COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
17 min read

यौवनावस्था का आरम्भ (puberty)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

यौवनावस्था का आरम्भ (puberty) क्या है?

प्यूबर्टी जीवन के उस समय को कहते है जब शरीर यौन रूप से परिपक्व हो जाता है और प्रजनन अंग क्रियाशील हो जाते हैं। यह शरीर में सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन (testesterone) और ओस्ट्रोडियोल (oestrodiol) के रिलीज़ होने के कारण होता है।

प्यूबर्टी की वजह से होते हैं:

  • शारीरिक परिवर्तन - जिसमें तेजी से वृद्धि होती है, इसमें लड़कियों में स्तनों का विकास और लड़कों में लिंग के आकार में वृद्धि शामिल है
  • मनोवैज्ञानिक परिवर्तन - ये किशोरों के मूड पर असर दाल सकता है और उनके आत्म-सचेत और आक्रामक बनने का कारण बन सकता है।
  • व्यवहार में परिवर्तन - ये कुछ किशोरों में नई और संभावित जोखिम भरी गतिविधियों जैसे धूम्रपान, शराब, शराब और सेक्स के साथ प्रयोग करने का कारण बन सकते हैं।

प्यूबर्टी के लक्षणों (symptoms of puberty ) और प्यूबर्टी के कारणों (causes of puberty) के बारे में अधिक विस्तृत जानकारी प्राप्त करें।

प्यूबर्टी की शुरुआत

प्यूबर्टी शुरू होने की कोई निर्धारित उम्र नहीं है। प्यूबर्टी शुरू होने की उम्र और विकास की दर हर बच्चे में भिन्न होती है।

ज्यादातर लड़कियों में 8-14 साल की उम्र में प्यूबर्टी शुरू होती है, जिसकी औसत आयु 11 है। लड़कियों में लड़कों की तुलना में अधिक तेजी से विकास होता है। ज्यादातर लड़कियाँ प्यूबर्टी की शुरुआत के चार साल के भीतर ही पूर्ण यौन परिपक्वता (sexual maturity) तक पहुंच जाती हैं।

लड़कों का विकास लड़कियों की तुलना में देर से होता है, और विकास की प्रक्रिया में आमतौर पर अधिक समय लगता है। ज्यादातर लड़कों में 9-14 साल की उम्र में प्यूबर्टी की शुरुआत होती है, जिसकी औसत आयु 12 होती है। अधिकांश लड़के प्यूबर्टी की शुरुआत के छह साल के भीतर ही परिपक्वता तक पहुंच जाते हैं।

प्यूबर्टी का जल्दी या देरी से आना (Early or delayed puberty)

यदि कोई बच्चा प्यूबर्टी का अनुभव सामान्य उम्र से पहले या बाद में करता है, तो इसे जल्द (असामयिक) प्यूबर्टी, या विलंबित प्यूबर्टी के रूप में जाना जाता है।

कुछ मामलों में ऐसा किसी अंतर्निहित स्थिति के कारण हो सकता है। यदि कोई स्पष्ट कारण नहीं है, जैसे लंबे समय से कोई बीमारी, तो किसी भी समस्या का निदान करने में मदद के लिए परीक्षणों की आवश्यकता हो सकती है।

प्यूबर्टी की जटिलताओं (complications of puberty) के बारे में अधिक जानकारी पढ़ें।

प्यूबर्टी के लक्षण (symptoms)

प्यूबर्टी के दौरान होने वाले शारीरिक परिवर्तनों को आमतौर पर विकास के विभिन्न चरणों द्वारा चिह्नित किया जाता है जिसे टान्नर चरणों के रूप में जाना जाता है। इनका नाम बाल विकास विशेषज्ञ, जेम्स मोरिलिन टान्नर (James Mourilyan Tanner) के नाम पर रखा गया था, जिन्होंने पहली बार इनकी पहचान की थी।

