COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
10 min read

गोनोरिया (gonorrhoea)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

गोनोरिया क्या है? (What is gonorrhoea)

गोनोरिया (gonorrhea) एक यौन संचारित संक्रमण (sexually transmitted infection) है जो नीसेरिया गोनोरिया (neisseria gonorrhoeae) या गोनोकोकस (gonococcus) नामक बैक्टीरिया के कारण होता है। इसे "द क्लैप (the clap)" के नाम से भी जानते हैं।

यह बैक्टीरिया मुख्य रूप से लिंग से होने वाले स्त्राव और वैजिनल द्रव्य (vaginal fluid) में पाया जाता है।

लोगों में गोनोरिया (gonorrhea) आसानी से इन माध्यमों से पहुँच सकता है:

  • असुरक्षित वजाइनल (vaginal), ओरल (oral) या एनल सेक्स (anal sex) से
  • वाइब्रेटर या अन्य सेक्स टॉय साझा करने से पहले न धुले हों या हर इस्तेमाल के बाद नए कॉन्डम से ढके नहीं गए हों तो

बैक्टीरिया गर्भाशय ग्रीवा (cervix), मूत्रमार्ग (urethra) (वह ट्यूब जिससे पेशाब शरीर के बाहर निकलती है), गुदा (rectum) और कम सामान्य रूप से आँख और गले को संक्रमित करता है।

संक्रमण गर्भवती महिला से उसके बच्चे में भी पहुँच सकता है। अगर आप गर्भवती हैं और आपको गोनोरिया है तो बच्चे के जन्म से पहले इसकी जांच और इलाज बहुत ज़रूरी है। बिना उपचार के गोनोरिया बच्चे के स्थायी अंधेपन का कारण बन सकता है।

गोनोरिया गले लगने, तौलिया, स्विमिंग पूल, टॉयलेट सीट या कप, प्लेट, छूरी-कांटा आदि साझा करने से नहीं फैलता है, क्योंकि बैक्टीरिया इंसानी शरीर के बाहर ज़्यादा देर तक जीवित नहीं रह सकता है।

संकेत और लक्षण (Signs and symptoms)

गोनोरिया के मुख्य लक्षणों में योनि (vagina) और लिंग (penis) से हरे या पीले रंग का गाढ़ा स्खलन, पेशाब करते समय दर्द का होना और महिलाओं में माहवारी (periods) के बीच में खून का निकलना है।

हालांकि लगभग 10 में से 1 पुरुष और आधी संक्रमित महिलाओं को कोई लक्षण महसूस नहीं होते हैं।

गोनोरिया (gonorrhea) के लक्षणों के बारे में और पढ़ें।

जांच करवाना (Getting tested)

अगर आपमें गोनोरिया के कोई भी लक्षण मौजूद हैं या आपको लगता है कि आपको STI हो सकता है तो आपको यौन स्वास्थ्य जांच के लिए सेक्सुअल हेल्थ क्लिनिक में जाना चाहिए।

जांच के लिए स्वैब (swab) के द्वारा आपके स्खलन का नमूना लेकर गोनोरिया (gonorrhea) का आसानी से पता लगाया जा सकता है। पुरुषों में इसका पता लगाने के लिए उनके पेशाब का नमूना जांच के लिए लिया जाता है।

यह बहुत ज़रूरी है कि आप जितनी जल्दी हो सके जांच कराएं। क्योंकि अगर इसका इलाज नहीं हुआ तो गोनोरिया बहुत गंभीर और दीर्घकालिक समस्याओं का कारण बन सकता है। जिसमें महिलाओं में बांझपन (infertility) या पेल्विक इन्फ्लेमेटरी बीमारी (pelvic inflammatory disease) शामिल है।

गोनोरिया का उपचार

गोनोरिया का इलाज आमतौर पर एक एंटीबायोटिक इंजेक्शन और एक एंटीबायोटिक गोली से होता है। असरदार इलाज के साथ आपके ज़्यादातर लक्षण कुछ दिनों में ठीक होने लगते हैं।

आपको आमतौर पर इलाज के एक दो हफ्ते बाद फॉलो अप अपॉइंटमेंट के लिए जाने की सलाह दी जा सकती है। ताकि यह पता लगाने के लिए कि आप संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं, दूसरी जांच शुरू की जा सके।

