COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
24th March, 20214 min read

COVID-19 के दौरान सुरक्षित तरीके से होली कैसे मनाएं

Medical Reviewer: Dr Adiele Hoffman
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है और इसकी मेडिकल समीक्षा Dr Adiele Hoffman ने की है।

होली भारत के कई प्रांतों में सबसे अधिक मनाये जाने वाले त्योहारों में से एक है। पारंपरिक रूप से, दोस्त, परिवार और पड़ोसी सभी बड़े समूहों में होली उत्सव में भाग लेने के लिए एकत्रित होते हैं।

लेकिन भारत में कोरोनावायरस मामलों में वृद्धि की वजह से, सरकारी अधिकारियों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतने और 2021 की होली का जश्न सावधानी पूर्वक मनाने की सलाह दी है।

होली क्या है और 2021 में किस दिन मनाई जा रही है?

इसे रंगों के त्योहार के रूप में भी जाना जाता है - आम तौर पर होली के समारोहों में बहुत सारे रंगीन पाउडर (अबीर-गुलाल) और रंग मिले पानी शामिल होते हैं - होली भारत में वसंत की शुरुआत का प्रतीक है, और उम्मीद की जाती है कि फसल का मौसम अच्छा होगा।

होली एक रात (होली की पूर्व संध्या, जिसे होलिका दहन या छोटी होली के रूप में जाना जाता है) और उसके अगले दिन (होली) के बीच मनाया जाता है।

इस साल होली के त्यौहार की तिथि 28 से 29 मार्च है।

इस वर्ष होली मनाते समय COVID-19 से बरती जाने वाली सावधानियां

होली एक सामुदायिक त्योहार है जो पारंपरिक रूप से लोगों के बड़े समूहों में मनाया जाता है। कोरोनोवायरस व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में आसानी से फैलता है, और इसलिए ऐसे समारोहों से बचना ही बेहतर है।

यदि आपने इस वर्ष अपने परिवार या दोस्तों के छोटे समूह के साथ होली मनाने की योजना बनाई है, तो यहां कुछ सावधानियां बताई गई हैं जो आपको कोरोनोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए लेनी चाहिए:

  • समूहों वाले आयोजनों में भाग लेने पर स्थानीय दिशानिर्देशों की जाँच करें
  • अगर आप अस्वस्थ महसूस करते हैं, तो घर पर रहें
  • अपने और अन्य लोगों के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी रखें - जब आप घर के अंदर हों तो आपको और दूर रहना चाहिए
  • जब आप अन्य लोगों के आसपास होते हैं, तो मास्क पहनें, खासकर यदि आप उनसे कम से कम एक मीटर की दूरी नहीं रख़ सकते हैं
  • उन जगहों से बचने की कोशिश करें, जो घिरे हुए हैं, जहाँ भीड़ है या लोगों से निकट संपर्क में आना शामिल है
  • यदि आप लोगों से मिल रहे हैं, तो उन्हें बाहर से मिलें - घर के बाहर के आयोजन घर की तुलना में सुरक्षित हैं
  • यदि आप इनडोर स्थानों से बच नहीं सकते हैं, तो खिड़की खुली रखें और मास्क पहनें
  • नियमित रूप से अपने हाथों को साबुन और पानी से धोएं या हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें
  • अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूने की कोशिश न करें
  • खांसी या छींक आने पर मुंह और नाक को ढंकना ना भूलें - अपनी कोहनी या काग़ज़ के रुमाल (टिश्यू) का उपयोग करें, फिर टिश्यू को फेंक दें और अपने हाथों को धो लें
  • सतहों को अक्सर साफ़ और कीटाणुरहित करें, विशेषकर उन सतहों को को जो लोग नियमित रूप से स्पर्श करते हैं

प्रमुख बिंदु

  • भारत में कोरोनोवायरस के मामलों में वृद्धि हुई है, इसलिए इस साल के होली समारोहों में सामान्य से कम चहल पहल हो इस बात को सुनिश्चहित करने के लिए अधिक प्रतिबंधों की आवश्यकता है
  • आयोजनों में भाग लेने की स्थिति में अपने स्थानीय दिशानिर्देशों की जाँच करें
  • अगर आप अस्वस्थ महसूस करते हैं, तो घर पर रहें
  • अपने और दूसरे लोगों के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी रखें
  • जब आप अन्य लोगों के आसपास हों तो मास्क पहनें
  • नियमित रूप से अपने हाथों को साबुन और पानी से धोएं या हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।