टान्नर (the Tanner) चरण विकास की औसत उम्र देते हैं, हालांकि बच्चों और किशोरों के बीच काफी भिन्नता हो सकती है। यदि आप प्यूबर्टी के किसी चरण में अपने दोस्तों से पहले या बाद में पहुँचते हैं, तो आपको चिंता नहीं करनी चाहिए।

टान्नर चरण एक

टान्नर चरण एक में प्यूबर्टी की शुरुआत से पहले आपके शरीर में होने वाले परिवर्तनों का वर्णन किया गया है। इन्हें कभी-कभी पूर्व-प्यूबर्टी संबंधी परिवर्तनों के रूप में जाना जाता है।

लड़कियों में

  • परिवर्तन आमतौर पर 8-10 साल की उम्र में होते हैं, लेकिन जब आप 6 या 7 साल के होती हैं, तब भी शुरू हो सकते हैं
  • आप प्रति वर्ष 5-6 सेमी (2-2.4 इंच) तक लंबी हो जाएंगी
  • आपके निप्पल थोड़े सूज सकते हैं
  • आपके अंडाशय बढ़ने लगेंगे

लड़कों में

  • परिवर्तन आमतौर पर 9-11 साल की उम्र में होते हैं
  • आप प्रति वर्ष 5-6 सेमी (2-2.4 इंच) तक लंबे हो जाएंगे

टान्नर चरण दो

लड़कियों में

  • आम तौर पर लगभग 11 साल की उम्र में होता है
  • आपकी एरीयोला (areola) (निप्पल के चारों ओर की त्वचा का क्षेत्र) फूलने लगेगी
  • लेबिया (योनि के प्रवेश द्वार के होंठ) के साथ जघन बाल (pubic hair) विकसित होना शुरू हो जाएंगे
  • भगशेफ (clitoris) (योनि के प्रवेश द्वार के ऊपर ऊतक का एक संवेदनशील मटर के आकार का नोड्यूल) और गर्भाशय बड़ी हो जाएगी
  • आप प्रति वर्ष 7-8 सेमी (2.8-3.2 इंच) तक लंबी हो जाएंगी

लड़कों में

  • आमतौर पर 12 साल की उम्र में शुरू होता है
  • आपका अंडकोश (scrotum) (वृषण युक्त थैली) पतला और लाल होना शुरू हो जाएगा; आपके अंडकोष का आकार बढ़ जाएगा
  • आपके लिंग (penis) के आधार पर बारीक जघन बाल दिखाई देने लगेंगे
  • आपके शरीर की चर्बी आमतौर पर कम हो जाती है, जबकि आप साल में 5-6 सेमी (1.9-2.3 इंच) तक बढ़ते रहते हैं

टान्नर चरण तीन

लड़कियों में

  • आमतौर पर 12 साल की उम्र के बाद होता है
  • आपका एरीयोला (areola) सूजता रहेगा और आपको अपनी पहली ब्रा खरीदने की आवश्यकता हो सकती है
  • आपके जघन बाल मोटे और घुंघराले हो जाएंगे और आपके अंडरआर्म के बाल उगने लगेंगे
  • आपके चेहरे और पीठ पर धब्बे (मुँहासे) विकसित हो सकते हैं
  • आप एक वर्ष में 8 सेमी (3.2 इंच) की उच्चतम विकास दर की औसत से अधिक बढ़ेंगी

लड़कों में

  • आमतौर पर 13 साल की उम्र के बाद होता है
  • आपका लिंग बढ़ेगा और लंबा होगा, और आपके अंडकोष (testicles) बढ़ते रहेंगे
  • आपके गुप्तांग के ऊपर की त्वचा के मुलायम टीले तक फैलने से आपके जघन बाल घने और घुंघराले हो जाएंगे
  • आपके स्तन थोड़े सूजने चाहियें (यह पूरी तरह से सामान्य है और इसका मतलब यह नहीं है कि आपमें स्तन उगेंगे)
  • आप अपनी नींद के दौरान ‘स्वपनदोष’ (wet dreams) - वीर्य शीघ्रपतन (semen) का अनुभव करना शुरू कर सकते हैं
  • आपकी आवाज़ में 'ब्रेक' होना चाहिए (आपकी आवाज़ की पिच और टोन थोड़े समय के लिए अचानक बदलना शुरू कर सकती हैं)
  • आपकी मांसपेशियों का आकार बढ़ जाएगा, और आप एक वर्ष में 7-8 सेमी (2.8-3.2 इंच) तक बढ़ जाएंगे