जब तक आप पूरी तरह ठीक नहीं हो जाते, आपको सेक्स से बचना चाहिए।

गोनोरिया (gonorrhea) का इलाज कैसे करें इस बारे में और पढ़ें।

कौन प्रभावित होता है? (Who's affected)

कोई भी जो यौन रूप से सक्रिय होता है उसे गोनोरिया हो सकता है। मुख्य रूप से वे लोग जो जल्दी-जल्दी साथी बदलते रहते हैं या गर्भनिरोधक प्रणाली जैसे सेक्स के दौरान कॉन्डम का इस्तेमाल नहीं करते हैं।

गोनोरिया का पहले किया हुआ सफल इलाज आपको दोबारा संक्रमित होने से नहीं बचाता है।

गोनोरिया से बचाव

गोनोरिया और अन्य STI को उचित गर्भनिरोधक और अन्य एहतियात बरतकर सफलतापूर्वक रोका जा सकता है। जैसे:

  • वजाइनल सेक्स के दौरान मेल कॉन्डम या फीमेल कॉन्डम का प्रयोग या एनल सेक्स के दौरान मेल कॉन्डम का इस्तेमाल करें
  • अगर आप ओरल सेक्स कर कर रहे हैं तो लिंग को ढँकने के लिए कॉन्डम का प्रयोग या मादा जननांग को ढकने के लिए लेटेक्स या चौकोर प्लास्टिक का इस्तेमाल करें
  • सेक्स टॉय को साझा ना करें या इस्तेमाल से पहले उसे धुलकर नए कॉन्डम लगाकर ही इस्तेमाल करें

अगर आपको चिंता है कि आपको STI है तो सलाह के लिए सेक्सुअल हेल्थ क्लिनिक जाएं।

गोनोरिया के लक्षण

गोनोरिया के लक्षण आमतौर पर संक्रमण के दो हफ्ते बाद दिखना शुरू हो जाते हैं। हालांकि कभी-कभी वह महीनों तक नहीं दिखते हैं।

लगभग 10 में से एक आदमी और आधी संक्रमित महिलाओं को स्पष्ट लक्षण नहीं अनुभव होते हैं; जिसका मतलब है कि स्थिति कभी-कभी बिना इलाज के चलती रहती है।

महिलाओं में लक्षण (Symptoms in women)

महिलाओं में गोनोरिया के निम्नलिखित लक्षण शामिल हो सकते हैं:

  • एक असामान्य योनि स्खलन (vaginal discharge) जो हरे या पीले रंग का पतला या पानी के जैसा हो सकता है
  • पेशाब करते समय दर्द या जलन
  • पेट के निचले हिस्से में दर्द (यह कम सामान्य है)
  • माहवारी (periods) के बीच में खून निकलना या सेक्स के बाद खून निकलना

पुरुषों में लक्षण (Symptoms in men)

पुरुषों में गोनोरिया (gonorrhea) के निम्नलिखित लक्षण शामिल हो सकते हैं:

  • पीनस के टिप से एक असामान्य स्खलन जो सफेद, पीला या हरा हो सकता है
  • पेशाब करते समय दर्द और जलन
  • लिंग के आगे की त्वचा में सूजन (inflammation)
  • अंडकोश (testicles) में दर्द

आँख, गले और गुदा में संक्रमण (Infection in the rectum, throat or eyes)

असुरक्षित एनल (anal) या ओरल (ओरल) सेक्स करने से पुरुषों और महिलाओं दोनों के गुदा (rectum), आँख और गले में संक्रमण हो सकता है। अगर संक्रमित सीमन (semen) या वजाइनल द्रव्य (vaginal fluid) आँखों के सम्पर्क में आता है तो आपको कंजक्टिवाइटिस (conjunctivitis) भी हो सकता है।

गुदा (rectum) में संक्रमण असहजता, दर्द और स्खलन का कारण बन सकता है। आँखों में संक्रमण परेशानी, दर्द, सूजन और स्खलन का कारण बन सकता है। गले में संक्रमण से आमतौर पर कोई लक्षण विकसित नहीं होता है।

इलाज के लिए सलाह लेना (Seeking medical advice)

