COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
9th October, 20194 min read

कंधे का दर्द: कारण और उपचार

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

कंधा मुख्य रूप से तीन हड्डियों से बना होता है:

  • प्रगंडिका/humerus (लंबी बांह की हड्डी)
  • हंसली (कॉलरबोन)
  • स्कैपुला (कंधे का ब्लेड)

यह एक बॉल-एंड-सॉकेट जोड़ है जिसका अर्थ है कि कंधा एक गोलाकार गति में आगे और पीछे और शरीर से दूर और पीछे जा सकता है। कंधा शरीर का सबसे ज़्यादा गति वाला जोड़ है।

कंधे का दर्द आमतौर पर दोहराए जाने वाले क्रियाओं, खेल खेलने या भारी भारोत्तोलन के कारण होता है। कुछ रोग ऐसे भी होते हैं जो कंधे के दर्द का कारण बनते हैं, जैसे पित्ताशय की थैली (गॉल ब्लैडर) का रोग।

60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में कंधे का दर्द अधिक आम है क्योंकि कंधे के आसपास के नरम ऊतक (soft tissue) उम्र के साथ खराब हो जाते हैं।

कुछ मामलों में, कंधे के दर्द का इलाज घर पर किया जा सकता है, लेकिन आपको दवा लेने या शारीरिक उपचार करने की आवश्यकता हो सकती है।

कंधे के दर्द का इलाज

आप घर पर कंधे के दर्द का इलाज कर सकते हैं, लेकिन दर्द कम होने में कम से कम 2 सप्ताह और पूरी तरह से ठीक होने में 4 से 6 सप्ताह लग सकते हैं।

कंधे के दर्द में सुधार करने के लिए, आपको चाहिए:

  • सक्रिय रहें और धीरे से अपने कंधे को हिलाएं
  • अपनी मुद्रा में सुधार करें (अपने कंधों को धीरे से पीछे करके सीधे खड़े हों)
  • बैठते समय अपनी पीठ के निचले हिस्से के पीछे कुशन लगाएं
  • जब आप नीचे बैठे हों तो अपने हाथ को अपनी गोद में एक कुशन पर रखें
  • आमतौर पर डॉक्टर दर्द से राहत पाने के लिए पेरासिटामोल जैसी दर्द निवारक दवाएं लेने की सलाह दे सकते हैं। कोई भी दर्द निवारक दवा लेने से पहले आगे के मार्गदर्शन के लिए किसी फार्मासिस्ट या डॉक्टर से बात करें।

कंधे के दर्द को और खराब होने से बचाने के लिए:

  • अपने हाथ या कंधे को स्थिर ना रखें
  • ऐसा काम ना करें जिससे दर्द बढ़े
  • भारी वजन ना उठाएँ या ज़ोरदार गतिविधियाँ ना करें
  • बैठने पर ना झुकें

एक फार्मासिस्ट दर्द निवारक उपचार (टैबलेट, क्रीम, गर्मी और ठंडे पैक) की सलाह दे सकता है या यदि आवश्यक हो तो आपको डॉक्टर को दिखने का भी सुझाव दे सकते हैं।

यदि 2 सप्ताह के बाद भी दर्द में सुधार नहीं होता है, तो आपके कंधे या हाथ को हिलाना मुश्किल हो जाता है, या यदि दर्द किसी चोट या दुर्घटना के बाद शुरू हुआ हो, तो आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए। वे दर्द का कारण निर्धारित करने में सक्षम होंगे या आपको आगे के परीक्षणों के लिए भेजेंगे।

यदि कारण ज्ञात है तो वे उपचार की सलाह दे सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • ज़्यादा प्रभावशाली दवा
  • फ़िज़ीओथेरपी (physiotherapy)
  • किन चीज़ों से परहेज़ करें
  • एक विशेषज्ञ को दिखाना

कंधे में दर्द के कारण

यदि आपके कंधे में दर्द और जकड़न है जो महीनों या वर्षों में दूर नहीं होती है, तो यह निम्न हो सकते हैं:

यदि आप दर्द का अनुभव करते हैं जो आपके हाथ या कंधे का उपयोग करने पर बदतर हो जाता है, तो संभावित कारणों में शामिल हैं:

यदि आपका कंधे में झुनझुनी, सुन्न, कमजोरी, या ऐसा महसूस होता है कि यह क्लिक या लॉक हो रहा है, तो यह निम्न हो सकता है:

  • कंधे की अस्थिरता
  • अतिगतिकता

यदि आपको अचानक तेज दर्द होता है और आपके हाथ को हिलाना मुश्किल या असंभव है, या इसका आकार बदल गया है, तो आपको निम्न हो सकता है:

  • कंधे का अपने स्थान से हटना
  • हड्डी टूटना
  • एक टेंडॉन फटना या टूटना

यदि दर्द आपके कंधे के ऊपर उत्पन्न होता है, तो यह एक्रोमियोक्लेविकुलर जोड़ में समस्याओं के कारण हो सकता है, उदाहरण के लिए, खिंचा हुआ या फटा हुआ स्नायुबंधन(लिगामेंट्स)।

कंधे के दर्द को लेकर चिंता कब करें

आपको तुरंत सहायता लेनी चाहिए यदि:

  • आप अचानक या गंभीर दर्द का अनुभव करते हैं
  • आप अपना हाथ हिलाने में असमर्थ हैं
  • आपकी बांह या कंधे का आकार बदल गया है या बुरी तरह सूज गया है
  • आपको लगातार पिंस और नीडल्ज़ है
  • आपका हाथ या कंधा सुन्न है
  • आपका हाथ या कंधा छूने में गर्म या ठंडा है

ये लक्षण एक संकेत या कुछ अधिक गंभीर हो सकते हैं, जैसे कि टूटी हुई या अव्यवस्थित हड्डी।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।