13 min read

रिंगवर्म(Ringworm)

मेडिकली रिव्यूड

परिचय

दाद (रिंगवर्म- Ringworm) एक आम और अत्यंत संक्रामक त्वचा संक्रमण है जिसमें त्वचा पर लाल रंग के रिंग(छल्ले) जैसे चकत्ते हो जाते हैं।

ये चकत्ते शरीर में कहीं पर भी हो सकते हैं सिर, पैर, पेट और जांघ के बीच का हिस्से आम हैं।

इस स्थिति का चिकित्सीय नाम टीनिया(tinea) है। यह ज्यादा गंभीर नहीं होती और इसे अमूमन फार्मेसी में बिकने वाली क्रीम से आसानी से ठीक किया जा सकता है। पर (Ringworm) काफी संक्रामक होती है और आराम से दूसरे लोगों में फैल सकती है।

रिंगवार्म, अपने नाम के बावजूद इसमें किसी तरह का कीड़ा नहीं होता। यह फंगस (fungus) द्वारा होने वाला त्वचा का संक्रमण है।

डॉक्टर से कब मिलें

अगर आपको या आपके बच्चे के सिर में रिंगवर्म है तो डॉक्टर को दिखाना चाहिए। इस तरह के दाद (Ringworm) का इलाज केवल प्रिस्क्रिप्शन पर मिलने वाली एंटिबायोटिक्स गोलियों से ही होता है।

अन्य प्रकार के रिंग्वर्म को आमतौर पर फार्मेसी में उपलब्ध एंटीफंगल (antifungal) क्रीम से ठीक किया जाता है और संक्रमण लगातार बना रहता रहे तब डॉक्टर से मिलने की जरूरत होती है। हालांकि फार्मासिस्ट बच्चों में इस समस्या के होने पर डॉक्टर से मिलने की सलाह देते हैं।

रिंगवर्म के लक्षणों के बारे में और अधिक पढ़ें।

दाद या रिंगवर्मRingworm) कैसे होता है?

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) लोगों के बीच सीधे त्वचा के संपर्क से और उनका सामान जैसे तौलिया, बालों की कंघी और बिस्तर साझा करने से फैलता है।

पालतू जानवरों जैसे कुत्ते और बिल्लियों को भी दाद (रिंगवार्म- Ringworm) हो सकता है जिसे वे अपने संपर्क में आने वाले लोगों में फैला सकते हैं।

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) के कारणों के बारे में और अधिक पढ़ें।

कौन प्रभावित होता है?

यह आम समस्या है। एक अनुमान के मुताबिक 10 से 20 फीसदी लोगों को उनके जीवनकाल के दौरान किसी न किसी समय पर फंगल स्किन इंफेक्शन (fungal skin infection) होता है।

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) से किसी भी उम्र का व्यक्ति प्रभावित हो सकता है लेकिन बच्चे इसके सबसे आसान शिकार होते हैं।

सिर का दाद (स्कैल्प रिंगवार्म- Scalp Ringworm) (टीनिया कैपिटिस) (tinea capitis) उन बच्चों में सबसे आम होता है जो किशोरावस्था (यौन परिपक्वता) में नहीं पहुंचे हैं खासकर अफ्रीकी-कैरेबियाई बच्चे और वे जो शहरी इलाकों में रहते हैं।

शरीर का दाद(बॉडी रिंगवर्म- Body Ringworm) किसी भी उम्र में प्रभावित कर सकता है हालांकि पेट से लेकर जांघ के बीच के हिस्से में होने वाला संक्रमण युवा पुरुषों में सबसे आम समस्या है।

रिंगवर्म-का उपचार

दाद ( Ringworm) के ज्यादातर मामले हल्के होते हैं और उन्हें फार्मेसी में उपलब्ध एंटीफंगल क्रीम से ठीक किया जा सकता है।