अगर आपको लगता है कि आपको संक्रमण हुआ है और आपमें कोई स्पष्ट लक्षण नहीं हैं या लक्षण अपने आप जा चुके हैं तो भी गोनोरिया की जांच करवाना आवश्यक है।

अगर गोनोरिया का बिना पता लगाए और बिना इलाज के छोड़ दिया जाता है तो आप लगातार संक्रमण फैला सकते हैं और यहाँ संभावित रूप से गंभीर परेशानी के होने का खतरा है जिसमें बांझपन (infertility) शामिल है।

इनके बारे में और पढ़े:

गोनोरिया का पता लगाना

गोनोरिया का पता लगाने का एकमात्र उपाय है इसकी जांच करवाना। अगर आपको शंका है कि आपको गोनोरिया या कोई और सेक्सुअल संचारित संक्रमण (sexual transmitted infection) है तो यह ज़रूरी है कि जांच में देरी ना हो।

आप तब भी जांच करवा सकते हैं जब आपमें कोई लक्षण ना हो।

गोनोरिया का जल्दी पता लगाने और इलाज करवाने से पेल्विक इन्फ्लेमेटरी बीमारी (pelvic inflammatory disease) या अंडकोष (testicles) में संक्रमण के विकसित होने का खतरा कम हो जाता है। दीर्घकालिक संक्रमण से विकसित परेशानी का इलाज और मुश्किल हो जाता है।

किसकी जांच होनी चाहिए (Who should get tested)

आपको जांच की सलाह दी जाती है अगर आपको:

  • आप या आपके साथी को लगता है कि आपमें गोनोरिया के लक्षण हैं
  • आपने अपने नए साथी के साथ असुरक्षित सेक्स किया है
  • आप या आपके साथी ने अन्य लोगों के साथ असुरक्षित सेक्स किया है
  • आप में कोई और सेक्सुअल संचारित संक्रमण (STI) है
  • आपका सेक्सुअल साथी आपको बताता है कि उसे (STI) है
  • आपके वजाइनल जांच के दौरान आपका डॉक्टर बता सकता है कि आपके गर्भाशय ग्रीवा (cervix) की कोशिकाओं (cells) में सूजन है
  • आप गर्भवती हैं या गर्भधारण की योजना बना रही हैं

गोनोरिया के लिए जांच

गोनोरिया की जांच करने के कई अलग-अलग तरीके हैं। बहुत से मामलों में जांच के लिए स्वैब से नमूने लिए जाते हैं; हालांकि पुरुषों को बस पेशाब के नमूने देने के लिए कहा जाता है।

जो जगह संक्रमित हो सकती है, उससे स्खलन के नमूने लेने के लिए स्वैब (swab) से सफाई करते हैं। इसमें कुछ ही सेकेंड लगते हैं और यह दर्दनाक नहीं होता है। हालांकि ये थोड़ा असहज हो सकता है।

गोनोरिया की जांच में पुरुषों और महिलाओं पर किये जाने वाले अलग-अलग जांच नीचे बताये गए हैं।

महिलाएं (Women)

महिलाओं के लिए डॉक्टर अंदरूनी जांच के दौरान आमतौर पर स्वैब (swab) के द्वारा वजाइना (vagina) या गर्भाशय ग्रीवा (cervix) से नमूने इकठ्ठे करता है। कुछ मामलों में मूत्राशय (urethra) (एक ट्यूब जिससे पेशाब शरीर से बाहर निकलता है) से भी नमूने लिए जा सकते हैं।

कभी-कभी आपको खुद स्वैब (swab) या टैम्पॉन (tampon) के द्वारा वजाइना (vagina) के अंदर से नमूने लेने को कहा जा सकता है।

महिलाओं को गोनोरिया की जांच के लिए आमतौर पर पेशाब का नमूना देने के लिए नहीं कहा जाता है, क्योंकि यह महिलाओं के लिए उतना सटीक जांच नहीं होता।

पुरुष (Men)

पुरुषों को आमतौर पर पेशाब के नमूने देने के लिए कहा जाता है। या उनके लिंग के आखिर से स्खलन के नमूने लेने के लिए एक स्वैब का इस्तेमाल हो सकता है।

