1 min read

स्तन कैंसर जागरूकता(breast cancer awareness)

मेडिकली रिव्यूड

स्तन कैंसर का जल्दी पता लगाने से उपचार अधिक प्रभावी हो सकता है।

आपके स्तन सामान्यतः कैसे महसूस होते हैं, यह जानने से आपको किसी असामान्य बदलाव के प्रति जागरूक होने में सहायता मिलेगी |

हालांकि सभी बदलाव स्तन कैंसर का संकेत नहीं होते। कुछ महिलाओं में ब्रेस्ट टिशू के सिस्ट (cysts) हो जाते है, जो कि सामान्य है।

एक कैंसर शोध के अनुसार, 10 में से 9 स्तन की गांठें (breast lumps) कैंसर नहीं होती हैं।

स्तन में गांठें होने के कारणों के बारे में और जानें।

स्तनों में बदलाव तथा अपने स्तनों के बारे में जानना

आपके स्तन कैसे दिखते हैं तथा स्पर्श में कैसे महसूस होते हैं, इस बारे में जानें। मासिक-चक्र (menstrual cycle) के अलग-अलग समय पर उनके रूप-रंग तथा स्पर्श में बदलाव हो सकता है।

मासिक धर्म (period) शुरू होने से पहले के दिनों में स्तन के दुग्ध उत्पादक ऊतक सक्रिय हो जाते हैं।

कुछ महिलाएं इस समय अपने स्तनों में हल्की व नर्म गांठ जैसी महसूस करती हैं, विशेष रूप से बगलों के पास।

हिस्टेरेक्टमी (गर्भाशय निकलवाना) के बाद स्तनों में सामान्यतः उसी प्रकार के मासिक बदलाव तब तक दिखाई देते हैं, जब तक आपका मासिक धर्म प्राकृतिक रूप से बंद नहीं हो जाता है।

रजोनिवृत्ति(menopause) के बाद दुग्ध उत्पादक ऊतकों में क्रियाशीलता रुक जाती है। सामान्य स्तन कोमल, कम ठोस (less firm) तथा बिना गांठ वाले महसूस हो सकते हैं।

स्तनों के प्रति जागरूक होने का अर्थ है: यह जानना कि आपके लिए सामान्य क्या है।

अपने स्तनों को देखना तथा स्पर्श करके उनका अनुभव करना।

यह जानना कि आपको कौन से बदलावों को देखना है।

किसी बदलाव के बारे में बिना देरी के अपने डॉक्टर को बताना।

यदि आप 50 वर्ष अथवा उससे अधिक आयु की हैं तो नियमित रूप से स्तनों की जांच करवाना।

स्तन कैंसर के संकेत

अपने स्तनों में निम्न बदलावों के बारे में सचेत रहें, जो स्तन कैंसर का संकेत हो सकते हैं:

  • स्तन की रूपरेखा अथवा आकार में बदलाव, विशेष रूप से जो बाजुओं को हिलाने-ढुलाने के कारण अथवा स्तनों को उठाने पर होता है।
  • त्वचा के रंग-रूप में अथवा स्पर्श करने पर बदलाव महसूस करना, जैसे सिकुड़ना (puckering) या गड्ढा पड़ना (dimpling)
  • कोई नई गांठ, एक स्तन अथवा बगल (armpit) में मोटा अथवा उठा हुआ भाग, जो दर्द युक्त अथवा दर्द रहित हो तथा जो दूसरे स्तन तथा काँख के समान भाग से भिन्न हो।
  • निप्पल से स्राव होना (जो रक्तस्राव हो सकता है)
  • निप्पल पर गीले, लाल भाग,
  • जो आसानी से ठीक नहीं होते।
  • निप्पल की अवस्था में कोई बदलाव, जैसे अंदर की ओर होना या अलग तरह से निकलना।
  • निप्पल पर अथवा उसके आसपास चकत्ता होना।

यदि आप इनमें से कोई बदलाव देखते हैं, तो अपने डॉक्टर से मिलें।

महिलाओं के स्तन कैंसर के लक्षणों के बारे में बात करते हुए वीडियो देखें।

अपने स्तन कैंसर के लक्षणों के बारे में बात करते पुरुषों के वीडियो देखें।

स्तनों में दर्द

अनेक महिलाएं चिंता करती हैं कि उनके स्तनों में दर्द किसी गंभीर स्थिति का संकेत हो सकता है। लेकिन स्तनों में दर्द होना स्वयं में स्तन कैंसर का लक्षण नहीं है तथा स्तनों में दर्द आपमें स्तन कैंसर विकसित होने के जोखिम को नहीं बढ़ाता।

स्तन कैंसर के बारे में और जानें

स्तन कैंसर के निदान तथा चिकित्सा के बारे में पढ़ें।

अपने आसपास कैंसर सहयोग सेवाओं के बारे में पता लगाएं।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

आगे क्या पढ़ें
बीआरसीए जीन परिवर्तन टेस्ट
कैंसर आमतौर पर वंशानुगत नहीं होता है, परंतु कुछ प्रकार—मुख्यत: स्तन, गर्भाशय और प्रोस्टेट कैंसर, जीन (Genes) द्वारा बहुत प्रभावित होते हैं और यह पीढ़ी...
मास्टेक्टॉमी के बाद स्तन पुनर्निर्माण(Breast reconstruction after mastectomy)
यदि आपके स्तन कैंसर की चिकित्सा व्यवस्था मे **मास्टेक्टॉमी (mastectomy-** स्तन को निकलवाने के लिए किया जाने वाला ऑपरेशन) शामिल है**,** तो आप अपने निकल...
महिलाओं में स्तन कैंसर
U.K. में स्तन कैंसर महिलाओं में होने वाला सबसे आम कैंसर है। अधिकतर महिलाएँ जिनका स्तन कैंसर के लिए निदान किया जाता है 50 वर्ष से अधिक आयु की होती हैं।