COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
10 min read

पैरासिटामोल (Paracetamol)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

पैरासिटामोल क्या होता है?

पैरासिटामोल एक ऐसी दवा है जिसका प्रयोग किया जाता है:

  • हल्के से मध्यम दर्द से राहत के लिए – उदाहरण के लिए, सिरदर्द, मोच, दांत का दर्द या सर्दी के लक्षणों से राहत के लिए।
  • बुखार (अधिक तापमान जिसे pyrexia भी कहते हैं) को नियंत्रित करने के लिए- उदाहरण के लिए, जब किसी को जुकाम हो (इन्फ्लुएंजा)।

यह कैसे काम करती है?

पैरासिटामोल शरीर में प्रोस्ताग्लान्डिन्स (prostaglandins) नामक रसायन को प्रभावित करके एक दर्दनिवारक के रूप में काम करती है। प्रोस्ताग्लान्डिन्स बीमारी या चोट के परिणामस्वरूप निकलने वाले पदार्थ होते हैं। पैरासिटामोल प्रोस्ताग्लान्डिन्स के उत्पादन को रोक देती है; जिससे शरीर को दर्द या चोट का कम एहसास होता है।

पैरासिटामोल दिमाग के उस हिस्से पर काम करके तापमान घटा देती है; जो तापमान के नियंत्रण के लिए उत्तरदायी होता है।

पैरासिटामोल उत्पादों के प्रकार

पैरासिटामोल बहुत से निर्माताओं द्वारा बहुत से अलग-अलग ब्रांड नामों से बेची जाती हैं।

इसे अक्सर अन्य पदार्थों के साथ मिलाया भी जाता है। उदाहरण के लिए इसे एक सर्दी-खाँसी की दवा के साथ मिलाया जा सकता है और एक सर्दी और जुकाम की दवा के रूप में बेचा जा सकता है।

पैरासिटामोल के प्रकारों के बारे में और जानिए।

पैरासिटामोल का उपयोग कौन कर सकता है?

पैरासिटामोल का उपयोग उन लोगों को सावधानी से करना चाहिए जिन्हें लिवर या किडनी से संबंधित समस्याएँ हैं, या जिनकी शराब पर निर्भरता है।

पैरासिटामोल के बारे में विशेष ध्यान देने वाली और चीज़ें जानिए।

इसके दुष्प्रभाव दुर्लभ हैं और इनमें चकते या रक्तचाप कम होना शामिल हैं। पैरासिटामोल के दुष्प्रभावों के बारे में और अधिक जानिए।

पैरासिटामोल कुछ अन्य दवाओं के साथ भी क्रिया कर सकती है, जिसमें कैंसर या मिर्गी का इलाज करने के लिए ली गयी दवाएं शामिल हो सकती हैं। पैरासिटामोल की क्रियाओं के बारे में और अधिक जानिए।

बच्चों में प्रयोग

शिशुओं और बच्चों को बुखार या दर्द का इलाज करने के लिए पैरासिटामोल दी जा सकती है, अगर उनकी आयु 2 महीने से अधिक हो।

उदाहरण के लिए, जो शिशु 2 या 3 महीने के हों, अगर उनमें टीकाकरण (vaccinations) के बाद अधिक तापमान या बुखार हो तो उन्हें पैरासिटामोल की एक खुराक दी जा सकती है। इस खुराक को 6 घंटे के बाद एक बार दोहराया जा सकता है।

दवा बच्चों के लिए उपयुक्त है या नहीं और उसकी सही खुराक पता करने के लिए दवा के पैकेट या दवा के साथ निकलने वाली मरीज को दी जाने वाली सूचना की पर्ची पर ध्यान दें। जब पैरासिटामोल शिशुओं या बच्चों को दी जाती है, तो उसकी सही खुराक इन चीज़ों पर निर्भर करती है:

  • बच्चे की उम्र
  • बच्चे का वजन
  • पैरासिटामोल की शक्ति – यह आमतौर पर मिलीग्राम (mg) में होती है