सिर की दाद (स्कैल्प रिंगवर्म- Scalp Ringworm) को भी एंटीफंगल क्रीम से ठीक किया जा सकता है और कई बार इसमें एंटीफंगल शैम्पू का प्रयोग भी किया जाता है।

कभी-कभी जब रिंगवर्म की वजह से त्वचा में खुजली होती है या उसमें दरारें पड़ जाती हैं तो उससे अन्य बैक्टेरियल इंफेक्शन भी हो जाते हैं जिनका एंटीबायोटिक्स से इलाज करना पड़ता है।

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) का उपचार कैसे किया जाता है इस बारे में और पढ़ें।

इसे फैलने से रोकना

जहां तक संभव हो इसे रोकना बहुत जरूरी होता है ताकि संक्रमण और न फैले। अगर किसी में दाद की समस्या की पहचान हुई है तो आपको उसके साथ तौलिये, बिस्तर या कपड़े साझा नहीं करने चाहिए।

अगर आपको लगता है कि आपके पालतू जानवर को दाद है तो उसे पशु चिकित्सक के पास ले जाएं। अगर उसका जल्दी से इलाज हो जाता है तो आगे संक्रमण होने का खतरा काफी कम हो जाता है।

अगर आपके बच्चे में दाद (रिंगवार्म- Ringworm) की समस्या है तो उन्हें स्कूल से दूर रहने की जरूरत नहीं है। बहरहाल आपको उसके स्कूल को सूचित करना चाहिए कि आपके बच्चे को इस तरह की समस्या है। उपचार के अतिरिक्त आपके बच्चे को संक्रमण फैलने से रोकने के लिए व्यक्तिगत साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना होगा।

दाद के फैलने पर रोक लगाने के बारे में और पढ़ें।

लक्षण

दाद, अधिकतर गोल, लाल या सिल्वर रंग के पैच होते हैं जो परतदार और खुजली वाले हो सकते हैं।

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) जैसे-जैसे बढ़ता है वह बाहर की तरफ फैलता है। आपमें एक या कई पैच हो सकते हैं और ज्यादा गंभीर मामलों में आपकी त्वचा में उठाव आ सकता है और उनमें छाले भी हो सकते हैं।

सिर का दाद (Scalp Ringworm)

  • सिर के दाद(स्कैल्प रिंगवार्म- Scalp Ringworm) के लक्षणों में शामिल हैं:
  • सिर पर परत वाली त्वचा के छोटे पैच जो दर्दनाक हो सकते हैं
  • पैच में बालों का गिरना
  • सिर में खुजली
  • और गंभीर मामलों में लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:
  • छोटे पस वाले दाने सिर पर निकलना
  • सिर में पपड़ी जमना

सिर के दाद (Scalp Ringworm) के अत्यंत गंभीर मामलों में आपके सिर में केरियन (kerion) नामक काफी बड़े फोड़े निकल सकते हैं। इसमें पस हो सकती है और आपको बुखार हो सकता है और लसिका ग्रंथी (लिम्फ ग्लैंड्स-lymph glands) में सूजन आ सकती है।

शरीर का दाद (Body Ringworm)

शरीर के दाद (Body Ringworm) के लक्षणों में शामिल हैं:

  • आपकी त्वचा पर छल्लेनुमा लाल चकत्ते- आपकी त्वचा उस गोल दायरे के आसपास लाल दिखेगी और उसमें खुजली होगी लेकिन अंदर से स्वस्थ होगी

ज्यादा गंभीर मामलों में:

  • ये रिंग कई गुना बढ़ जाएंगे, इनका आकार बढ़ेगा और आपस में मिल जाएंगे
  • ये छल्ले छूने पर उठे हुए महसूस हो सकते हैं और उनके नीचे की त्वचा में जलन या खुजली हो सकती है
  • रिंग के आसपास दाने या पस वाले छाले हो सकते है

पैरों की दाद (Foot Ringworm, एथलीट फुट)

