COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
7th December, 20204 min read

हैंगोवर(Hangover)

Medical Reviewer:Dr Ann Nainan
Author:Dr Lauretta Ihonor
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Dr Lauretta Ihonor द्वारा लिखा गया है और Dr Ann Nainan ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

इस लेख में

सिर दर्द, उलटी, चक्कर आना और डीहायड्रेशन: कोई भी व्यक्ति जो बहुत ज्यादा शराब पीता है वह उसका परिणाम जानता है।

शराब पीने से आपको अत्यधिक पेशाब आता है , जिसके चलते आप निर्जलीकरण या डीहायड्रेशन का शिकार हो सकते हैं। निर्जलीकरण अत्यधिक नशा(हैंगओवर ) होने के सामान्य कारणों में से एक है।

सामान्यतः हैंगओवर का इलाज एक मिथक है। हैंगओवर के लिए कोई इलाज नहीं है, लेकिन ऐसी चीजें हैं, जिसका उपयोग आप अपने बचाव के लिए कर सकते हैं । यदि आप इनमें से किसी एक को अपनाते हैं तो इसके लक्षणों को काम कर सकते हैं।

हैंगओवर से बचने के सुझाव

हैंगओवर से बचने के लिए:

  • आपको चाहिए कि आप अपने शरीर की क्षमता को देखते हुए शराब पीएँ, यदि आप इस मात्रा को निश्चित नहीं कर पाते हैं तो सावधान रहें
  • खाली पेट शराब न पीएं। बाहर जाने से पहले ऐसा भोजन करें जिसमें कार्बोहाइड्रेट(जैसे पास्ता और चावल) और वसा शामिल हो, भोजन शरीर में शराब के अवशोषण को धीमा करने में मदद करता है
  • यदि आप गहरे रंग के पेय पदार्थ के प्रति संवेदनशील हैं तो उन्हें ना पिएं। इनमें प्राकृतिक रसायन होते हैं , जिन्हें कॉनजेनर्स(congeners) कहा जाता है। जो मस्तिष्क में रक्त वाहिकाओं और उत्तक को प्रभावित करते हैं । हैंगओवर की स्थिति में यह स्थिति को अधिक खराब कर सकते हैं।

प्रत्येक ऐल्कहालिक पेय पीने के बीच में पानी या बिना झाग वाले शीतल पेय पिएं। कार्बोनेटीकृत(fizzy drinks) पेय पदार्थ आपके सिस्टम में शराब के अवशोषण को गति देता है।

सोने से पहले एक पाइंट(बीयर की छोटी बोतल) के बराबर पानी पिएं। यदि आप रात में जागते हैं तो बिस्तर पर एक गिलास पानी रखें।

हैंगओवर का इलाज(Hangover treatment)

यदि आप अगली सुबह अपनी स्थिति ज्यादा खराब महसूस करते हैं तो आपने शायद हमारी सलाह का अनुसरण नहीं किया।

हैंगओवर के दर्दनाक लक्षणों से निपटने के लिए शरीर को रिहाइड्रेट करें। इसका सबसे बेहतर समय शराब पीने के बाद सोने से पहले का है।

दर्द निवारक सिरदर्द और मांसपेशियों की ऐंठन में मदद कर सकते हैं।

मीठे खाद पदार्थ आपके कांपने की स्थिति को कम कर सकते हैं। कुछ मामलों में आपके पेट को व्यवस्थित करने के लिए एंटासिड लेने की आवश्यकता होती है।

सब्जियों से बना सूप, विटामिन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत है , जो द्रव्यों की कमी को पूरा कर सकता है। इसका मुख्य लाभ है कि यह नाज़ुक पेट के द्वारा पचाने में आसान है।

आप शरीर से निकले हुए पानी की कमी को पूरा करने के लिए ऐसे तरल पदार्थ ले सकते हैं जो आपके पाचन तंत्र के लिए आसान हो जैसे पानी सोडा और आइसोटॉनिक पेय।

इनसे बचें

अधिक शराब पीना- मदद नहीं करता है। सुबह के समय शराब पीना एक जोखिम भरी आदत है और आप अपने लक्षणों को बस टालते हैं जब तक शराब दोबारा से नहीं उतरती।

अगर आपने बहुत ज्यादा शराब पी है , तो उसके बाद भले ही आपको हैंगओवर हो या न हो, इसकी परवाह किए बगैर डॉक्टर आपको 48 घंटों तक दोबारा शराब पीने से रुकने की सलाह देते हैं, क्योंकि इस समयसीमा के अंदर शरीर खुद ही अपने आपको ठीक कर लेता है ।

कभी-कभी, निश्चित रूप से, हैंगओवर उस सलाह का पालन करना आसान बनाता है।

कम शराब पीने की सलाह

अगर आप अधिकांश हफ़्ते ऐल्कहाल लेते हैं और शराब से होने वाले ख़तरों को कम करना चाहते हैं तो:

  • ऐसे में पुरुषों और महिलाओं को सलाह दी जाती है कि वह लगातार सप्ताह में 14 यूनिट से अधिक ना पीएं
  • यदि आप नियमित रूप से सप्ताह में 14 यूनिट पीते हैं तो अपने पीने को तीन या अधिक दिनों में बांट दें
  • यदि आप शराब पीना कम करना चाहते हैं तो प्रत्येक सप्ताह में कुछ दिन ऐसे रखें जिसमें आप ना पिएं

14 यूनिट सामान्य स्ट्रोंग बीयर के 6 पाइंट या कम स्ट्रेंक्थ वाली वाइन के 10 छोटे गिलास के बराबर होते हैं

अपने पीने की यूनिट जानें

अगर आप अपने पीने की यूनिट को जानना चाहते हैं तो आप पीने का पता लगाने वाले एप One You Drinks Tracker को आईट्यून या गूगल प्ले से डाउनलोड कर सकते हैं ।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।