COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
10th May, 20195 min read

क्या मेरा लिंग सामान्य है?

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

पुरुषों का अपने लिंग के आकार को लेकर चिंता करना या यह जानना कि उनका लिंग सामान्य है, अस्वभाविक नहीं है। 50,000 लोगों पर हुए ऑनलाइन सर्वे में यह पता लगा कि 45% पुरुष बड़ा लिंग (penis) चाहते हैं ।

लेकिन किसे सामान्य कहेंगे? ऐसा कुछ भी नहीं होता है, क्योंकि हर व्यक्ति अलग है। लेकिन इस बात की जानकारी होनी ज़रूरी है कि आपके लिए सामान्य क्या है, ताकि जब कुछ गलत हो तो आप उसका पता लगा सकें। उदाहरण के लिए यदि आपको यौन संचारित संक्रमण (sexually transmitted infection) है।

हालांकि अध्ययन में लिंगों के कुछ औसत आकार का पता चला है जिसके बारे में आप नीचे पढ़ सकते हैं।

लिंग का औसत आकार (average penis size)

पुरुष लिंग की औसत लम्बाई 3.75 इंच या 9 सेमी होती है, जब उसमें तनाव नहीं होता। तना हुआ होने पर औसत लम्बाई 13-18 सेंटीमीटर या 5-7 इंच होती है।

हालांकि आपके लिंग का इससे बड़ा या छोटा होना पूरी तरह सामान्य है यहां ऐसी भी चीज़ें हैं जो अस्थायी रूप से आपके लिंग की लंबाई पर असर डाल सकती हैं, जैसे तैराकी और ठंड ।

आकार के साथ ही तने हुए लिंग के कोण में भिन्नता होती है। यहां कोई भी सही आकार या कोण नहीं है। लेकिन यदि आपके लिंग में विशेष घुमाव है जो सेक्स करने में दर्द या मुश्किल का कारण बन रहा है, तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए। क्योंकि यह पेरोनी रोग (Peyronie disease) का लक्षण हो सकता है।

अपने लिंग को लेकर चिंतित कब हों

एसटीआई के लक्षण (signs of STI)

यदि आप एसटीआई (STI) के सम्पर्क में आने को लेकर चिंतित हैं तो आपको जितनी जल्दी हो सके जांच करवानी चाहिए।

एसटीआई (STI) के कुछ लक्षण जो लिंग को प्रभावित करते हैं, उनमें ये शामिल हैं:

  • लिंग से अस्वभाविक स्खलन (unusual discharge from penis)
  • पेशाब करते समय दर्द (pain when peeing)
  • जननांग (genitals) या गुदा (anus) के आसपास की त्वचा में गांठ (lump) या त्वचा का बढ़ना
  • चकत्ते (rash)
  • गुप्तांग या गुदा में खुजली (itchy genitals or anus)
  • जननांगों या गुदा के आसपास छाले और घाव (blisters and sore around the genitals or anus)
  • मूत्रमार्ग में जलन (irritation of the urethra) (वह ट्यूब जिससे पेशाब बाहर आता है)

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (erectile dysfunction)

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन तब होता है जब आप इरेक्शन (लिंग में तनाव) को बनाए रखने या पाने में असमर्थ हो जाते हैं। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के विभिन्न कारण हैं, जिसमें चिंता, हार्मोनल समस्या, चोट (injury) और उच्च रक्तचाप (hypertension) शामिल है।

यदि आप इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का अनुभव कर रहे हैं तो इसे अपने डॉक्टर को दिखाना ज़रूरी है। ताकि वह कारण का पता लगा सकें।

यदि आप जानते हैं कि आपके इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का कारण क्या है तो आपको सही इलाज मिल सकता है, जिससे इसके लक्षण भी ठीक हो सकते हैं।

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के बारे में और जानें

इरेक्शन के दौरान दर्द

प्रायपिज्म (priapism) एक निरंतर और अक्सर होने वाला दर्दनाक इरेक्शन है जो कई घंटों तक रह सकता है। यह एक मेडिकल इमरजेंसी है, इसलिए यदि आपको लगता है कि आपको यह है, तो आपको तत्काल मेडिकल ध्यान की तलाश करनी चाहिए।

लक्षणों में ये शामिल है:

  • इरेक्शन जो यौन उत्तेजना से शामिल नहीं है
  • इरेक्शन जो स्खलन के पश्चात नहीं जाती है
  • इरेक्शन जो 4 घण्टे से अधिक रहती है
  • लिंग का शाफ़्ट कठोर होता है लेकिन शीर्ष मुलायम होता है

यदि पहले 24 घंटों में प्रायपिज्म का इलाज नहीं किया जाता है, तो इससे आपके लिंग को स्थायी नुकसान हो सकता है, इसलिए जितनी जल्दी हो सके मदद लेना महत्वपूर्ण है।

बैलेंटिस (balanitis)

लिंग के शीर्ष पर होने वाली सूजन को बैलेंटिस (balanitis) कहते हैं। यह आगे की त्वचा को भी प्रभावित करती है।

लक्षणों में ये शामिल हैं:

  • लिंग में पीड़ा, खुजली और बदबू
  • लाल होना और सूजन
  • गाढ़े द्रव का बनना
  • पेशाब करते समय दर्द

यदि आप इन लक्षणों को अनुभव कर रहे हैं। तो किसी गम्भीर अवस्था का पता लगाने के लिए आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

बैलेंटिस के बारे में और जानें

पेनाइल कैंसर (penile cancer)

पेनाइल कैंसर (penile cancer) बहुत ही दुर्लभ प्रकार का कैंसर है जो लिंग की त्वचा पर या भीतर होता है। यह ज़्यादा सामान्य रूप से 50 साल से अधिक उम्र के पुरुषों को प्रभावित करता है।

इसके लक्षणों में ये शामिल है:

  • लिंग के ऊपर घाव या गांठ (a sore or lump on the penis)
  • प्रभावित क्षेत्र की त्वचा के रंग में परिवर्तन (a change of skin colour in the affected area)
  • लिंग के आगे की त्वचा का मोटा होना
  • चकत्ते (rash)

यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण हैं आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

पेनाइल कैंसर के बारे में और जानें

फाइमोसिस (phimosis)

फाइमोसिस या आगे की त्वचा का कठोर होना शिशुओं और बच्चों में थोड़ा सामान्य है, लेकिन जैसे-जैसे आप बूढ़े होते हैं यह कम सामान्य हो जाता है।

यदि बड़े बच्चे या वयस्क आगे की त्वचा का कठोर होना अनुभव करते हैं, तो उन्हें डॉक्टर को दिखाना चाहिए। क्योंकि यह त्वचा संबंधी किसी समस्या के कारण हो सकता है और दाग का कारण बन सकता है।

यदि आपको पेशाब करने में परेशानी हो रही है। तो आपको तुरंत मेडिकल सहायता के लिए जाना चाहिए।

फाइमोसिस के बारे में और जानें

निष्कर्ष

सामान्य लिंग जैसा कुछ भी नहीं है। हर किसी का लिंग अलग होता है और लंबाई और आकार में भिन्न होता है। सबसे महत्वपूर्ण बात है अपने सामान्य को जानना, और यदि आप ऊपर दिए लक्षणों में से किसी का अनुभव करते हैं, या आप अपने लिंग के बारे में चिंतित हैं तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएँ।

Quick Quiz
The average penis is around 13cm in length when not erect. True or false?
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।