हल्दी के स्वास्थ्य लाभ क्या हैं? (What are the health benefits of turmeric?)

29th January, 2021 • 4 min read

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Daniel Piggott द्वारा लिखा गया है और Dr Ann Nainan ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

हल्दी, अदरक के परिवार के जैसे ही एक पौधे का परिवार है। यह एशिया में होता है और आप इसे अपनी रसोई में पा सकते हैं, क्योंकि यह अक्सर खाना बनाने में मसाले के रूप में इस्तेमाल होता है। लेकिन यह सदियों से पारंपरिक दवाई के रूप में भी इस्तेमाल होता रहा है।

हल्दी में एक पदार्थ होता है जिसे करक्यूमिनोइड्स कहते हैं जो स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने के लिए जाना जाता है। सबसे मुख्य करक्यूमिन (curcumin) है जो हल्दी को इसका पीला रंग देता है। बीते कुछ सालों में हल्दी सुपरफूड के तौर पर लोकप्रिय हुई है। लेकिन क्या इसके स्वास्थ्य लाभों का कोई साक्ष्य है?

दुर्भाग्य से कुछ अध्ययन कुछ अवस्थाओं में हल्दी के प्रभावशाली होने के सुझाव देते हैं अबतक के सबूत निर्णायक नहीं हैं। यह जिस तरह से हमारे शरीर में विखंडित होता है वह इसके लाभ का अध्ययन कर पाना और मुश्किल बनाता है।

इसे दिमाग में रखते हुए जानें कि क्या हल्दी का सेवन आपके लिए सही है।

हल्दी के संभावित लाभ क्या हैं?

कुछ वैज्ञानिक शोधों से ये निष्कर्ष मिले हैं कि हल्दी कई स्वास्थ्य अवस्थाओं के साथ मदद करती है। लेकिन आपको ध्यान रखना चाहिए कि नीचे दिए गये सभी बिंदुओं के लिए सबूत सीमित हैं और अधिक शोध की ज़रूरत है।

अर्थराइटिस (arthritis)

हल्दी में पाए जाने वाले करक्यूमिन (curcumin) में सूजनरोधी गुण होते हैं। तो यह माना जाता है कि शरीर में होने वाली सूजन को कम करने में सहायक हो सकता है।

इसे ध्यान में रखकर, कुछ अध्ययनों की समीक्षा में पाया गया करक्यूमिन (curcumin) ओस्टियोआर्थराइटिस (

osteoarthritis
) वाले लोगों की सूजन और दर्द कम कर सकता है जबकि अन्य सलाह देता है कि ये रूमेटाइड अर्थराइटिस (
rheumatoid arthritis
) वाले लोगों की हड्डी टूटना रोकने में मदद करता है।

अवसाद (depression)

कई लघु अध्ययनों में पाया गया है कि हल्दी अवसाद (

depression
) के लक्षणों को कम कर सकता है।

आईबीएस (IBS)

कुछ परीक्षणों ने करक्यूमिन को इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (

irritable bowel syndrome
) के लक्षणों से लाभ में संभावित रूप से असरदार पाया है लेकिन यह निर्णायक नहीं हैं और इसके लिए और सबूतों की आवश्यकता है। ऐसा इसके सूजन-रोधी (anti inflammatory) गुणों के कारण समझा जाता है। साथ ही साथ इस बात के कारण भी कि यह पेट के आंतरिक परत की सुरक्षा करने में भी मदद कर सकता है।

त्वचा (Skin)

यह माना जाता है कि हल्दी के सूजनरोधी (anti-inflammatory) और एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) गुण लाभदायक होते हैं जब उनका इस्तेमाल चेहरे पर होता है। कुछ लघु परीक्षणों में पाया कि ये त्वचा के समस्याओं जैसे कि मुँहासे (acne) और डर्मेटाइटिस (dermatitis) (त्वचा की सूजन) में मदद कर सकते हैं।

अन्य अवस्थाएं (other condition)

कुछ लघु अध्ययन सुझाव देते हैं कि हल्दी आपके उच्च रक्तचाप (

high blood pressure
) कम करने, अल्‍सरेटिव कोलाइटिस (
ulcerative colitis
) के लक्षणों को कम करने में और ब्लड शुगर (blood sugar) के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद करती है।

हल्दी का सेवन सुरक्षापूर्वक कैसे करें

हल्दी और करक्यूमिन (curcumin) उत्पाद आमतौर पर सुरक्षित होते हैं जब वे मुँह से लिए जाते हैं या जब बताई गई मात्रा में त्वचा पर इस्तेमाल होते हैं।

हालांकि, हल्दी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करना एक अच्छा विचार है। मुख्य रूप से यदि वह अन्य दवाओं जैसे ब्लड थिनर और कुछ कैंसररोधी दवाओं के साथ प्रतिक्रिया करती है।

हालांकि हल्दी सेवन के दुष्प्रभाव बहुत सामान्य नहीं हैं। इनमें शामिल हैं :

  • कब्ज़ (constipation)
  • दस्त (diarrhoea)
  • पेट फूलना (bloating)
  • सीने में जलन (heartburn)
  • मिचली (nausea)
  • पेट खराब ( upset stomach)
  • लिवर खराब होना (liver damage)

हल्दी के सप्लीमेंट से बचना चाहिए यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान कराती हैं , आपको गॉलब्लेडर रोग (gallbladder disease) है या आपकी सर्जरी होने वाली हैं।

मुख्य बिंदु (key points)

  • हल्दी सामान्य रूप से खाना बनाने में मसाले के रूप में इस्तेमाल होता है लेकिन यह सदियों से पारंपरिक दवाओं के रूप में भी इस्तेमाल होता रहा है।
  • हल्दी से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बहुत से दावे हैं लेकिन आंशिक रूप से हल्दी के जीव विज्ञान का अध्ययन करने में कठिनाइयों के कारण वैज्ञानिक सबूत सीमित और अनिर्णायक हैं
  • हल्दी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से बात करें। यह अन्य दवाओं के साथ प्रतिक्रिया कर सकता है और दुष्प्रभाव का कारण बन सकता है।

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।