यदि आपके शिशु या बच्चे का बुखार ठीक नहीं होता है या उसे फिर भी दर्द रहता है, तो अपने डॉक्टर से बात कीजिए।

विशेष ध्यान देने वाली बातें (Special considerations)

जब आप पैरासिटामोल लें तो पैकेट या दवा के साथ निकलने वाली मरीज को दी जाने वाली सूचना की पर्ची पर लिखी अधिकतम खुराक से ज्यादा मात्रा न लें।

पैरासिटामोल को किसी ऐसे अन्य उत्पाद के साथ न लें जिसमें पैरासिटामोल मिला हो।

सावधानी से प्रयोग कीजिए

पैरासिटामोल का प्रयोग उन लोगों में सावधानी से किया जाना चाहिए जिनमें ये समस्याएँ हों:

  • लीवर की समस्याएं
  • किडनी की समस्या
  • शराब पर निर्भरता

आमतौर पर किडनी की समस्या वाले लोगों के लिए पैरासिटामोल खाना सुरक्षित होता है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात कीजिए।

गर्भावस्था (Pregnancy)

अधिक तापमान (बुखार) को कम करने और दर्द से राहत के लिए पैरासिटामोल का गर्भावस्था की हर स्टेज में नियमित रूप से प्रयोग होता है। इस बात के कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं है कि पैरासिटामोल के शिशुओं पर नुकसानदायक प्रभाव होते हैं।

जैसा कि गर्भावस्था के दौरान प्रयोग की जाने वाली हर दवा के साथ किया जाता है, पैरासिटामोल की कम से कम संभव मात्रा न्यूनतम संभव समय के लिए लेनी चाहिए।

स्तनपान (Breastfeeding)

स्तनपान के समय दर्द से राहत के लिए पैरासिटामोल को सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है। स्तन दुग्ध में जा सकने वाली पैरासिटामोल की मात्रा इतनी कम होती है कि शिशु को उससे कोई नुकसान नहीं पहुँचता।

पैरासिटामोल के दुष्प्रभाव (Side-effects of paracetamol)

पैरासिटामोल के दुष्प्रभाव बहुत कम होते हैं।

हालाँकि दुष्प्रभावों में ये शामिल हो सकते हैं:

  • खुजली और चकते
  • जब अस्पताल में इन्फ्यूज़न (आपकी बाजू की नस में लगातार दवा की ड्रिप) से पैरासिटामोल दी जाती है तो हाइपोटेंशन (कम रक्तचाप) होना।
  • जब अनुशंसित से ज्यादा खुराक ली जाए तो लीवर और किडनी को नुकसान पहुँचना।

बहुत अधिक गंभीर मामलों में पैरासिटामोल की अधिक मात्रा लेने से हुई लिवर की खराबी जानलेवा भी हो सकती है।

मात्रा (Dosage)

सुनिश्चित करें कि आप पैरासिटामोल लेबल में दिए गए निर्देशों या स्वास्थ्यकर्मी के निर्देशों के अनुसार लें। जब तक कि आपको विशेष रूप से न कहा गया हो, 24 घंटे में पैरासिटामोल की 4 से अधिक खुराक न लें।

यदि आपको लगे कि आपने बहुत अधिक पैरासिटामोल ले ली है, तो अपने डॉक्टर या अन्य स्वास्थ्यकर्मी से तुरंत मिलें।

पैरासिटामोल रक्त के अन्य विकारों जैसे thrombocytopenia (प्लेटलेट्स की कमी) और leucopenia (श्वेत रक्त कणिकाओं की कम संख्या) से भी संबंधित हो सकती है, हालाँकि यह बहुत दुर्लभ है।

ड्राइविंग क्षमता (Driving ability)

माना जाता है कि अनुशंसित खुराक में ली गयी पैरासिटामोल आपकी ड्राइव करने की क्षमता में हस्तक्षेप नहीं करती है।

पैरासिटामोल के अलग-अलग नाम (Different names of paracetamol)

पैरासिटामोल कई अलग-अलग दवा निर्माताओं द्वारा बनाई जाती है, जिनमें से प्रत्येक अपने उत्पाद को एक अलग ब्रांड नाम देता है।