पैरों की दाद के लक्षणों में शामिल हैं:

अमूमन आपके पंजों के बीच की जगह में खुजली वाले, सूखे, लाल रंग का पपड़ी वाले चकत्ते हो जाते हैं

और ज्यादा गंभीर मामलों में:

  • प्रभावित हिस्से की त्वचा में दरारें आ जाती हैं
  • छालों में रिसाव होता है या पपड़ी जम जाती है
  • त्वचा में सूजन आ जाती है
  • त्वचा में जलन या कांटे चुभने जैसा महसूस होता है
  • आपके तलवे और पैर की साइट पर रेखाएं जैसे पड़ने लगती हैं

एथलीट फुट(athlete's foot) के बारे में और अधिक पढ़ें।

ग्रोइन रिंगवार्म (Groin ringworm (jock itch))

ग्रोइन रिंगवार्म के लक्षणों में शामिल हैं:

  • लाल-भूरे पीड़ादायक फोड़े(जरूरी नहीं रिंग के आकार में हों) जिनमें फफोले या किनारे पर पस वाले दाने हो सकते हैं
  • आपके ग्रोइन वाले हिस्से में खुजली-जलन और लाली होगी जैसे जांघ और नितंबों के अंदरूनी हिस्से ( इससे आमतौर पर गुप्तांगों पर असर नहीं पड़ता)
  • आपकी जांघ का अंदरूनी हिस्सा परत और पपड़ीदार हो सकता है

एक्सरसाइज करने, चलने या कसे हुए कपड़े या अंडरवियर पहनने से ग्रोइन इंफेक्शन (groin infection) के लक्षण गंभीर हो सकते हैं।

एथलीट फुट के साथ ग्रोइन इंफेक्शन (groin infection होने का लक्षण काफी आम होता है। अगर आपको एथलीट फुट (athlete's foot) की समस्या हो और आप अपने पैर को खुजाते हैं तो आप कपड़े बदलते हुए या शौचालय जाते समय अपने फंगल स्पोर्स (fungal spores) को अपने ग्रोइन (groin) वाले इलाके में ट्रांसफर कर देते हैं।

नाखूनों की दाद (रिंगवार्म ऑफ नेल्स- Ringworm of the nails)

नाखूनों की दाद (रिंगवार्म ऑफ नेल्स- Ringworm of the nails) के लक्षणों में शामिल है:

  • नाखून में सफेद चीज जमा होना
  • रंग उड़ना(नाखून सफेद, काले, पीले या हरे हो सकते हैं)
  • नाखून चटक सकते हैं और टूट कर गिर सकते हैं
  • नाखून के आसपास की त्वचा में दर्द या जलन हो सकती है

फंगल नेल इंफेक्शन (fungal nail infection) के बारे में और पढ़ें।

दाद का पहचान कैसे होती है इस बारे में और पढ़ें।

कारण

दाद फंगस (fungus) से होने वाला त्वचा का संक्रमण है।

रिंगवर्म डेरमाटोफाइट्स (dermatophytes) नाम की फंगी की वजह से होता है जो केराटिन (Keratin) पर जीवित रहती है। केराटिन (Keratin) त्वचा, नाखून और बालों सहित शरीर के कई हिस्सों में पाया जाने वाला सख्त और वाटरप्रूफ टिशू होता है।

इसलिए दाद का संक्रमण ज्यादातर त्वचा, नाखूनों या सिर पर असर करता है।

दाद कैसे फैलता है?