टान्नर चरण चार

लड़कियों में

  • आमतौर पर 13 साल की उम्र में होता है
  • आपके स्तन (breasts) धीरे-धीरे एक अधिक वयस्क आकार में विकसित होते हैं, आपके निप्पल और एरीयोला सूजन के साथ एक दूसरे टीले का निर्माण करते हैं जो स्तन के ऊपर होता है (आपके स्तन के बाकी हिस्सों के विकसित होते ही दूसरा टीला गायब हो जाएगा)
  • आपके जघन बाल दिखने में वयस्कों जैसे अधिक दिखने लगेंगे, लेकिन आपकी जांघ तक नहीं फैलेंगे
  • आपको आमतौर पर अपना पहला पीरियड शुरू हो जाएगा और इस चरण के अंत तक नियमित पीरियड होने चाहिए
  • आपकी वृद्धि दर धीमी होनी शुरू हो जाएगी, एक साल में औसतन 7 सेंटीमीटर (2.8 इंच) की वृद्धि होगी

लड़कों में

  • आमतौर पर लगभग 14 साल की उम्र में होता है
  • आपके लिंग और अंडकोष बढ़ते रहेंगे, और आपके अंडकोश की थैली गहरी हो जाएगी
  • आपके जघन बाल वयस्कों की तरह अधिक दिखाई देंगे, लेकिन आपकी आंतरिक जांघों तक नहीं फैलेंगे
  • आपके अंडरआर्म के बाल उगने शुरू होने चाहिए
  • आपकी आवाज़ स्थायी रूप से बदल जाएगी
  • आपको मुँहासे (acne) हो सकते हैं

टान्नर चरण पाँच (अंतिम चरण)

लड़कियों में

  • आमतौर पर 14 साल की उम्र के तुरंत बाद होता है
  • आपके स्तन के आसपास की सूजन गायब हो जाएगी क्योंकि आपके बाकी स्तन आकार में वयस्क हो जाते हैं
  • आपके जघन बाल आपके आंतरिक जांघ तक फैलने चाहिए
  • आपके जननांगों (genitals) को इस चरण के अंत तक पूरी तरह से विकसित होना चाहिए
  • लगभग 16 वर्ष की आयु तक आपका बढ़ना बंद हो जाना चाहिए और आप शारीरिक रूप से परिपक्व होंगी

लड़कों में

  • आमतौर पर लगभग 15 साल की उम्र में शुरू होता है
  • आपके जननांग एक वयस्क की तरह दिखेंगे, और जघन के बाल आंतरिक जांघ तक फैल जाएंगे
  • आपके चेहरे पर बाल उगना (facial hair) शुरू हो जाएँगे और आप शेविंग शुरू कर सकते हैं
  • आपकी वृद्धि धीमी हो जानी चाहिए और आपका लगभग 17 वर्ष की आयु में बढ़ना बंद हो जाना चाहिए (लेकिन आपकी मांसपेशियां बढ़ना जारी रख सकती हैं)
  • अधिकांश लड़के 18 से 19 वर्ष की आयु के बीच पूर्ण वयस्क परिपक्वता तक पहुंच जाएंगे

मुख्य परिवर्तन (key changes)

मुँहासे (acne)

प्यूबर्टी के दौरान, आपका शरीर टेस्टोस्टेरोन हार्मोन (testosterone hormone) के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाता है, जो लड़कों और लड़कियों दोनों में मौजूद होता है। टेस्टोस्टेरोन आपकी त्वचा की छोटी ग्रंथियों के लिए बहुत अधिक तेल (सीबम) (sebum) पैदा करने का कारण बनता है।