यदि आपको पेशाब का नमूना उपलब्ध कराने के लिए कहा जाता है, तो यह महत्वपूर्ण है कि लगभग दो घंटे पहले पेशाब न किया जाए, क्योंकि यह बैक्टीरिया को दूर कर सकता है और परीक्षण के परिणामों को प्रभावित कर सकता है।

आँख, गले और गुदा का संक्रमण (Infections of the rectum, throat and eyes)

अगर आपके गुदा (rectum) या गले के संक्रमित होने की संभावना है तो डॉक्टर को स्वैब (swab) के इस्तेमाल से इन जगहों से नमूना इकट्ठा करने की आवश्यकता पड़ेगी।

अगर आपमें कंजक्टिवाइटिस (conjunctivitis) के लक्षण हैं जैसे कि रिसाव के साथ लाल सूजी हुई आंखें तो आपकी आंखों से रिसाव का नमूना लिया जा सकता है।

परिमाण मिलना (Getting the results)

कुछ क्लीनिक तेजी से परीक्षण करने में सक्षम होते हैं, जब डॉक्टर माइक्रोस्कोप के माध्यम से नमूना देखकर आपको आपके परिणाम सीधे दे सकते हैं। अन्यथा, आपको परिणाम प्राप्त करने के लिए इंतजार करना पड़ सकता है।

गोनोरिया का इलाज

गोनोरिया इलाज आमतौर पर एंटीबायोटिक (antibiotics) के छोटे कोर्स से किया जाता है।

आपको इस इलाज की सलाह दी जाती है, अगर:

  • जांच में पता चलता है कि आपको गोनोरिया है
  • आपको गोनोरिया होने के बहुत आसार हैं तब भी अगर आपके जांच के परिणाम नहीं आये हैं
  • आपके साथी को गोनोरिया हो

ज़्यादातर मामलों में, इलाज में एक एंटीबायोटिक इंजेक्शन के साथ एक एंटीबायोटिक गोली शामिल होती है। अगर आप चाहें और अगर संभव होता है तो इंजेक्शन की जगह आपको एक और एंटीबायोटिक गोली दी जा सकती है।

अगर आपमें गोनोरिया के कोई भी लक्षण मौजूद हैं तो वे कुछ दिनों में ठीक होने लगेंगे; हालांकि आपके पेल्विस (pelvis) या अंडकोश (testicles) से किसी भी प्रकार का दर्द पूरी तरह जाने में ये दो हफ़्तों का समय ले सकता है। माहवारी (period) के बीच में खून निकलना, या ज्यादा माहवारी का होना (period) आपके अगले माहवारी के आने तक ठीक हो सकता है।

उपचार के दो हफ्ते बाद एक फॉलोअप अपॉइंटमेंट की सलाह दी जाती है। ताकि एक और जांच करके ये पता लगाया जा सके कि आप पूरी तरह संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।

फिर से संक्रमित होने या किसी अन्य में संक्रमण फैलाने से बचने के लिए आपको तब तक के लिए सेक्स करने से बचना चाहिए जब तक आप और आपका साथी इलाज के बाद पूरी तरह ठीक नहीं हो जाते।

अगर इलाज के बाद आपके लक्षण ठीक नहीं हो रहे हैं या आपको लगता है आप दोबारा संक्रमित हो गए हैं तो अपने डॉक्टर को दिखाएं।

यौन साथी (sexual partner)

गोनोरिया अंतरंग यौन संपर्क के माध्यम से आसानी से फैलता है। यदि आपको इसका पता चलता है, तो आपने हाल ही में किसी के साथ सेक्स किया है तो यह उसे भी हो सकता है। यह महत्वपूर्ण है कि आपके वर्तमान साथी और किसी भी अन्य यौन साथी की जांच और इलाज किया जाए।

बच्चों में गोनोरिया का इलाज

जन्म के समय गोनोरिया के संक्रमण के लक्षण वाले बच्चे या जिनके संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है क्योंकि माँ को गोनोरिया होता है, आमतौर पर उन्हें जन्म के तुरंत बाद एंटीबायोटिक्स दी जाती हैं।
यह बच्चे को नुकसान नहीं पहुंचाता है और अंधेपन और गोनोरिया की अन्य जटिलताओं को रोकने में मदद करता है।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।