COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
2nd February, 20215 min read

समलैंगिक महिलाएँ सेक्स कैसे करती हैं? (How do lesbians have sex)

Medical Reviewer:Dr Adiele Hoffman
Author:Caroline Bodian
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Caroline Bodian द्वारा लिखा गया है और Dr Adiele Hoffman ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

लेस्बियन यानी समलैंगिक महिलाओं के बीच सेक्स के बारे में बहुत सी गलतफहमियां हैं, कुछ लोग सवाल पूछते हैं "क्या आप सेक्स कर सकते हैं यदि एक व्यक्ति के पास लिंग ना हो?"

जी हां आप कर सकते हैं। बहुत प्रकार की सेक्स क्रियाएँ मौजूद हैं, जिसमें ओरल सेक्स,(oral sex) फिंगरिंग(fingering) और एक दूसरे के साथ हस्टमैथुन करना शामिल है। और अलग अलग लोगों के लिए सेक्स की परिभाषा भी अलग-अलग होती है।

और क्या, लेस्बियन सेक्स बस उन लोगों के लिए सीमित नहीं हैं जिन्हें सिजेंडर (cisgender) के रूप में जाना जाता है। जो लोग महसूस करते हैं कि वे उसी लिंग के समान हैं जिस शरीर के साथ वे पैदा हुए थे। इस टर्म में ट्रांसजेंडर लोग भी शामिल हैं वे लोग जिन्हें योनि, लिंग के साथ इंटरसेक्स (intersex) जननांग होते हैं। वे लोग जिन लोगों के गुप्तांग पुरुष और महिला निकायों को लेकर विशिष्ट विचारों के साथ फिट नहीं होते हैं।

यह जानना भी ज़रूरी है की लेस्बियन सेक्स के द्वारा सेक्सुअली ट्रांसमिटेड संक्रमण होने की संभावना भी हैं।

लेस्बियन सेक्स और उसमें शामिल संभावित स्वास्थ्य खतरे और उनसे कैसे बचें इन्हें जानने के लिए और पढ़ें।

वेजिनल (योनि) सेक्स (Vaginal sex)

पेनेट्रेटिव वेजिनल सेक्स(Penetrative vaginal sex) वह होता है जब लिंग (penis) योनि (vagina) में प्रवेश करता है। यदि एक साथी ट्रांसजेंडर है और उसमें पास लिंग है तो यह लेस्बियन सेक्स(lesbian sex) में हो सकता है। या एक साथी जिसने स्ट्रेप ऑन डिलडो(Strap-on dildo)पहना हुआ है ।

यदि आप पीनस इन वजाइना सेक्स (Penis in vagina sex) के दौरान कॉन्डम नहीं पहनते हैं तो गर्भवती होने और सेक्सुअली ट्रांसमिटेड संक्रमण के होने या फैलने का खतरा होता है, जैसे क्लैमाइडिया, जेनिटल हर्पीज़, genital warts, गोनोरिया (Gonorrhoea), एचआईवीऔर सिफलिस। संक्रमण तब भी फैल सकता है जब लिंग पूरी तरह योनि में ना गया हो ।

आप वेजिनल सेक्स के दौरान कॉन्डम का इस्तेमाल करके संक्रमण और गर्भवती होने बचाव कर सकते हैं

ओरल सेक्स (Oral sex)

लेस्बियन सेक्स में ओरल सेक्स शामिल हो सकता है। जिसमें योनि, गुदा या लिंग को चूसना या चाटना शामिल हो सकता है।

ओरल सेक्स के दौरान एसटीआई(STI) होने या फैलने की संभावना भी होती है जिसमें एचआईवी (HIV), सिफलिस(Syphilis), हेपटाइटिस ए(Hepatitis A), बी और सी(B and C), गोनोरिया(Gonorrhoea), जेनिटल वार्ट्स(Genital warts), हर्पीज़(herpes) और क्लैमाइडिया(Chlamydia) शामिल है।

एसटीआई (STI) का खतरा अधिक होता है यदि आप या आपके साथी के मुँह या होंठ पर घाव या चीरा हो। इस मामले में आपको ओरल सेक्स (oral sex) करने से बचना चाहिए या कॉन्डम (condom) या डेंटल डैम (dental dam) का इस्तेमाल करना चाहिए। डेंटल डैम (dental dam)एक लेटेक्स (latex) या पतले प्लास्टिक का वर्ग होता है जो योनि या गुदा को ओरल सेक्स (oral sex) के दौरान ढकता है। जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में एसटीआई (STI) को फैलने से रोकता है।