डेड स्किन बालों के रोम (आपकी त्वचा में एक छोटी ट्यूब जो बालों को अपनी जगह पर बनाए रखती हैं) के खुलने को भी रोक सकती है । सीबम अवरुद्ध रोम के पीछे इकठ्ठा हो सकता है, जिससे ब्लैकहेड्स या व्हाइटहेड्स (धब्बे) विकसित हो सकते हैं।

हार्मोनल परिवर्तन भी आपकी त्वचा में एसिड के स्तर को बदल देगा, जो बैक्टीरिया के विकास को प्रोत्साहित करेगा। जब बैक्टीरिया एक अवरुद्ध बाल रोम को संक्रमित करते हैं, तो वे एक गहरा संक्रमण बना सकते हैं, जैसे कि स्पॉट (पुस्टुल) या नोड्यूल।

हल्के से मध्यम मुँहासों का आमतौर पर एक जीवाणुरोधी क्रीम का उपयोग करके इलाज किया जा सकता है। यदि आपके मुँहासे अधिक गंभीर है, तो आपका डॉक्टर एंटीबायोटिक गोलियों की सलाह दे सकता है।

मुँहासे के बारे में अधिक जानकारी पढ़ें।

शरीर की दुर्गन्ध (Body odour)

प्यूबर्टी के दौरान, आपका शरीर आपके बगल, स्तनों और जननांगों के आसपास पसीने की बड़ी ग्रंथियों को विकसित करना शुरू कर देता है। इन्हें एपोक्राइन ग्रंथियों (Apocrine glands) के रूप में जाना जाता है। एपोक्राइन ग्रंथियां तनाव, जज्बात और यौन उत्तेजना के समय पसीना छोड़ती हैं। कुछ मामलों में, अधिक पसीने से शरीर से दुर्गंध आ सकती है।

शरीर की गंध के बारे में अधिक जानकारी लें।

पीरियड्स (Periods)

एक लड़की के पीरियड आमतौर पर 10 और 16 की उम्र के बीच शुरू होते हैं; आमतौर पर 12-13 की उम्र में| आपके पीरियड रजोनिवृत्ति तक जारी रहेंगे, जो आमतौर पर 45-55 वर्ष की आयु में होती है।

आपके पीरियड आने वाले दिनों में, आपमें कई लक्षण हो सकते हैं जिनमें शामिल हैं:

  • स्तनों में सूजन (sore breasts)
  • चिड़चिड़ापन (irritability)
  • पीठ दर्द (backache)
  • धब्बे (spots)
  • बहुत भावुक या परेशान महसूस करना (feeling very emotional or upset)

एक बार आपके पीरियड शुरू हो जाने के बाद ये लक्षण खत्म हो जाने चाहिए। कई लड़कियों और महिलाओं को उनके पेट, पीठ और योनि में दर्द या ऐंठन महसूस होती है। इसे अक्सर पीरियड के दर्द के रूप में जाना जाता है। पेरासिटामोल (paracetamol ) लेने से पीरियड के दर्द से राहत मिल सकती है।

पीरियड्स के बारे में अधिक जानकारी लें।

मनोवैज्ञानिक और व्यवहारिक परिवर्तन (Psychological and behavioural changes)

कई लोगों के लिए, प्यूबर्टी विशेष रूप से एक कठिन समय हो सकता है। आप अपने शरीर में होने वाले परिवर्तनों और संभावित दुष्प्रभावों जैसे कि मुंहासे या शरीर की गंध का सामना करने के लिए मजबूर हो जाते हैं, वो भी उस समय जब आप अपने शरीर और आत्म-छवि के बारे में आत्म-जागरूक महसूस करने लगते हैं।

प्यूबर्टी एक रोमांचक समय भी हो सकता है, क्योंकि आप में नई भावनाएं और जज्बात विकसित होते हैं। हालांकि, प्यूबर्टी के दौरान अनुभव किए गए 'भावनात्मक रोलरकोस्टर' के मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक प्रभाव हो सकते हैं, जैसे:

