COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
28th July, 20205 min read

क्या मुझे खांसी में ख़ून आने पर चिंता करनी चाहिए?

Medical Reviewer:Healthily's medical team
Author:Alex Bussey
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Alex Bussey द्वारा लिखा गया है और Healthily's medical team ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

खांसी में ख़ून आना (या हैमोप्टिसिस (haemoptysis)) एक गंभीर मेडिकल स्थिति का लक्षण हो सकता है, और हमेशा एक डॉक्टर द्वारा इसकी जाँच करवानी चाहिए, भले ही यह टिश्यु पेपर पर ख़ून की कुछ बूँदें हों या ख़ून मिश्रित बलगम (कफ) हो।

यदि आपको बहुत अधिक खून बह रहा है या सांस लेने में कठिनाई हो रही है, तो आपको एम्बुलेंस को कॉल करना चाहिए या सीधे अपने नजदीकी आपातकालीन कक्ष (अस्पताल) में जाना चाहिए। आपको जीवन के लिए खतरे वाली कोई मेडिकल स्थिति हो सकती है जिसके लिए तत्काल उपचार की आवश्यकता होती है।

खांसी में ख़ून (रक्त) आना एक गंभीर स्थिति का संकेत भी हो सकता है, जैसे पल्मनेरी एम्बलिज़म (pulmonary embolism), ह्रदय की विफलता (हार्ट फ़ेल्यर/heart failure) या फेफड़े का ऐब्सेस (lung abscess), इसलिए इसे हमेशा डॉक्टर से जांच करवाना महत्वपूर्ण है।

लेकिन यह जानने से मदद मिल सकती है कि रक्त की थोड़ी मात्रा खांसी में आना हमेशा जीवन के लिए ख़तरे वाली स्थिति नहीं होती है। कई मेडिकल स्थितियाँ इसका कारण हो सकती हैं और विशेषज्ञों का कहना है कि 20 मामलों में 1 से कम में जीवन को खतरा होता है।

आपको खांसी में रक्त की थोड़ी मात्रा आ सकती है, क्योंकि:

  • आपको एक छाती का संक्रमण या एक लगातार होने वाली खांसी की समस्या हो जो आपके वायुमार्ग में कुछ रक्त वाहिकाओं के लिए समस्या बन रही हो
  • नाक से अत्यधिक रक्तस्राव हो जिसके कारण आपकी लार में खून आने लगे

खांसी में खून को लेकर चिंता कब करें

यदि आपकी खांसी में ख़ून नज़र आ रहा हो तो आपको मेडिकल सहायता लेनी चाहिए।

डॉक्टर जो प्रश्न पूछ सकते हैं, वे हैं:
आपको कितना खून आ रहा है?
ख़ून किस रंग का है?
कितनी बार आपकी खांसी में खून निकला है?
आपको कब से खांसी में खून आ रहा है?
आपके अन्य लक्षण क्या है?

खांसी में अधिक मात्रा में ख़ून आना

खाँसते समय बड़ी मात्रा में रक्त का आना (24 घंटे में 600 मिली या उससे अधिक) बड़े हैमोप्टिसिस के रूप में जाना जाता है। यह जीवन के लिए खतरे वाली एक आपातकालीन स्थिति है है जो अक्सर फेफड़ों के कैंसर या ब्रोन्किइक्टेसिस जैसी गंभीर बीमारी से जुड़ी होती है।

ब्रोन्किइक्टेसिस (bronchiectasis) वह स्थिति है जहां आपके फेफड़ों की ब्रोन्कियल नलियां (bronchial tubes) स्थायी रूप से चौड़ी हो जाती हैं और लम्बे समय तक चलने वाली सूजन (chronic inflammation) से क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।

यदि आपको लगता है कि आपको बड़े पैमाने पर हैमोप्टिसिस हो सकता है, तो आपको सीधे अस्पताल जाना चाहिए या एम्बुलेंस को कॉल करना चाहिए।

डॉक्टर विशेष दवाओं या ब्रोन्कोस्कोपी या सर्जरी जैसी प्रक्रिया का उपयोग करके रक्तस्राव को रोकने की कोशिश करेंगे। वे परीक्षणों का भी आदेश देंगे ताकि वे अंतर्निहित कारण का निदान और उपचार कर सकें।