कुछ देशों में, पैरासिटामोल को एसिटामिनोफेन के रूप में जाना जाता है।

पैकेजिंग में यह बताया जाना चाहिए कि किसी उत्पाद में पैरासिटामोल है या नहीं और कितनी है। यह आमतौर पर मिलीग्राम (मिलीग्राम) में होगी। उदाहरण के लिए, एक पैरासिटामोल टैबलेट में 500 मिलीग्राम पैरासिटामोल हो सकती है।

पैरासिटामोल के प्रकार

पैरासिटामोल इन रूपों में उपलब्ध है:

● गोलियाँ

● कैपलेट्स

● कैप्सूल

● घुलनशील गोलियाँ (ये पानी में घुल जाती हैं, जिसे आप पीते हैं)

● एक oral suspension (तरल दवा)

● सपोसिटरीज़, जो आपके गुदा में डाली जाती हैं (वह स्थान जहाँ से आपका शरीर बेकार चीज़ें बाहर निकालता है)

कुछ प्रकार की पैरासिटामोल, जैसे पैरासिटामोल के तरल रूप, विशेष रूप से बच्चों के लिए होते हैं।

पैरासिटामोल अन्य दवाओं के साथ

कुछ उत्पादों में, पैरासिटामोल को अन्य अवयवों के साथ मिलाया जाता है। उदाहरण के लिए, इसे एक सर्दी-खाँसी वाली दवा (एक प्रकार की दवा जो एक बंद नाक के लिए अल्पकालिक राहत प्रदान करती है) के साथ मिलाया जा सकता है और ठंड और फ्लू के उपाय के रूप में बेचा जा सकता है।

पैरासिटामोल को अन्य दर्द निवारक दवाओं के साथ भी मिलाया जा सकता है, जैसे:

● को-कोडमोल (पैरासिटामोल और कोडीन)

● को-डायड्रामोल (पैरासिटामोल और डायहाइड्रोकोडीन)

● ट्रामासेट (पैरासिटामोल और ट्रामाडोल)

पैरासिटामोल की छूटी हुई या अतिरिक्त खुराक

पैरासिटामोल को दवा के पैकेट या दवा के साथ निकलने वाली मरीज को दी जाने वाली सूचना की पर्ची के अनुसार या अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट के निर्देशानुसार लें।

पैरासिटामोल की खुराक आमतौर पर हर चार से छह घंटे में ली जाती है।

सुनिश्चित करें कि आप खुराक के बीच इतने समय का अंतराल रखते हैं और 24 घंटे की अवधि के लिए अधिकतम खुराक से अधिक नहीं लेते हैं।

छूटी हुई खुराक

यदि आप पैरासिटामोल की अपनी खुराक लेना भूल जाते हैं, तो अपनी दवा के साथ निकलने वाली मरीज को दी जाने वाली सूचना की पर्ची देखें। याद आने पर आप छूटी हुई खुराक ले सकते हैं, या आप इसे पूरी तरह से छोड़ सकते हैं।

अतिरिक्त खुराक

यदि आप गलती से पैरासिटामोल की एक अतिरिक्त खुराक ले लेते हैं, तो आपको अगली खुराक को छोड़ देना चाहिए ताकि आप 24 घंटे की अवधि के लिए अनुशंसित अधिकतम खुराक से अधिक न लें। यदि आप चिंतित हैं या अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

यदि आपने पैरासिटामोल की अनुशंसित अधिकतम खुराक से अधिक ले ली है, तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए या दुर्घटना और आपातकालीन विभाग में तुरंत जाना चाहिए। बहुत अधिक पैरासिटामोल लेने से लीवर खराब हो सकता है। यह जी मचलना (बीमार महसूस करना) और उल्टी (बीमार होना) जैसे लक्षण पैदा कर सकता है जो लगभग 24 घंटे तक रहती है।

गंभीर मामलों में, बहुत अधिक पैरासिटामोल लेने से ये हो सकते हैं:

● एन्सेफैलोपैथी (मस्तिष्क की क्रियाओं के साथ समस्याएं)

