COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
7th February, 20215 min read

विटामिन ए युक्त खाद्य पदार्थ

Medical Reviewer:Dr Ann Nainan
Author:Helen Prentice
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Helen Prentice द्वारा लिखा गया है और Dr Ann Nainan ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

आपने विटामिन ए के बारे में सुना ही होगा, जिसे रेटिनॉल भी कहा जाता है, इसे शरीर द्वारा उत्पादित नहीं किया जाता है। इसका अर्थ यह है कि आपको संतुलित आहार लेने की जरूरत है जिसमें विटामिन ए से भरपूर खाद्य पदार्थ शामिल हों ताकि आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए मिल सके।

विटामिन ए महत्‍वपूर्ण क्‍यों होता है? (Why is vitamin A important?)

विटामिन ए शरीर को कई तरह से ठीक से काम करने में मदद करता है, जिसमें शामिल हैं:

  • दृष्टि में सहायक, विशेषकर मंद प्रकाश में।
  • इम्‍यून सिस्‍टम को सपोर्ट करते हुए बीमारी और संक्रमण के खिलाफ संरक्षण प्रदान करना
  • त्वचा और शरीर के अन्य लाईनिंग को बनाए रखना, जैसे नाक के भीतर

कौन-से खाद्य पदार्थ विटामिन ए से भरपूर होते हैं?

विटामिन ए को रेटिनोल इक्विवेलेंट (आरई) के माइक्रोग्राम (isg) में मापा जाता है। 19 से 64 वर्ष के वयस्कों के लिए विटामिन ए की अनुशंसित दैनिक मात्रा (आरडीए) पुरुषों के लिए एक दिन में 700 µg और महिलाओं के लिए 600 µg होती है - जो कि छोटी मात्रा है।

विटामिन ए की आरडीए प्राप्त करने को सुनिश्चित करने के लिए, विटामिन ए युक्त खाद्यों को अपने आहार में शामिल करें जो कि निम्न प्रकार हैं:

  • यकृत (लीवर) और यकृत उत्पाद (लिवर प्रोडक्ट): 100 ग्राम लिवर में लगभग 7,322 µg विटामिन ए होता है जो कि वयस्‍क के आरडीए के 1,000% तक अधिक होता है। हफ्ते में एक से अधिक बार लिवर का सेवन करना शरीर में विटामिन ए की मात्रा को इतना बड़ा सकता है कि आपको खतरा हो सकता है।
  • चीज़ : चेद्दार चीज़ के 100 ग्राम में विटामिन ए का 388 µg होता है जो कि आरडीए की मात्रा का आधा है।
  • अंडे : 100 ग्राम वजन वाले दो अंडों में लगभग 120 µg विटामिन ए होता है जो कि आरडीए का लगभग 20% होता है।
  • मछली का तेल : 100 ग्राम ग्रिल्‍ड मार्केरेल में लगभग 38µg विटामिन ए पाया जाता है, जो कि आरडीए का लगभग 5% होता है।
  • दूध: 100मिली दूध में 38µg विटामिन ए होता है जो कि आरडीए का 5% होता है।

बीटा-कैरोटीन में समृद्ध खाद्य में विटामिन ए भी उपलब्ध होता है, जो कि बॉडी को रेटिनॉल में बदल देता है। बीटा-कैरोटीन के सबसे अच्‍छा स्‍त्रोत होते हैं:

  • पीली और लाल सब्जियां, जैसे कि गाजर, लाल मिर्च और शकरकंद
  • हरी पत्‍तेदार सब्जियां जैसे - पालक
  • पीले फल, खुबानी, आम और पपीता

बहुत अधिक विटामिन ए का सेवन करना (Getting too much vitamin A)

कुछ शोध से पता चला है कि आरडीए से अधिक विटामिन ए की मात्रा का सेवन करने से कुछ सालों में हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। ऐसा अक्सर बुजुर्ग लोगों में देखने को मिलता है, जिन्हें विटामिन ए के अधिक सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस osteoporosis की शिकायत हो सकती है।

कई मल्टीविटामिन, जैसे - मछली के लिवर का तेल में विटामिन ए होता है। विटामिन ए का सेवन करने से पहले आपको आपको फूड और सप्‍लीमेंट्स के बारे में सोचना चाहिए, ताकि उनकी खपत प्रतिदिन 1,500 µg से अधिक न होने पाएं।

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भधारण करने का प्रयास कर रही हैं तो लीवर और लीवर प्रोडक्ट का सेवन करने से बचें - ये फूड विटामिन ए में अधिक उच्च होते हैं जो अजन्‍मे बच्‍चे के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

क्या होगा अगर मुझे पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए प्राप्त न हो? (What happens if I don’t get enough vitamin A?)

कुछ प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य स्थितियां आपके शरीर द्वारा विटामिन ए को पर्याप्त रूप से अवशोषित करने को प्रभावित कर सकती हैं, जोकि निम्न प्रकार हैं:

  • सीलिएक रोग (coeliac disease)
  • क्रोहन रोग (Crohn’s disease)
  • गियार्डियासिस (आंत्र का एक संक्रमण) (giardiasis)
  • सिस्टिक फाइब्रोसिस (cystic fibrosis)
  • लीवर सिरोसिस (liver cirrhosis)
  • अग्न्याशय के रोग (diseases of the pancreas)
  • आंत में पित्त की रुकावट

विटामिन ए की कमी के लक्षण, संक्रमण और दृष्टि संबंधी समस्याओं से लड़ने में सक्षम होने के साथ जुड़े हुए हैं, विशेष रूप से रात की दृष्टि के साथ। विटामिन ए की कमी, दुनिया भर में बच्चों में अंधेपन का प्रमुख कारण है।

विटामिन ए से संबंधित कई अन्‍य लक्षण इस प्रकार हैं:

  • थकान
  • सूखे बाल और त्वचा
  • खुजली
  • संक्रमण
  • काम उम्र के लोगों ममें धीमी वृद्धि और हड्डी के विकास में देरी

विटामिन ए की कमी से बांझपन और गर्भपात के खतरे भी बहुत बढ़ जाते हैं।

डॉक्‍टर को कब दिखाएं (When to see a doctor)

अगर आपको लगता है कि आप विटामिन ए की कमी से जूझ रहे हैं तो आपको विटामिन ए के सप्लीमेंट लेना चाहिए, लेकिन इसे लेने से पहले आप अपने डॉक्टर से बात अवश्य कर लें। अगर आप गर्भवती हैं तो विटामिन ए के सप्लीमेंट को लेने से बचें।

मुख्‍य बिंदु:

  • विटामिन ए, स्वस्थ दृष्टि, त्वचा और इम्यूनिटी के लिए महत्वपूर्ण होता है।
  • लीवर, चीज, अंडा, मछली का तेल और दूध, विटामिन ए का अच्‍छा स्‍त्रोत होता है।
  • विटामिन ए का सेवन बहुत अधिक नहीं करना चाहिए, विशेषकर जब आप गर्भवती हों।
  • कुछ प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं जैसे - सीलिएक रोग और क्रोहन रोग आदि भी विटामिन ए की कमी का कारण बन सकते हैं।
  • अगर आपको लगता है कि आप में विटामिन ए की कमी है तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और उसके बाद ही सप्लीमेंट लेना चाहिए।
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।