप (REM sleep) नींद के चक्र का दूसरा हिस्सा होता है।
  • आपको रेम स्लीप (REM sleep) के दौरान अधिकतर स्वप्न देखने की संभावना होती है
  • अच्छी गुणवत्ता वाली नींद आपके शरीर के लिए बहुत मायने रखती है
  • रेम स्लीप (REM sleep) आपके पूरे नींद के समय का 20% से 25% होती है
  • रेम स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर (REM sleep behaviour disorder) से पीड़ित लोग शारीरिक रूप से अपने सपनों को पूरा करते हैं
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।