1 min read

लड़कों और तस्र्ण अवस्था(प्यूबर्टी) से जुड़े सवाल जवाब

मेडिकली रिव्यूड

यौवन या तरुण अवस्था किसी लड़के की बच्चे से पुरुष बनने की एक प्रक्रिया है। यहां यह बताया गया है कि किन बातों के लिए तैयार रहें।

मेरी तस्र्ण अवस्था कब शुरू होगी?

अगर आपका यौवन अभी तक शुरू नहीं हुआ है, तो चिंता न करें। ज्यादातर लड़के करीब 13 -14 साल की उम्र में इस अवस्था में पहुंचते हैं। हालांकि कुछ इस अवस्था में अपनी निर्धारित आयुसीमा से जल्दी, तो कुछ बाद में भी पहुंचते हैं।

असल में, हम सभी अलग-अलग हिसाब से बढ़ते और बदलते हैं । आप प्यूबर्टी के जल्दी या देर से आने के लिए कुछ नहीं कर सकते । जब आपका शरीर तैयार होगा, आप बदलाव महसूस करेंगे।

इस स्थिति में यह सामान्य सी बात है कि आप कभी-कभी भ्रमित या चिंतित महसूस करें। ऐसी स्थिति में आप उन लोगों से बात करें , जिनपर आप भरोसा करते हैं। यह आपके लिए काफी मददगार साबित होगा। जैसे कि आपके माता-पिता या एक विश्वसनीय शिक्षक।

मेरे शरीर का क्या होगा?

यौवन के शुरू होने के बहुत से संकेत हैं। हालांकि हर लड़का अलग है, लेकिन यहां कुछ सामान्य बदलाव होते हैं:

लंबाई बढ़ना

  • आपका शरीर बढ़ता है और यह अधिक मांसपेशियों वाला हो सकता है
  • बड़ा लिंग और अंडकोष
  • आपके अंडकोष और लिंग बढ़ते हैं और वे खुजली या असहज महसूस करा सकते हैं।

अप्रत्याशित इरेक्शन

इस स्थिति में आपका शरीर अधिक हार्मोन का उत्पादन करता है इसलिए ऐसे मे , जब आपको बिलकुल उम्मीद न हो तब आपको इरेक्शन हो सकता है।

धब्बे और पसीना

इस अवस्था में हार्मोन के चलते आपको ज्यादा पसीना आ सकता है, लेकिन जब तक आपकी व्यक्तिगत स्वच्छता अच्छी है, तब तक आप स्वस्थ दिख सकते हैं और महसूस कर सकते हैं।

मुँहासे के बारे में पढ़ें।

स्वपन दोष

इस अवस्था में आने के साथ ही आपका शरीर शुक्राणु का उत्पादन शुरू कर देता है और आपके सपने उत्तेजक हो सकते हैं। ऐसी अवस्था में जब आप सो रहे हों, इन सपनों के चलते आप स्खलन कर सकते हैं(आप अपने लिंग से शुक्राणु युक्त तरल पदार्थ निकालते हैं), यह सामान्य सी बात है।

बालों की वृद्धि

इस अवस्था में आपके शरीर पर ज्यादा बाल आ जाते हैं। इस दौरान आपकी बगल, पैर, हाथ, चेहरा, छाती और आपके लिंग के आसपास बाल आ जाते हैं।

आवाज का भारी होना

इस अवस्था में आने के साथ ही आपकी आवाज़ भी टूटने लगती है। इस दौरान आपकी आवाज़ भारी हो जाती है। ऐसा भी संभव है कि एक मिनट में आपकी आवाज भारी हो जाए और अगले ही पल पतली हो जाए। अंत में यह ठीक हो जाती है ।

मूड का पल पल बदलना

इस दौरान आपके मिज़ाज में तेजी से बदलाव होता है और आप भावुक भी हो सकते हैं। लेकिन समय बढ़ने के साथ आपकी ये भावनाएं शांत हो जाती हैं।

अधिक जानकारी के लिए , 'लड़कों के शरीर' के प्रश्न-उत्तर पढ़ें जिनमे लिंग के आकार और शुक्राणु से जुड़े सवालों के जवाब भी सम्मिलित हैं।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

आगे क्या पढ़ें
जब यौन संबंध जोखिम भरा हो जाए
असुरक्षित यौन संबंध काफी खतरनाक हो सकता है। ऐसा करने से गर्भ धारण होने का खतरा और यौन सम्बंधित संक्रमण, और एचआईवी (HIV) संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, ज...
पुरुष कंडोम : तथ्यों को जानें
पुरुषों के कंडोम के बारे में बहुत सारी निराधार जानकारियाँ प्रचलित हैं। इनका इस्तेमाल करने से पहले , इस बात को सुनिश्चित करें कि आप इसके तथ्यों को जानत...
सेक्सटिंगः क्या आप इसके खतरे जानते हैं?
अपने किसी जानने वाले को सेक्स संदेश या अपनी सेक्स से जुड़ी तस्वीरें भेजने से हो सकता है कोई नुकसान न हो लेकिन अगर ये किसी दूसरे के हाथ लग गईं तो क्या ...