  • मिजाज मेन अकारण परिवर्तन (unexplained mood swings)
  • कम आत्म सम्मान (low self-esteem)
  • आक्रामकता (aggression)
  • डिप्रेशन (depression)

ये भावनाएं प्यूबर्टी से गुजरने और बढ़ने का एक सामान्य हिस्सा हो सकती हैं। लेकिन अगर वे आपके जीवन पर गंभीर प्रभाव डाल रही हैं, तो आप अपने किसी करीबी से बात करना चाह सकते हैं, जैसे कोई करीबी दोस्त या रिश्तेदार या सलाह के लिए अपने डॉक्टर के पास जाएं।

प्यूबर्टी का कारण (Causes of puberty)

प्यूबर्टी शरीर में कुछ जीन्स (genes) और हार्मोन (hormone) के कारण आता है। यह अभी तक पूरी तरह से समझा नहीं गया है कि कुछ लोग प्यूबर्टी का अनुभव दूसरों की तुलना में पहले या बाद में क्यों करते हैं, हालांकि कई संभावित कारक हैं।

जीन्स (Genes)

शोध बताते हैं कि प्यूबर्टी एक अकेले जीन, जिसे किस1 (KiSS1) कहा जाता है, के साथ शुरू होता है, जो आपके शरीर में जन्म से समय से ही होता है।

एक और जीन जिसे डॉक्टर54 (doctorR54) कहा जाता है आपके शरीर में कई वर्षों तक सुसुप्त (निष्क्रिय) पड़ा रहता है जब तक कि अचानक इसे एक विशेष रसायन किस्सपेपटिन्स (kisspeptins) द्वारा सक्रिय नहीं कर दिया जाता, जो किस1 (kiss1) जीन द्वारा बनाया जाता है।

प्यूबर्टी की प्रक्रिया तब शुरू होती है जब डॉक्टर54 (doctorR54) जीन आपके मस्तिष्क को संकेत भेजता है और आपके शरीर में एक चेन रिएक्शन को ट्रिगर करता है। आपके मस्तिष्क का एक क्षेत्र जिसे हाइपोथैलेमस कहा जाता है, वह पिट्यूटरी ग्रंथि (pituitary gland) (मस्तिष्क के आधार के पास एक मटर के आकार की ग्रंथि) को उस हार्मोन को रिलीज़ करने का संकेत देता है जो सेक्स हार्मोन बनाने के लिए अंडाशय (लड़कियों में) या अंडकोष (लड़कों में) को उत्तेजित करता है।

इस चेन रिएक्शन और हार्मोन के रिलीज होने से प्यूबर्टी में होने वाले बदलाव होते हैं।

हार्मोन (Hormones)

अंडाशय और अंडकोष प्यूबर्टी के दौरान होने वाले परिवर्तनों के लिए जिम्मेदार दो सेक्स हार्मोन उत्पन्न करते हैं:

टेस्टोस्टेरोन वृषण (अंडकोष) द्वारा निर्मित होता है - लड़कों में, यह लिंग और वृषण के विकास को उत्तेजित करता है और मांसपेशियों और जघन बालों के विकास का कारण बनता है। यह आवाज को धीमा करने के लिए भी जिम्मेदार है।

महिलाओं और लड़कियों के शरीर में भी टेस्टोस्टेरोन होता है, जो मांसपेशियों और हड्डियों की मजबूती को बनाए रखने में मदद करने के लिए अंडाशय द्वारा कम मात्रा में निर्मित होता है।

ओस्ट्रोडिओल (Oestrodiol) अंडाशय द्वारा निर्मित होता है - लड़कियों में, यह स्तनों और महिला प्रजनन प्रणाली के विकास को प्रेरित करता है, और मासिक धर्म चक्र को विनियमित करने में मदद करता है।

लड़कों और पुरुषों के शरीर में भी ओस्ट्रोइडॉल होता है, जो मस्तिष्क और वृषण द्वारा कम मात्रा में निर्मित होता है और हड्डियों के घनत्व को बनाए रखने में मदद करता है।

