COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
5 min read

वयस्कों में कूल्हे का दर्द (Hip pain in adults)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

वयस्कों में कूल्हे के दर्द के अधिकांश मामले ऑस्टियोआर्थराइटिस के कारण होते हैं।

इस पेज का मुख्य उद्देश्य इस बारे में जानकारी देना है कि आपके कूल्हे के दर्द (hip pain) की क्या वजह हो सकती है और आप इसके बारे में क्या कर सकते हैं।

हालांकि इस गाइड का इस्तेमाल अपनी स्थिति का स्वयं इलाज करने में नहीं करना चाहिए। इसे हमेशा अपने डॉक्टर पर छोड़ दें।

बच्चों के लिए, बच्चों में कूल्हे का दर्द विषय पर जानकारी पढ़ें।

ऑस्टियोअर्थराइटिस (osteoarthritis)

ऑस्टियोअर्थराइटिस (osteoarthritis) के लक्षण अलग-अलग व्यक्ति में अलग-अलग हो सकते हैं। लेकिन अगर यह कूल्हे (hip) को प्रभावित करता है तो इसके यह दुष्प्रभाव दिख सकते हैं:

  • कूल्हे के जोड़ों (hip joint) के आसपास के टिशू में हल्की सूजन
  • कार्टिलेज (cartilage) को नुकसान- एक मज़बूत, चिकनी सतह जो हड्डियों को एक सीध में रखती है।
  • हड्डियों की वृद्धि (ओस्टियोफाइट्स) जो कूल्हे के जोड़ों के किनारे के आसपास विकसित होती है

यह काम करने के दौरान दर्द, तनाव और परेशानी पैदा कर सकता है ।

ऑस्टियोअर्थराइटिस (osteoarthritis) का कोई इलाज नहीं है। लेकिन इसके लक्षणों में कई अलग-अलग उपायों द्वारा आराम पहुँचाया जा सकता है। इसमें हमेशा सर्जरी की ज़रूरत नहीं पड़ती है।

ऑस्टियोअर्थराइटिस (osteoarthritis) के बारे में और पढें

कम सामान्य कारण (Less common causes)

कम सामान्यतः, कूल्हे में दर्द (hip pain) के ये कारण हो सकते हैं:

  • कूल्हे की हड्डी आपस में रगड़ खाती हैं क्योंकि वो असमान्य आकार में होती हैं। एक अवस्था जिसे फेमोरोऐसटेब्यूलर इम्पिन्जमेंट (femoroacetabular impingement) कहते हैं।
  • कूल्हे के जोड़ (hip joint) के सॉकेट के आसपास कार्टिलेज (cartilage) के छल्ले का फटना जिसे हिप लैबरल टीयर (hip labral tear) के नाम से जानते हैं।
  • हिप डिस्प्लेसिया (hip dysplasia)- जहां कूल्हे के जोड़ गलत आकार में होते हैं या हिप सॉकेट पूरी तरह से पैर की हड्डी के शीर्ष को ढकने और इसे सहारा देने की सही स्थिति में नहीं होता है।
  • हिप फ्रैक्चर - इसके कारण अचानक कूल्हे में दर्द शुरू होता है और यह कमज़ोर हड्डियों वाले बूढ़े लोगों में ज़्यादा सामान्य है।
  • हड्डी या जोड़े में संक्रमण - जैसे कि सेप्टिक अर्थराइटिस या ऑस्टियोमाइलाइटिस- अगर आपको कूल्हे में दर्द (hip pain) और बुखार है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।
  • कूल्हे के जोड़ो तक होने वाले खून के प्रवाह में कमी के कारण हड्डी का टूटना जिसे ओस्टियोनेक्रोसिस (osteonecrosis) के नाम से जानते हैं।
  • आपके कूल्हे के जोड़ पर तरल से भरी थैली (bursa) की सूजन - एक स्थिति जिसे बर्साइटिस कहते हैं
  • हैमस्ट्रिंग की चोट
  • जांघ की लिगामेंट (ligament) में सूजन जो अक्सर बहुत अधिक चलने के कारण होता है - जिसे इलियोटिबियल बैंड सिंड्रोम (iliotibial band syndrome) के रूप में जाना जाता है, इसका आराम के साथ इलाज किया जाता है (मोच और तनाव के बारे में और पढ़ें)

मदद कब लेनी चाहिए (When should I get help?)

कूल्हे के दर्द (hip pain) के बहुत से मामले समय के साथ खत्म हो जाते हैं और आराम करने और काउंटर से लिए दर्दनिवारक से ठीक किये जा सकते हैं।

हालांकि अपने डॉक्टर को दिखाएं अगर:

  • घर पर एक हफ्ते आराम के बाद भी आपके कूल्हे में दर्द है
  • आपको चक्कते (rash) या बुखार (fever) है
  • आपके कूल्हे का दर्द अचानक होता है और आपको सिकल-सेल एनीमिया है
  • दर्द दोनों कूल्हों के साथ और अन्य जोड़ों में भी है

सीधे अस्पताल जाएं अगर,

  • कूल्हे का दर्द (hip pain) गंभीर रूप से गिरने या दुर्घटना के कारण है
  • आपका पैर विकृत, बुरी तरह से चोटिल हुआ है या उससे खून बह रहा है
  • आप अपने कूल्हे को हिलाने या अपने पैर पर कोई वज़न संभालने में असमर्थ हैं

मैं इसे घर पर कैसे ठीक कर सकता हूँ (How can I manage it at home?)

अगर आप तुरंत डॉक्टर को नहीं दिखाना चाहते हैं तो समस्या को घर पर ठीक करने और देखरेख करने का विचार करें। तो निम्न सलाह मदद कर सकती हैं।

  • अगर आपका वजन ज़्यादा है तो कूल्हे से थोड़ा तनाव कम करने के लिए वज़न कम करें
  • उन कामों से बचें जो दर्द को और खराब कर सकता है जैसे कि पहाड़ियों के नीचे दौड़ना
  • फ्लैट जूते पहने और ज़्यादा देर तक खड़े रहने से बचें
  • कुछ मासंपेशियों को मजबूत करने वाले व्यायाम के लिए फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) से मिलने पर विचार करें।
  • काउंटर से दर्दनिवारक लें जैसे कि पैरासिटामोल या इबोप्रॉफेन

अगर यह अधिक काम करने से संबंधित है:

  • हमेशा व्यायाम के पहले वार्मअप और बाद में स्ट्रेचिंग करें।
  • कम प्रभावित व्यायाम करें जैसे कि दौड़ने की जगह तैराकी या साइकलिंग
  • अगर आप बहुत ज़्यादा व्यायाम करते हैं तो उसमें कटौती करें
  • कंक्रीट पर दौड़ने की जगह नरम, चिकने सतह पर दौड़ें
  • शू इंसर्ट्स का प्रयास करें, और सुनिश्चित करें कि आपके चलने वाले जूते अच्छी तरह से फिट हों और अपने पैरों को ठीक से सहारा दें
NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।