COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
18th February, 20206 min read

क्या आप सम्पूर्ण रूप से स्वस्थ हैं?

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

क्या आप उतने ही स्वस्थ हैं जितना आप सोचते हैं?

अच्छा स्वास्थ्य केवल बीमारियों से मुक्त होना नहीं होता, यह आपके समग्र स्वास्थ्य ( ओवर ऑल वेल बीइंग ) के बारे में होता है।

लेकिन वास्तव में अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य या वेल बीइंग का क्या मतलब होता है?

अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य या वेल बीइंग का अलग-अलग लोगों के लिए अलग-अलग मतलब होता है, और कोई औपचारिक परिभाषा नहीं है। हालांकि, रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार, अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य या वेल बीइंग को जीवन को सकारात्मक रूप से देखने और अच्छा महसूस करने के रूप में वर्णित किया जा सकता है।

यदि आपने अपने स्वास्थ्य के बारे में सामान्य प्रसन्नता के संदर्भ में कभी नहीं सोचा है, तो इस अभ्यास का उद्देश्य आपको ऐसा करने में मदद करता है।

और आप ऐसा निम्नलिखित से नजरिये से अपनी अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य या वेल बीइंग के बारे में पता करके करेंगे:

  • शारीरिक (फिज़िकल)
  • मानसिक (मेन्टल)
  • सामाजिक (सोशल)
  • आध्‍या‍त्‍मिक (स्पिरिचूअल)
  • बौद्धिक (इन्टलेक्चूअल)

अपने समग्र स्वास्थ्य (ओवर ऑल वेल बीइंग) में सुधार कैसे करें

कोई भी बदलाव लाने के लिए पहला कदम यह समझना है कि आप अब कहां हैं, आप कहां होना चाहते हैं और वहां पहुंचने के लिए आपको क्या करने की जरूरत है। यह एक दृष्टिकोण है जो आमतौर पर व्यक्तिगत विकास के लिए लाइफ कोचिंग में उपयोग किया जाता है।

आपको यह समझने में मदद करने के लिए कि कहां से शुरू करना है, 1 से 10 के पैमाने का उपयोग करें (जहां 1 के बराबर होना बिल्कुल महत्वपूर्ण नहीं, और 10 के बराबर होना बहुत महत्वपूर्ण है) जिससे आप यह जान सकें कि जीवन के निम्नलिखित क्षेत्रों में से प्रत्येक चीज आपके लिए कितना महत्वपूर्ण है:

  • शारीरिक (फिजिकल) : शारीरिक रूप से स्वस्थ रहना
  • मानसिक/ भावनात्‍मक (मेन्टल/इमोशनल) : मानसिक और भावनात्मक रूप से स्वस्थ (खुश और शांत) होना।
  • सामाजिक (सोशल): अपने आस-पास के लोगों (परिवार, दोस्तों और समाज) के साथ जुड़ना।
  • मनोवैज्ञानिक/ जीवन से संतुष्ट (साइकलाजिकल/लाइफ सैटिस्फैक्शन): उद्देश्य की भावना होना
  • बौद्धिक (इन्टलेक्चुअल): विकास और सफलता की भावना होना

आप अभी कहां हैं, इसका आकलन कीजिए (Taking stock of where you are right now)

5 क्षेत्रों के महत्व को रेटिंग देने के बाद, विचार करें कि आप अभी अपने जीवन के इन 5 क्षेत्रों में कहां हैं। वर्तमान में आप प्रत्येक क्षेत्र में 1 से 10 (जहां 1 बहुत दुखी के बराबर होता है और 10 बहुत खुश के बराबर होता है) के पैमाने पर कितने खुश हैं।

आपके पास अपने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र के लिए 2 स्कोर होने चाहिए। आपके लिए वह क्षेत्र कितना महत्वपूर्ण है, इस स्कोर में से वह स्कोर घटाइए जिस पर आप अभी हैं।

यह आपको एक आंकड़ा देगा जो यह दर्शाता है कि आपको अपने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र पर कितना ध्यान देना चाहिए। जितना बड़ा आंकड़ा, आपके जीवन के उस क्षेत्र में उतना अधिक ध्यान की आवश्यकता हो सकती है।

अपने आप को कैसे बदलें? (How do you change?)

