COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
7 min read

अनियमित माहवारी (Irregular or infrequent periods)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

कुछ महिलाओं ने महसूस किया है कि उनका मासिक चक्र (menstrual cycle) हमेशा नियमित नहीं होता। उनके पीरियड्स (periods) पहले, देर से या वो कितने समय तक थे या हर समय वो कितने भारी थे। इसमें बदलाव हो सकता है।

आपका सामान्य माहवारी चक्र (menstrual cycle) परेशान हो सकता है अगर आप अपने गर्भनिरोधक (contraception) के तरीके को बदलती हैं या अगर आपके प्रजनन वाले हार्मोन (reproductive hormones) एस्ट्रोजन (oestrogen) और प्रोजेस्टेरोन (progesterone) में असंतुलन है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम से लेकर बहुत ज़्यादा वज़न घटना और अत्यधिक व्यायाम जैसे बहुत से कारक हार्मोन असंतुलन का कारण बन सकते हैं।

अनियमित पीरियड्स के कारणों के बारे में और पढ़ें।

अनियमित माहवारी का इलाज करना (Treating irregular periods)

यौवनावस्था के दौरान या मीनोपॉज (menopause) से पहले अनियमित पीरियड्स (माहवारी) सामान्य है। आमतौर पर इस समय के दौरान इलाज की ज़रूरत नहीं पड़ती है।

लेकिन आप चिंतित हैं क्योंकि आपके पीरियड्स विशेष रूप से भारी, ज़्यादा देर तक या महीने से पहले आते हैं या आपको पीरियड्स के बीच में या सेक्स के बाद खून निकलता है, अपने डॉक्टर को दिखाएं।

आपको अलग गर्भनिरोधक (contraceptive) या अंदरूनी स्वास्थ्य अवस्था के पता लगाने की ज़रूरत पड़ सकती है।

अनियमित पीरियड्स के इलाज के बारे में और पढ़ें

औसत माहवारी चक्र (The average menstrual cycle)

औसत माहवारी चक्र (menstrual cycle) 28 दिनों तक रहता है लेकिन 24-35 दिनों के बीच भी हो सकता है।

यौवनावस्था के बाद बहुत सी महिलाएं पीरियड्स के बीच में समान समय तक की नियमित माहवारी चक्र (menstrual cycle) विकसित करती हैं।

माहवारी में खून निकलना 2 से 7 दिन तक और औसतन 5 दिन तक रहता है

पीरियड्स और पीरियड की समस्या के बारे में अधिक जानकारी (More information on periods and periods problems)

जानकारी के लिए नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करें:

अनियमित माहवारी के कारण (Causes of irregular or infrequent periods)

आपके सामान्य माहवारी चक्र में बाधा उत्पन्न हो सकती है अगर आप अपने गर्भनिरोधक (contraception) के तरीके को बदलती हैं या अगर आपके प्रजनन वाले हार्मोन (reproductive hormones) एस्ट्रोजन (oestrogen) और प्रोजेस्टेरोन (progesterone) में असंतुलन है।

यौवनावस्था के कुछ साल बाद बाद या मीनोपॉज से पहले हार्मोन में असंतुलन होना असमान्य नहीं है। यह आपके माहवारी चक्र (menstrual cycle) को लम्बा या छोटा कर सकता है। आपका पीरियड्स हल्का या भारी भी हो सकता है।

अगर आपका अनियमित पीरियड्स (irregular periods) उम्र सम्बन्धी कारकों के कारण हैं तो आपको आमतौर पर डॉक्टर को दिखाने की ज़रूरत नहीं पड़ती है।

जीवनशैली (Lifestyle)

निम्न जीवनशैली भी आपके हार्मोन के संतुलन को खराब कर सकते हैं और अनियमित रक्तस्राव का कारण बन सकते हैं।:

  • बहुत ज़्यादा वज़न घटना या बढ़ना
  • अत्यधिक व्यायाम
  • तनाव

गर्भनिरोधक (contraceptive)

अंतर्गर्भाशयी सिस्टम (intrauterine system (IUS)) या गर्भनिरोधक गोली (contraceptive pills) पीरियड्स के बीच में खून बहने का कारण बन सकते हैं।

अंतर्गर्भाशयी डिवाइस अनियमित पीरियड्स का कारण नहीं बनता है लेकिन अत्यधिक रक्तस्राव या दर्दनाक रक्तस्राव का कारण बन सकता है।

जब पहली बार गर्भनिरोधक का इस्तेमाल किया जाता है तो छोती मात्रा में रक्तस्राव सामान्य है जिसे ब्रेकथ्रू ब्लीड के नाम से जानते हैं। ये सामान्य पीरियड्स से हल्के और भारी हो सकते हैं। और पहले कुछ महीनों के अंदर बन्द हो जाते हैं।

पोलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (polycystic ovary syndrome)

पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (polycystic ovary syndrome) तब होता है जब छोटे सिस्ट (cysts) छोटे तरल से भरी थैली अंडाशय (ovaries) में विकसित होती है।

PCOS के सामान्य लक्षणों में अनियमित या हल्के पीरियड्स या पीरियड्स का बिल्कुल नहीं होना शामिल होता है। यह इसलिए क्योंकि PCOS वाली महिलाओं में ओवुलेशन (ovulation) सामान्य तरीके से नहीं होने पर हार्मोन का निर्माण भी असंतुलित हो सकता है और आपमें टेस्टेस्टेरोन (testosterone) का स्तर बढ़ सकता है। यह मेल हार्मोन है जो महिलाओं में थोड़ी मात्रा में मिलता है।

पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के बारे में और पढ़ें।

स्त्री रोग समस्या (Gynaecological problems)

अनियमित रक्तस्राव संदेहरहित गर्भावस्था, जल्दी हुए गर्भपात या गर्भ (womb) या अंडाशय (ovaries) के साथ हुई समस्या के कारण हो सकता है।अगर आगे की जांच और इलाज की ज़रूरत पड़ती है तो आपका डॉक्टर आपको स्त्री रोग विशेषज्ञ (gynaecologist) के पास भेज सकता है जो महिलाओं के प्रजनन तंत्र सम्बन्धी बीमारी की विशेषज्ञ होती हैं।

थायरॉइड डिसऑर्डर (thyroid disorder)

थायरॉइड डिसऑर्डर भी अनियमित पीरियड्स का संभावित लेकिन दुर्लभ कारण है। थायरॉइड ग्रन्थि (thyroid gland) गले में पाई जाती है जो हार्मोन का निर्माण करके शरीर के मेटाबोलिज्म (metabolism) को नियंत्रित करती है। डॉक्टर खून की जांच करके आपके खून में थायरॉइड हार्मोन के स्तर की जांच कर आपके थायरॉइड समस्या का पता लगा सकता है।

इसके बारे में अधिक जानकारी पढ़ें:

अनियमित पीरियड्स का इलाज (Treatment for irregular or infrequent periods)

यौवनावस्था के आरम्भ के दौरान या मीनोपॉज (रजोनिवृत्ति) से पहले अनियमित पीरियड्स सामान्य है। आमतौर पर इस समय के दौरान इलाज की ज़रूरत नहीं पड़ती है।

मुझे अपने डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए (When should I see my doctor?)

यदि आपके पीरियड्स में निम्न में से कोई भी बदलाव हो तो अपने डॉक्टर स बात करें:

  • अगर आपको बहुत हेवी पीरियड्स है जहां आपको अपने टैम्पॉन या पैड को घण्टे दो घण्टे पर बदलने की ज़रूरत पड़ती है, या आपको दोनों पहनने की ज़रूरत पड़ती है
  • आपका पीरियड्स 7 दिन से ज़्यादा रहता है
  • पहले पीरियड की शुरुआत और अगले के बीच तीन सप्ताह से भी कम समय होता है
  • आपको पीरियड्स (periods) के बीच में खून निकलता है
  • आपको सेक्स के बाद खून निकलता है

आपका डॉक्टर अनियमित चक्र के अंदरूनी कारण का पता लगाने के लिए आपके जीवनशैली, पीरियड्स, और मेडिकल हिस्ट्री के बारे में पूछ सकते हैं।

कोई भी आवश्यक उपचार आपके अनियमित पीरियड्स के कारण पर निर्भर करेगा।

गर्भनिरोध के तरीके में बदलाव (Changing your method of contraception)

यदि आपको हाल ही में एक अंतर्गर्भाशयी डिवाइस (आईयूडी) फिट किया गया है और अनियमित रक्तस्राव का अनुभव हो रहा है जो कुछ महीनों में नहीं ठीक होता है, तो अपने डॉक्टर या प्रैक्टिस नर्स के साथ गर्भनिरोधक के तरीके को दूसरे पर बदलने की चर्चा करें।

अगर आपने नई गर्भनिरोधक गोली (contraceptive poll) लेनी शुरू की है जो अनियमित रक्तस्राव का कारण बन रही है। आपको बदलकर दूसरे तरह की गोली लेने की सलाह दी जा सकती है।

पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम का इलाज (Treating polycystic ovary syndrome)

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के साथ अधिक वजन वाली महिलाएं वजन कम करके लक्षणों में सुधार कर सकती हैं जो अनियमित पीरियड्स में भी मदद करेगा। वजन कम करने से आपके शरीर को अधिक इंसुलिन (insulin) बनाने की ज़रूरत नहीं होती है, जो टेस्टोस्टेरोन (testosterone) के स्तर को कम करता है और ओव्यूलेशन (ovulation) की आपकी संभावना में सुधार करता है।

(PCOS) के अन्य इलाजों में हार्मोन इलाज और डायबिटीज़ (diabetes) की दवाई शामिल है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के इलाज के बारे में और पढ़ें।

थायरॉइड डिसऑर्डर का इलाज (Treating thyroid disorders)

थायरॉइड डिसऑर्डर के इलाज का उद्देश्य आपके खून में थायरॉइड हार्मोन (thyroid hormone) के सामान्य स्तर को वापिस लाना होता है।

थायरॉइड ग्रंथि को बहुत ज़्यादा या बहुत कम हार्मोन निर्माण से रोकने के लिए दवाई लेने की ज़रूरत पड़ सकती है।

इसके बारे में और पढ़ें:

इलाज के बाद आपके माहवारी का चक्र सामान्य हो सकता है। अगर इन नहीं होता तो आपके डॉक्टर को दिखाए।

परामर्श और तनाव मैनेजमेंट (Counselling and stress management)

तनाव या अचानक वज़न घटना अनियमित पीरियड्स का कारण हो सकता है। स्ट्रेस तकनीक (stress technique), स्ट्रेस मैनेजमेंट या परामर्श जिसमें थेरेपिस्ट से बात करते हैं इनकी सलाह दी जा सकती है।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।