● रक्तस्त्राव (रक्तस्राव)

● हाइपोग्लाइसिमिया (निम्न रक्त शर्करा)

● मस्तिष्क फूलना (मस्तिष्क पर द्रव)

● मौत

और अधिक सलाह

यदि आपको पैरासिटामोल की छूटी हुई या अतिरिक्त खुराक के बारे में और सलाह की आवश्यकता है तो :

● आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें

पैरासिटामोल की अन्य दवाओं के साथ क्रिया- प्रतिक्रिया (Interaction of paracetamol with other medicines)

जब एक ही समय में दो या अधिक दवाएं ली जाती हैं, तो एक दवा के प्रभाव में दूसरी से बदलाव आ सकता है।

इसे दो दवाओं के बीच की क्रिया- प्रतिक्रिया के रूप में जाना जाता है। कुछ मामलों में, इसी क्रिया- प्रतिक्रिया की वजह से एक दवा को दूसरी के साथ लेना सुरक्षित नहीं हो सकता है।

पैरासिटामोल निम्नलिखित दवाओं के साथ परस्पर क्रिया कर सकती है:

● बुसल्फान (busulfan) - कुछ प्रकार के कैंसर का इलाज करती है।

● कार्बामाज़ेपिन (carbamazepine) - मिर्गी और कुछ प्रकार के दर्द सहित कई स्थितियों का इलाज करती है।

● कोलस्टिरमाइन (colestyramine) - प्राथमिक बाइल सिरोसिस (एक प्रकार का यकृत रोग) के कारण होने वाली खुजली सहित कई स्थितियों का इलाज करती है।

● कुमरिन्स (coumarins) - ये तरल थक्कारोधी दवाओं (रक्त के थक्के को रोकने के लिए दवाएं) में मौजूद हैं, जैसे कि वार्फरिन (नीचे देखें)

● डोमपरिडोन (domperidone) - उलटी से राहत देती है और अपच सहित कई स्थितियों का इलाज करती है।

● मेटोक्लोप्रमाइड (metoclopramide) - बीमारी से राहत देती है और अपच सहित कई स्थितियों का इलाज करती है।

यह जाँचने के लिए कि आपकी दवाएं पैरासिटामोल के साथ लेने के लिए सुरक्षित हैं, आप ये कर सकते हैं:

● अपने डॉक्टर या स्थानीय फार्मासिस्ट से पूछें

● अपनी दवा के साथ निकलने वाली मरीज को दी जाने वाली सूचना की पर्ची को पढ़ें

● इस पृष्ठ के शीर्ष पर [दवाओं की जानकारी] टैब देखें

वारफरिन (Warfarin)

वारफरिन (Warfarin) एक थक्कारोधी (रक्त को पतला करने वाली) दवा है, जिसका उपयोग इस तरह की स्थितियों को रोकने और उनके उपचार के लिए किया जाता है:

deep vein thrombosis - शरीर की गहरी नसों में से एक में एक रक्त का थक्का

strokes - जहां मस्तिष्क को रक्त की आपूर्ति प्रतिबंधित है

यदि आप वारफारिन लेते हैं, तो पैरासिटामोल के लंबे समय तक नियमित उपयोग से इसका थक्कारोधी प्रभाव बढ़ सकता है, जिससे आपके रक्त का थक्का बनना मुश्किल हो जाता है। इससे रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है। ऐसा माना जाता है कि पैरासिटामोल की कभी कभार ली जाने वाली खुराक से ऐसा नहीं होता ।

अधिक जानकारी के लिए वारफरीन देखें।

पैरासिटामोल युक्त दवाएं

जब तक आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट द्वारा निर्देशित नहीं किया जाता है, आपको ऐसे अन्य उत्पादों के साथ पैरासिटामोल नहीं लेनी चाहिए, जिनमें पैरासिटामोल मिला हो, जैसे - डायड्रामोल, को-कोडामोल और ट्रामासेट। यह पैरासिटामोल के अधिक खुराक ले लेने के जोखिम के कारण है।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।