COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
28th November, 20194 min read

खांसी (cough) होने पर डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

खांसी (cough) एक सामान्य शारीरिक प्रतिक्रिया है, जो फेफड़ों (lungs) से बलगम (mucus) और अन्य परेशानियों को दूर करने के लिए होती है।

ज्यादातर मामलों में, चिंता करने की कोई बात नहीं होती है और ये अपने आप ही बेहतर हो जाती है। हालांकि, कभी-कभी, खांसी एक ऐसी स्थिति का संकेत हो सकती है जिस पर चिकित्सकीय रूप से ध्यान देने की आवश्यकता होती है।

लेकिन खांसी के बारे में चिंता करने का सही समय कब है, ये कैसे बता सकते हैं? आपके खांसी (कफ) की समयावधि अक्सर एक संकेत प्रदान करती है।

खांसी के प्रकार

खांसी (कफ) कितने दिनों तक बनी रहती है, इस आधार पर इसे परिभाषित किया जा सकता है इसके विभिन्न प्रकार निम्न हैं:

• अक्यूट खांसी (acute coughs) - 3 हफ़्तों से कम समय तक रहती है
• सब अक्यूट खांसी (subacute coughs) - 3 से 8 हफ़्तों तक रहती है
• क्रॉनिक खांसी (chronic coughs) - 8 हफ़्तों से अधिक समय तक रहती है

अक्यूट खांस आमतौर पर आम सर्दी की तरह एक वायरल बीमारी के कारण होती है। यह आमतौर पर कुछ हफ़्ते के बाद अपने आप ठीक हो जाती है। हालांकि, डॉक्टर द्वारा हमेशा सब अक्यूट खांसी और क्रॉनिक खांसी का आकलन किया जाना चाहिए।

अक्यूट खांसी होने पर डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए

अक्यूट खांसी आमतौर पर नाक, साइनस (sinuses) और / या गले के वायरल संक्रमण (viral infection) (ऊपरी श्वास नलिका (upper respiratory tract) के रूप में जाना जाता है) के कारण होती है। ये सर्दी (cold) या फ्लू (flu) जैसे संक्रमण हैं। लेकिन खांसी फेफड़ों या वायुमार्ग के संक्रमण या सूजन के कारण भी हो सकती है, जैसे अक्यूटर ब्रोंकाइटिस ( acute bronchitis) या निमोनिया (pneumonia)।

अक्यूट खांसी एक एलर्जी (allergy) या अस्थमा (asthma) जैसी दीर्घकालिक स्थिति के तेज होने से भी हो सकती है।

इस तरह की खांसी का इलाज आमतौर पर घर पर बहुत आराम करके और तरल पदार्थों के सेवन से किया जा सकता है। हालांकि, डॉक्टर से दिखाएं, अगर:

• आपकी खाँसी गंभीर है या बिगड़ रही है, या आपको लगातार खांसी हो रही है या सूखी खाँसी (hacking cough) हो गई है
• आप बहुत बीमार महसूस करते हैं
• आपके सीने में दर्द है
• बिना प्रयास के आपका वजन कम हो रहा रहे हैं
• आपकी ग्रंथियां सूज गई(swollen glands) हैं, (सूजन की जांच के लिए अपनी गर्दन के किनारे वाले भाग को महसूस करें)
• आपको सांस लेने में मुश्किल हो रही है
• आपकी रोग प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर (weakened immune system) है (जैसे किमोथेरेपी (chemotherapy) या मधुमेह (diabetes) के कारण)

यदि आपको खांसी में ख़ून आ रहा है तो आपको तत्काल चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

सब अक्यूट खांसी और क्रॉनिक खांसी में डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए

यदि आपको 3 हफ़्तों से अधिक समय से खाँसी रही है, तो डॉक्टर को दिखाएँ। आपकी खांसी कई स्थितियों के कारण हो सकती है, जिसमें निम्न शामिल हो सकते हैं:

• गैस्ट्रो-ओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (GORD)
• धूम्रपान
• क्रॉनिक प्रतिरोधी फेफड़ों का रोग (chronic obstructive pulmonary disease (COPD)) (COPD)
• ब्रोन्किएक्टासिस (bronchiectasis)
•पोस्ट नेज़ल ड्रिप (बलगम का गले में बहाव)
•कुछ दवाएं
•दमा (asthma)

कुछ दुर्लभ मामलों में, लगातार खांसी आना (persistent cough), अधिक गंभीर अंतर्निहित स्थिति का संकेत हो सकता है।

किस परिस्थिति में डॉक्टर को तत्काल दिखाना चाहिए

यदि आपको खाँसी में ख़ून आ रहा हो, तो आपको तत्काल डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

खांसी के बारे में चिंता करने के लिए आमतौर पर कुछ भी नहीं होता है, और इसे 3 से 4 सप्ताह के भीतर अपने आप ठीक हो जाना चाहिए। हालाँकि, यदि आप इस लेख में वर्णित किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं या आप अपनी खांसी को लेकर चिंतित हैं, तो डॉक्टर को दिखाएँ।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।