फंगी छोटे और सख्त स्पोर्स(spores) होते हैं जो कई महीनों तक आपकी त्वचा, मिट्टी या घरेलू सामान जैसे कंघी या तौलिये पर जीवित रह सकते हैं। ये चार अलग तरीकों से फैल सकते हैं:

  • इंसानों के बीच सम्पर्क
  • इंसान और पशुओं का संपर्क- उदाहरण के लिए, संक्रमित कुत्ते या बिल्ली को सहलाने से
  • इंसान और वस्तुओं का संपर्क- दोनों पशु और इंसान फंगी स्पोर्स (fungi spores) के निशान सामान और सतहों पर छोड़ सकते हैं जैसे तौलिये, कपड़े, चादरें, कंघी या ब्रश
  • इंसान और मिट्टी का संपर्क- यह काफी कम होता है कि आप संक्रमित मिट्टी के साथ लंबे समय तक संपर्क में रहने पर किसी रिंगवर्म(Ringworm) से संक्रमित हो जाएं
  • वयस्क होने पर आप बिना किसी लक्षण को दर्शाये स्कैल्प या सिर के रिंगवर्म के वाहक हो सकते हैं। वह इसलिए क्योंकि जब आप युवावस्था में पहुंचते हैं तो आपके शरीर में आमतौर पर संक्रमण से लड़ने वाली रक्षात्मक प्रणाली विकसित हो जाती है।

अगर आप किसी रिंगवर्म इंफेक्शन के वाहक है तो आप अनजाने में उसे अपने बच्चों में फैला सकते हैं और उनमें इसके लक्षण विकसित हो सकते हैं।

जोखिम किसे है

आपको दाद होने की ज़्यादा सम्भावना है अगर:

  • आप काफ़ी छोटे या काफी वृद्ध हैं
  • अफ्रीकी- कैरिबियाई हैं (सिर के दाद के मामले में)
  • टाइप 1 डायबिटीज (type 1 diabetes) है
  • वजन ज़्यादा है (मोटापा)
  • कोई ऐसी मेडिकल समस्या है जिससे आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो गया हो जैसे एचआईवी या एड्स
  • कोई चिकित्सा उपचार चल रहा है जिससे इम्यून सिस्टम कमजोर हो गया हो जैसे कीमोथेरेपी(chemotherapy) या स्टेरॉयड टैबलेट्स(steroid tablets)
  • पहले भी फंगल इंफेक्शन हुआ हो
  • आपकी आर्ट्रीज (arteries) (एथेरोस्कलेरोसिस- atherosclerosis) सख्त हो गई हों
  • कमजोर सर्कुलेशन हो(खासकर ऐसी स्थिति जिसे वेनस इंसफिशिएंसी(venous insufficiency) कहा जाता है जिसमें आपके पैरों की नसें में आपके दिल तक रक्त वापस भेजने में परेशानी होती है)

पहचान

दाद अपनी लोकेशन और अपने स्वरूप से आसानी से पहचाना जा सकता है।

सिर का दाद(स्कैल्प रिंगवार्म- Scalp Ringworm)

आपके डॉक्टर अमूमन आपके सिर की जांच करने के बाद सिर के रिंगवार्म (ringworm) को डायग्नोज करने में सक्षम होंगे।

रिंगवार्म (ringworm) इंफेक्शन की वजह बनने वाले फंगस का प्रकार पता चलना काफी फायदेमंद होता है क्योंकि कुछ किस्म की एंटीफंगल दवाएँ विशेष तरह के फ़ंगस के इलाज में कारगर साबित होती है। आपका डॉक्टर लैब में परीक्षण के लिए आपके सिर से त्वचा का एक छोटा सा नमूना ले सकता है।

टेस्ट का नतीजा आने से पहले आपको शुरुआती तौर पर एंटीफंगल दवा दी जा सकती है। अगर टेस्ट में किसी दूसरी तरह की बेहतर एंटीफंगल दवा की सलाह दी जाती है तो आपको वही लेने की सलाह दी जाएगी और पहले वाली दवा को बंद करने को कहा जाएगा।

शरीर का दाद (बॉडी रिंगवर्म- Body Ringworm)

शरीर के दाद के ज्यादातर मामलों की पहचान आपके डॉक्टर द्वारा आपकी त्वचा की जांच करने और इससे जुड़े अन्य लक्षणों के बारे में सवाल पूछ से की जा सकती है

