COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
4 min read

17-20 हफ्तों की गर्भावस्था

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

जब तक आप 17 हफ्ते की गर्भवती होती हैं, आपका शिशु अब तेजी से बढ़ता है और वजन में 150 ग्राम के लगभग का हो जाता है।

उसका चेहरा अब ज्यादा इंसान की तरह लगने लगता है और भौहें और पलकें विकसित होने लगती हैं। आपके शिशु की आँखें अब घूम सकती हैं, हालाँकि पलकें अभी भी बंद ही होती हैं , और मुंह अब खुल और बंद हो सकता है।

अँगुलियों की त्वचा पर लकीरें बन चुकी होती हैं , इसलिए अब शिशु की अपनी खुद की अँगुलियों की अलग छाप बन चुकी है। हाथ और पैरों की अँगुलियों के नाखून अब बढ़ रहे हैं और शिशु की हाथ की पकड़ मजबूत हो जाती है।

शिशु अब बहुत घूमता है और बाहर की दुनिया की आवाजों, जैसे तेज संगीत पर प्रतिक्रिया दे सकता है। सम्भव है, कि आप इन हरकतों को अभी पहचान नहीं पाएं, खासकर अगर यह आपकी पहली गर्भावस्था है। अगर आप पहचान पाती हैं, तो यह शायद एक हल्की गुदगुदी या फड़फड़ाहट जैसा महसूस होगा।

आपका शिशु थोड़ा वजन बढ़ा रहा है , मगर अब भी उसमे वसा या फैट की मात्रा कम है इसलिए अगर आप उसे देख पाती हैं तो वह थोड़ा झुर्रीदार दिखेगा या दिखेगी । शिशु गर्भावस्था के बचे हुए समय में वजन बढ़ाता रहेगा और जन्म के आखिरी कुछ हफ्तों पहले ' भर जायेगा'।

20 वें हफ्ते तक आपके शिशु की त्वचा एक सफेद चिकनाहट वाले पदार्थ से ढक जाती है जिसे वर्निक्स (vernix) कहते हैं। यह माना जाता है, की यह पदार्थ एमनियोटिक द्रव (amniotic fluid) से त्वचा की रक्षा करने में मदद करता है ।

20 वें हफ्ते की गर्भावस्था

20 वें हफ्ते में आप अपनी गर्भावस्था के आधे में आ चुकी हैं। जब आप 17 वें या 18 वें हफ्ते में थीं तब आपने अपने शिशु को पहली बार हलचल करते हुए अनुभव किया होगा। अधिकांश प्रथम बार माँ बनने वाली स्त्रियां 18 से 20 वें हफ्ते के बीच में यह महसूस कर पाती हैं।

शुरू में आपको एक फड़फड़ाहट या बुलबुले बनने जैसा महसूस होगा , या फिर हल्की हलचल का आभास होगा। बाद में आप हलचल को पहचानने में चूक नहीं कर सकती और यहां तक कि शिशु को हाथ -पांव मारते हुए महसूस भी सकती हैं। अक्सर आप ये भी अंदाजा लगा सकती हैं कि कौन सा उभार हाथ का है और कौन सा पैर का ।

आपके पेट के बीच में नीचे की तरफ एक गहरी रेखा बन सकती हैं। आपके बढ़ते हुए उभार को ठीक से समायोजित करने के लिए आपकी पेट की त्वचा फैलती है और उस प्रक्रिया में त्वचा के रंग का गहरा-हल्का होना एक सामान्य बात है। बाल झड़ने की सामान्य प्रक्रिया धीमी हो जाती है इसलिए आपके बाल घने और चमकदार लगने लगते हैं।

सामान्य समस्याओं में थकान महसूस होना और नींद ना आना शामिल है। नींद ना आना सामान्य है पर ऐसा बहुत कुछ है जो आप अपने को सुलाने के लिए कर सकती हैं, जिसमे अपने बढ़ते हुए उभार को तकियों का सहारा देना शामिल है।

कुछ स्त्रियों को सरदर्द भी होता है। गर्भावस्था में सरदर्द सामान्य है , पर अगर ये तेज हैं तो किसी गंभीर समस्या की निशानी हो सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान स्कैन

जब आप 18 -20 हफ्ते की गर्भवती होती हैं तब आपको एनॉमली स्कैन (anamoly scan) - शिशु में किसी असामान्यता को जांचने के लिए, की सलाह दी जाती है। आपका डॉक्टर या दाई आपको इस बारे में सूचना दे सकते हैं और आपके किसी भी सवाल का जवाब भी दे सकते हैं।

गर्भावस्था के मध्य के हफ़्तों लिए सुझाव

व्यायाम करना और कोई गतिविधि करते रहना आपके और आपके शिशु दोनों के लिए अच्छा होता है।

गर्भावस्था में पौष्टिक भोजन करना आपके शिशु को विकास करने और बढ़ने में, और आपको स्वस्थ और चुस्त-दुरुस्त रखने में मदद करता है।

ध्यान रखने वाले कुछ लक्षण या चेतावनी

योनि से रक्तस्राव किसी गंभीर समस्या के लक्षण हो सकते हैं, इसलिए गर्भावस्था में योनि से रक्तस्राव में मदद की जरूरत है।

गर्भावस्था में खुजली होना लिवर या जिगर की एक बहुत कम पाई जाने वाली बीमारी, गर्भावस्था की इंट्राहेप्टिक कोलेस्टेसिस (intrahepatic cholestasis), जिसे कभी-कभी ओब्स्टेट्रिक कोलेस्टेसिस (obstetric cholestasis) या ओसी (OC) भी कहा जाता है, का लक्षण हो सकता है।

अगर आप अपना शिशु खो देती हैं, तो बहुत ही जरूरी है, कि आपको वो सब सहारा मिले जिसकी आपको जरूरत है।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।