एनएचएस ने इस अभ्यास में एक्स्प्लोर किये गए लाइफ के 5 क्षेत्रों के साथ जुड़ने के लिए 5 साक्ष्य-आधारित वेल बीइंग के तरीकों को बढ़ावा दिया है। वेल बीइंग के ये 5 तरीके, आपकी वेल बीइंग में सुधार करने के लिए आपके द्वारा किए जा सकने वाले परिवर्तनों के लिए एक उपयोगी गाइड बन सकते हैं।

यहाँ कुछ प्रैक्टिकल उपाय हैं, जिन्हें आज आप छोटे लेकिन प्रभावी बदलावों के लिए कर सकते हैं जो समय के साथ आपकी वेल बीइंग में वृद्धि कर सकते हैं।

जुड़ें (connect)

कुछ समय किसी ऐसे व्यक्ति के साथ बात करने के लिए अलग रखें, जिसके साथ आपकी काफी समय से बात नहीं हुई है।
किसी से पूछें कि वे कैसे हैं और वे जो कहें उसे वास्तव में सुनें।
संपर्क करें और किसी को बताएं कि आप उनके बारे में सोच रहे हैं या उन्हें एक कार्ड भेजें।

एक्टिव रहें (Be active)

एक्टिव या सक्रिय रहने के लिए आपको जिम जाने की आवश्यकता नहीं है। आपके दैनिक जीवन में गतिविधि करने के कई तरीके हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • अपनी दैनिक गतिविधियों को व्यायाम में बदलना। उदाहरण के लिए, लिफ्ट के बजाय सीढ़ियां लें, या ड्राइविंग के बजाय कार्यालय पैदल या साइकिल चला के जाएं।
  • अपने आप को एक दैनिक गतिविधि लक्ष्य देना। आप 10,000 स्टेप चलने, 6 बार सीढ़ियां चढ़ने या 5 मिनट स्ट्रेचिंग करने का लक्ष्य रख सकते हैं।
  • बाहर भोजन करने के बजाय अपने अगले सोशल इवेंट के लिए कुछ एक्टिव करना चुनना।

ध्यान दीजिए (Take notice)

आप वर्तमान क्षण के बारे में अधिक जागरूक होकर सकारात्मकता की भावनाओं को बढ़ा सकते हैं। इसे सचेतन ( mindfulness) के रूप में जाना जाता है। आप निम्न द्वारा अधिक सावधान हो सकते हैं:

  • अपने विचारों और शरीर की संवेदनाओं को दिन में कई बार नोटिस करना
  • प्रत्येक दिन कुछ नया करने की कोशिश करना। घर के लिए एक अलग रास्ता लें या दोपहर के भोजन के लिए कहीं और जाएं। अपनी दिनचर्या को तोड़ने से आप दुनिया को नए तरीके से नोटिस कर सकते हैं
  • भावनाओं के बारे में उनको नाम दे कर अपनी जागरूकता बढ़ाएं। उदाहरण के लिए, यदि आप किसी परीक्षा से पहले घबराहट महसूस कर सकते हैं तो आप कह सकते हैं कि 'यह चिंता है।'

सीखते रहिए (Keep learning)

नई कला सीखना आपको अधिक आत्मविश्वास महसूस करने में मदद कर सकता है। आप सीखने को निम्न द्वारा एक आदत बना सकते हैं:

  • एक कोर्स या क्लास के लिए साइन अप करें जिसमें आपको आनंद मिलता है।
  • अपने आप को एक नया कौशल सि‍खाना, जैसे कि एक व्यंजन पकाना जो आपने पहले कभी नहीं पकाया हो या घर पर खुद से कुछ ठीक करना।
  • काम पर स्वेच्छा से एक नई जिम्मेदारी लेना।

लोगों की मदद करें

एक्ट्स ऑफ़ काइंडनेस यानी दया का भाव - छोटा और बड़ा दोनों - आप जिसकी मदद रहे हैं, उस व्यक्ति के लिए एक अंतर ला सकते हैं। वे आपको उद्देश्य की भावना भी दे सकते हैं और आपको जीवन से अधिक संतुष्ट महसूस करा सकते हैं। छोटे तरीके जो आप दूसरों को दे सकते हैं उनमें शामिल हैं:

  • अपने जीवन में किसी ऐसे व्यक्ति की पहचान करना जो संघर्ष कर रहा है और मदद देना।
  • किसी ऐसे व्यक्ति को धन्यवाद करना, जिसने आपके लिए कुछ किया हो।
  • एक काम प्रोजेक्ट में एक सहयोगी की मदद करना।

आप क्या करने वाले हैं? (What are you going to do?)

कार्य करने का समय आ गया है। ऊपर सूचीबद्ध कुछ विचारों को क्यों न चुनें और उन्हें इस सप्ताह करने पर ध्यान केंद्रित करें?

किसी नोट्बुक में आपके द्वारा चुने गए एक्शन लिखें, साथ ही लिखें कि आप उन्हें कितनी बार करना चाहते हैं और आप उन्हें कब करना चाहते हैं ।

सप्ताह के अंत में अपनी प्रगति की समीक्षा करना याद रखें। यदि आप उन्हें कर लेते हैं तो अपने आप को बधाई दें और यदि आप उन सभी को करने में सक्षम नहीं हुए तो समायोजन करने पर विचार करें।

प्रत्येक सप्ताह अपने आप को इस तरह के छोटे लक्ष्य निर्धारित करने के लिए प्रतिबद्ध करें और आप जल्द ही उन परिवर्तनों को देखना शुरू करेंगे जिन्हें आप अपने ओवरऑल सुख और वेल बीइंग में प्रतिबिंबित करते हैं।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।