प्यूबर्टी के ट्रिगर (Triggers of puberty)

यह माना जाता है कि प्यूबर्टी पर्यावरण (environmental) और आनुवंशिक (genetic) कारकों से हो सकती है।

अध्ययनों से पता चला है कि औसतन, काली नस्ल की लड़कियां में सफेद नस्ल वाली लड़कियों की तुलना में प्यूबर्टी की शुरुआत पहले होती है। लेकिन यह दिखाने के लिए कोई सबूत नहीं है कि काले लड़के सफेद लड़कों की तुलना में तेजी से परिपक्व होते हैं।

आहार (diet) और पोषण (nutrition) भी महत्वपूर्ण कारक माने जाते हैं, खासकर लड़कियों में। अध्ययनों से पता चला है कि अधिक वजन या मोटापे से ग्रस्त लड़कियों में प्यूबर्टी जल्दी शुरू हो जाता है, जबकि कम वजन वाली लड़कियों में देर से शुरू होता है।

लड़कियों में मोटापे (obesity) की हालिया बढ़ती प्रवृत्ति यह बता सकती है कि लड़कियों की प्यूबर्टी की शुरुआत की औसत उम्र हाल के वर्षों में क्यों गिर रही है। हालांकि, यह ज्ञात नहीं है कि लड़कों में मोटापे का यही प्रभाव क्यों नहीं होता है।

इस बारे में बहुत अनिश्चितता है कि कुछ कारक प्यूबर्टी को ट्रिगर क्यों करते हैं। इस क्षेत्र में अनुसंधान जारी है।

जल्दी या विलंबित प्यूबर्टी ](https://www.livehealthily.com/parenting/puberty/#complications)[(early or delayed puberty) के बारे में अधिक जानकारी पढ़ें।

प्यूबर्टी की जटिलताएं (Complications of puberty)

कुछ बच्चों में प्यूबर्टी पहले या बाद में आने के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं। कुछ मामलों में यह एक अंतर्निहित स्थिति का संकेत हो सकता है और परीक्षणों की जरुरत हो सकती है।

जल्द (असामयिक) प्यूबर्टी (Early (precocious) puberty)

असामान्य रूप से जल्दी या असामयिक, प्यूबर्टी का निदान तब किया जाएगा यदि प्यूबर्टी के लक्षण - जैसे स्तन विकास, वृषण का बढ़ना और जघन बालों का बढ़ना - लड़कियों में छह से आठ साल की उम्र से पहले और लड़कों में नौ साल की उम्र से पहले शुरू होता है।

कारण

प्यूबर्टी की शुरुआत आमतौर पर doctorR54 जीन द्वारा की जाती है, जो आपके मस्तिष्क को संकेत भेजता है और आपके शरीर में एक प्रतिक्रियाओं की ऋंखला और हार्मोन की रिलीज़ को ट्रिगर करता है।

इस प्रतिक्रियओं की श्रृंखला की जल्द शुरुआत निम्न कारणों से हो सकती है:

• मस्तिष्क में एक समस्या (जैसे कि ट्यूमर)

• सिर पर आघात के कारण मस्तिष्क की चोट

• मस्तिष्क का संक्रमण (जैसे मैनिंजाइटिस) (meningitis)

• अंडाशय या थायरॉयड ग्रंथि में कोई समस्या

• एक आनुवंशिक स्थिति (यह आपके परिवार में हो सकती है)

हालाँकि, ज्यादातर लड़कियों में प्यूबर्टी जल्दी शुरू होने का कोई ज्ञात कारण नहीं है। लड़कों में, जल्द प्यूबर्टी कम आम है और इसके एक अंतर्निहित चिकित्सा समस्या के साथ जुड़े होने की अधिक संभावना है।

जल्द प्यूबर्टी होने की स्थिति में उपचार (Treatment for early puberty)