अगर आपके लक्षण गंभीर है या एंटीफंगल ट्रीटमेंट का कोई असर नहीं हो रहा तो आगे टेस्ट करवाने की जरूरत होती है। इस मामले में डॉक्टर प्रभावित त्वचा से छोटा सा हिस्सा निकालेंगे और उसे माइक्रोस्कोप के नीचे परीक्षण के लिए प्रयोगशाला में भेजेगा।

माइक्रोस्कोपिक एनालिसिस (Microscopic analysis) से यह पता चल सकेगा क्या फ़ंगस मौजूद है और वो किस प्रकार का फ़ंगस है जो संक्रमण पैदा कर रहा है।

दाद (रिंगवार्म- Ringworm) का उपचार कैसे होता है इस बारे में पढ़ें।

उपचार

दाद का उपचार एंटीफंगल क्रीम, गोलियों और शैम्पू से आसानी से हो जाता है।

दाद से निजात पाने और उन्हें फैलने से रोकने के लिए निम्नलिखित स्व सहायता उपायों का इस्तेमाल किया जा सकता है:

  • दाद से संक्रमित त्वचा को रोज धोएं और उसे पूरी तरह से सुखाएं, त्वचा के जोड़ और आपके पंजों के बीच के हिस्सों पर विशेष रूप से ध्यान दें
  • अगर आपके ग्रोइन(groin) या पैर में संक्रमण है तो अपना अंडरवियर या जुराबें रोज बदलें क्योंकि फंगस त्वचा के फ्लेक्स (flakes) में मौजूद हो सकती है
  • सिर के संक्रमण की मामले में कंघी, बालों का ब्रश या हैट किसी से साझा न करें
  • कपड़े, तौलिये और चादरें जल्दी-जल्दी धोएं
  • ढीली फिटिंग वाले कपड़े पहनें, कोशिश करें कि ये कॉटन या किसी प्राकृतिक मेटेरियल से बने हों

रिंगवर्म की रोकथाम के बारे में और अधिक पढ़ें।

सिर का दाद (स्कैल्प रिंगवर्म- Scalp Ringworm)

इस तरह के दाद (रिंगवार्म- Ringworm) को एंटीफंगल गोलियों से ठीक किया जाता है, कई बार साथ में एंटीफंगल शैम्पू भी दिया जाता है।

एंटीफंगल गोलियों के दो प्रकार हैं:

  • टेरबाइनाफाइन (terbinafine)
  • ग्रीसियोफुल्विन (griseofulvin)

आपको किस तरह की एंटीफंगल दवा दी जाएगी यह संक्रमण करने वाले फंगस के प्रकार पर निर्भर करेगा।

टेरबाइनाफाइन (terbinafine) गोलियां

सिर में दाद की समस्या वाले ज्यादातर लोगों को टेरबाइनाफाइन (terbinafine) दी जाती है। अधिकांश दाद के मामलों में यह प्रभावी उपचार है। आपको चार हफ़्तों तक रोज़ एक गोली लेनी पड़ती है।

टेरबाइनाफाइन (terbinafine) के साइड इफेक्ट में शामिल हैं:

  • मितली
  • दस्त
  • अपच
  • चकत्ते

अमूमन ये साइड इफेक्ट हल्के और कम अवधि के होते हैं। कुछ लोग में टेरबाइनाफाइन (terbinafine) की अस्थाई समस्या भी होती है जिससे उनके स्वाद की संवेदना पर असर पड़ता है।

टेरबाइनाफाइन (terbinafine) लिवर की बीमारी या ल्यूपस (lupus) (जहां इम्यून सिस्टम स्वस्थ टिशुओं पर हमला करता है) से ग्रस्त रहे लोगों के लिए उपयुक्त नहीं है।

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin)