सामान्य रूप से, एसटीआई(STI) होने का खतरा अधिक होता है यदि आप ओरल सेक्स(oral sex) लेने के बजाय दे रहे होते हैं। लेकिन आपको किसी भी मामले में सावधान रहना चाहिए।

एनल सेक्स (Anal sex)

पेनेट्रेटिव एनल सेक्स (Penetrative anal sex) तब होता है जब गुदा (anus) में लिंग (penis) या सेक्स टॉय (sex toy) जैसे कि स्ट्रैप ऑन(strap-on) का प्रवेश कराया जाता है । लिंग या सेक्सुअलिटी(sexuality) की परवाह किए बिना, कोई भी एनल सेक्स कर सकता है।

एनल सेक्स (anal sex) के दौरान एसटीआई(STI) के फैलने का खतरा बहुत ज़्यादा होता है क्योंकि गुदा (anus) की परत बहुत पतली होती है और आराम से क्षतिग्रस्त हो सकती है। जो संक्रमण तक ले जा सकता है। इस रास्ते फैलने वाले एसटीआई में एचआईवी(HIV), सिफलिस(Syphilis), गोनोरिया(Gonorrhoea), जेनिटल वार्ट्स(Gentile Warts), हर्पीज़(herpes)और क्लैमाइडिया(Chlamydia) शामिल है।

एनल सेक्स के दौरान कॉन्डम का इस्तेमाल करना एसटीआई(STI) से बचने में मदद कर सकता है और यदि आप स्नेहक का इस्तेमाल कर रहे हैं तो जल आधारित या सिलिकॉन आधारित ल्यूब्रिकेंट का इस्तेमाल करें। तेल आधारित ल्यूब्रिकेंट कुछ प्रकार के कॉन्डम को नुकसान पहुँचा सकते हैं।

फिंगरिंग (Fingering)

फिंगरिंगमें एक या एक से अधिक उंगली योनि या गुदा में डालना शामिल होता है कुछ लोग पूरा हाथ डालने का चुनाव करते हैं जिसे फिस्टिंग के रूप में जाना जाता है।

फिंगरिंग से एसटीआई(STI) फैलना सामान्य नहीं है लेकिन यह सम्भव है यदि आप एसटीआई(STI) को लेकर चिंतित हैं तो आप वेजिनल या एनल फिस्टिंग के समय लेटेक्स के दस्ताने या जल आधारित ल्यूब्रिकेंट का इस्तेमाल कर सकते हैं और सेक्स के पहले और बाद में अपना हाथ धोना याद रखें।

ड्राई हम्पिंग या जेनिटल रबिंग (Dry humping/Genital rubbing)

कपड़ों के साथ होने वाले ड्राई हम्पिंग में कम खतरे होते हैं यह याद रखना ज़रूरी है कि कुछ एसटीआई(STI) जेनिटल रबिंग (gentile rubbing) के दौरान भी फैल सकते हैं यदि त्वचा से त्वचा का सम्पर्क होता है।
आपस में हस्टमैथुन

लेस्बियन सेक्स में म्युचुअल मस्टरबेशन भी शामिल होता है जब दोनों साथी एक साथ हस्तमैथून करते हैं।

जबकि इसकी संभावना नहीं है लेकिन म्युचुअल मस्टरबेशन से गर्भवती होना सम्भव है यदि वीर्य लिंग से योनि में चला जाता है। अगर एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में तरल पदार्थ का हस्तांतरण होता है, तो एसटीआ(STI) फैलने का हल्का खतरा भी होता है।

मुख्य बिंदु (Key points)

बहुत प्रकार से सेक्स मौजूद हैं और अलग-अलग लोगों के लिए सेक्स का मतलब अलग अलग है
लेस्बियन सेक्स में योनि, लिंग और इंटरसेक्स जेनिटल वाले लोग शामिल हैं
बहुत से तरीके हैं जिससे लेस्बियन सेक्सकर सकते हैं जिसमें वेजिनल, ओरल, एनल सेक्स, फिंगरिंग, ड्राई हम्पिंग और म्युचुअल मस्टरबेशन शामिल है।
कई प्रकार के लेस्बियन सेक्स में एसटीआई होने या फैलने का खतरा होता है।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।