खांसी में गहरे रंग का ख़ून आना

यदि आपको ख़ून वाली उल्टी (haematemesis) हो रही है या खाँसते समय रक्त की छोटी मात्रा निकले जो गहरे रंग की हो और लगे कि इसमें भोजन या कॉफी के कण मिश्रित हो सकते हैं, तो रक्त आपके पेट या पाचन तंत्र से आ सकता है।

यह bhi एक मेडिकल इमरजेंसी है, और आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाने की जरूरत होगी।

खांसी में लाल झाग वाला ख़ून आना

यदि आपको खांसी में ख़ून आए, जो चमकीला लाल और झागदार हो, जंग लगे रंग या खून से सना हुआ बलगम हो, तो रक्त आपके फेफड़ों या ब्रांकाई (आपके फेफड़ों में जाने वाली बड़ी नलियों) से आ सकता है।

फेफड़ों और वायुमार्ग से रक्तस्राव का कारण लगातार होने वाली खांसी या छाती में संक्रमण हो सकता है, जैसे निमोनिया (pneumonia) या ब्रोंकाइटिस।

इसका मतलब यह नहीं है कि आपको अपने लक्षणों को अनदेखा करना चाहिए, या उन्हें घर पर इलाज करने का प्रयास करना चाहिए। अन्य संभावित कारणों में क्लॉटिंग डिसऑर्डर, फेफड़े का ऐब्सेस(फोड़ा), फेफड़ों का कैंसर या हृदय की विफलता शामिल है।

आपको जल्द से जल्द एक डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

जब आप खाँसी में ख़ून आने की समस्या होने पर किसी डॉक्टर से मिलने जाते हैं तो क्या होता है?

हेमोप्टाइसिस के लिए उपचार रक्त की मात्रा के अनुसार भिन्न हो सकता है जो आपके खाँसने पर निकलता है, और कोई अतिरिक्त लक्षण होने पर।

डॉक्टर आपकी जांच करेंगे। वे आपसे यह भी पूछ सकते हैं कि खाँसते वक़्त आपका कितना खून निकला है, या इसके बुनियादी लक्षणों के बारे में पूछ कर इसका कारण जानने का प्रयास करेंगे।

यदि उन्हें लगता है कि यह आवश्यक है, तो डॉक्टर किसी भी अंतर्निहित समस्याओं की जांच के लिए रक्त परीक्षण, छाती का एक्स-रे या सीटी स्कैन का आदेश दे सकते हैं।
वे एक ब्रोन्कोस्कोपी भी करना चाह सकते हैं - जहां प्रकाश और कैमरे वाली एक पतली ट्यूब आपकी नाक या मुंह के माध्यम से अंदर डाली जाती है।

यह डॉक्टर को आपके वायुमार्ग को देखने, और रक्तस्राव के स्रोत की जांच करने में सक्षम बनाता है।

ब्रोंकोस्कोपी से परिणाम का उपयोग रोग निदान करने के लिए भी किया जा सकता है, जो आपके उपचार को निर्धारित करने के लिए किया जा सकता है।

मुख्य बिंदु

  • खांसी से खून आने पर हमेशा एक डॉक्टर द्वारा जाँच करवानी चाहिए
  • खाँसी में बड़ी मात्रा में खून आना या सांस लेने में दिक्कत होना एक जानलेवा आपातकालीन स्थिति है
  • जब आपको खांसी होती है तो छोटी मात्रा में ख़ून आना हमेशा जीवन के लिए खतरनाक नहीं होता है, लेकिन फिर भी इसकी जांच होनी चाहिए
  • अगर आपको गहरे रंग के खून की उल्टी हो रही है तो हो सकता है कि यह आपके पेट से आ रही हो - यह एक मेडिकल इमरजेंसी है
  • डॉक्टर आपसे कई प्रश्न पूछेंगे और वो रक्त परीक्षण, छाती का एक्स-रे या सीटी स्कैन करवाने के लिए बोल सकते हैं।
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।