जल्द प्यूबर्टी के कारण का निदान करने के लिए, आपका डॉक्टर आपके हार्मोन की किसी भी समस्या की जांच के लिए रक्त परीक्षण की सलाह दे सकता है।

अल्ट्रासाउंड स्कैन (ultrasound scan) (yourmd: / condition / अल्ट्रासाउंड-स्कैन) और चुंबकीय अनुनाद इमेजिंग (MRI) स्कैन का उपयोग ट्यूमर और ग्रंथियों और अंगों के कार्य की जांच के लिए भी किया जा सकता है।

कारण के आधार पर, प्यूबर्टी की जल्द शुरुआत का दो तरीकों से इलाज किया जा सकता है:

• अंतर्निहित कारण का इलाज करना, जैसे कि ट्यूमर

• यौन विकास को रोकने के लिए दवा के साथ सेक्स हार्मोन के उच्च स्तर को कम करना

दवा के साथ उपचार की आमतौर पर केवल तभी सलाह दी जाती है अगर यह लगे कि जल्द प्यूबर्टी से आपको जीवन में बाद में समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कमजोर हड्डियां, या विशेष रूप से छोटा क़द। यदि ऐसा मामला नहीं है, तो जल्दी प्यूबर्टी शुरू होने से आमतौर पर कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं होगी।

विलंबित प्यूबर्टी (Delayed puberty)

लड़कियों में, असामान्य रूप से देरी से प्यूबर्टी आने का निदान किया जाएगा यदि:

  • 14 साल की उम्र तक स्तन के विकास के कोई संकेत न हों
  • 14 साल की उम्र तक कोई जघन बाल न हों
  • प्यूबर्टी की शुरुआत के पांच साल बीत चुके हों और स्तन पूर्ण वयस्क विकास तक नहीं पहुंचे हों
  • एक लड़की की 16 साल की उम्र तक उसके पीरियड न आयें हों

लड़कों में, असामान्य रूप से देरी से पुबेरटी आने का निदान किया जाएगा यदि:

  • 14 साल की उम्र तक वृषण विकास के कोई संकेत नहीं हों
  • 15 साल की उम्र तक कोई जघन बाल न हों
  • प्यूबर्टी की शुरुआत के पांच साल बीत चुके हों लेकिन लिंग और अंडकोष अभी तक पूर्ण वयस्क विकास तक न पहुंचे हों

कारण (Causes)

प्यूबर्टी की शुरुआत आमतौर पर doctorR54 जीन द्वारा ट्रिगर की जाती है, जो आपके मस्तिष्क को संकेत भेजता है और आपके शरीर में एक प्रतिक्रियाओं की ऋंखला और हार्मोन के रिलीज़ को ट्रिगर करता है।

इस प्रतिक्रियाओं की ऋंखला (चेन रिएक्शन) की शुरुआत में देरी की वजह हो सकती है:

विलंबित प्यूबर्टी के लिए उपचार (Treatment for late puberty)

यदि विलंबित प्यूबर्टी के लिए कोई स्पष्ट कारण नहीं है, जैसे कि दीर्घकालिक बीमारी, तो आपके चिकित्सक को कारण का निदान करने के लिए कुछ परीक्षणों को करने की आवश्यकता हो सकती है।

आपके हार्मोन के साथ किसी भी समस्या की जांच के लिए आपको शायद रक्त परीक्षण (blood tests) करवाना होगा। ट्यूमर और ग्रंथियों और अंगों के कार्य की जांच के लिए अल्ट्रासाउंड और एमआरआई स्कैन का उपयोग भी किया जा सकता है।

जल्द प्यूबर्टी की तरह ही, विलंबित प्यूबर्टी के लिए उपचार अंतर्निहित कारण पर निर्भर करेगा। ज्यादातर मामलों में, अंतर्निहित कारणों का इलाज करके प्यूबर्टी ट्रिगर होना चाहिए। कुछ मामलों में, आपको प्यूबर्टी की शुरुआत को ट्रिगर करने के लिए हार्मोन युक्त दवाएँ लेने की आवश्यकता हो सकती है।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।