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) एक प्रकार की एंटीफंगल दवा है जो फंगस को बढ़ने और कई गुना होने से रोकती है। यह स्प्रे के रूप में उपलब्ध है और अमूमन 8 और 10 सप्ताह के बीच रोज़ाना लेना होता है।

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) के साइड इफेक्ट में शामिल हैं:

  • मितली
  • उल्टी
  • हल्का दस्त
  • सिरदर्द
  • अपच

बहरहाल ये साइड इफेक्ट दवा के इस्तेमाल को आपके शरीर द्वारा स्वीकार करते जाने के साथ सुधरते जाते हैं।

अगर गर्भावस्था के दौरान या आप उपचार के फौरन बाद गर्भधारण करने की योजना बना रहे हैं तो ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) के प्रयोग से जन्म के विकार हो सकते हैं। पुरुषों को उपचार रोकने के छह माह के अंदर पिता बनने से बचना चाहिए।

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) उन महिलाओं के लिए उपयुक्त नहीं है जो स्तनपान करवा रही हैं और जिनमें गंभीर लिवर या ल्यूपस (lupus) की समस्या है।

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) कम्बाइन्ड कोन्ट्रासेप्टिव पिल (combined contraceptive pill) और प्रोगेस्टोजन-ओनली पिल (progestogen-only pill) दोनों में हस्तक्षेप कर सकता है इसलिए महिलाओं को गर्भनिरोध के लिए कंडोम जैसे वैकल्पिक उपाय का प्रयोग करना चाहिए।

ग्रीसियोफुल्विन (Griseofulvin) आपकी गाड़ी चलाने की क्षमता पर भी असर डाल सकती है और एल्कोहल के असर को भी बढ़ा सकती है।

ग्रीसियोफुल्विन के बारे में और पढ़ें।

एंटी फंगल शैम्पू

ये सिर के रिंगवर्म का इलाज नहीं कर सकते लेकिन संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद कर सकता है और इससे रिकवरी में तेजी आ सकती है।

सेलेनियम सल्फाइड (selenium sulphide) जैसे एंटीफंगल शैम्पू आपको फार्मासिस्ट से मिल जाएंगे। आदर्श रूप से इनका इस्तेमाल उपचार के पहले दो हफ्ते में हफ्ते में दो बार करना चाहिए।

इस बात का कोई साक्ष्य नहीं है कि बच्चों का सिर मुंडवाने से दाद का खतरा कम होता है या उसकी रिकवरी में तेजी आती है।

शरीर का दाद (Body Ringworm)

शरीर के दाद के ज्यादातर मामले (इनमें ग्रोइन इंफेक्शन (groin infections) भी शामिल है) का इलाज दुकानों पर मिलने वाली एंटीफंगल क्रीम, जेल या स्प्रे से किया जा सकता है। इसमें कई प्रकार भी होते हैं इसलिए अपने लिए उपयुक्त दवा का चयन करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से बात करें।

आपको सामान्य रूप से दो हफ्ते तक त्वचा के प्रभावित हिस्से पर रोज़ाना एंटीफंगल क्रीम, स्प्रे या जेल का प्रयोग करना होगा। इन्हें चकत्ते के ऊपर और उस चकत्ते के किनारे से एक इंच दूरी त त्वचा पर लगाना होगा। पहले निर्माता के निर्देशों को पढ़ें।

दोबारा इंफेक्शन के जोखिम को कम करने के लिए आगे दो सप्ताह तक उपचार करते रहने की सलाह दी जा सकती है। उपचार के दो सप्ताह के बाद अगर आपके लक्षणों में कोई सुधार नहीं हो रहा हो तो अपने डॉक्टर से मिलें क्योंकि आपको एंटीफंगल गोलियों की जरूरत हो सकती है।

टेरबाइनाफाइन (terbinafine) और ग्रीसियोफुल्विन (griseofulvin) दोनों गोलियों को शरीर के दाद (बॉडी रिंगवार्म- body Ringworm) के संक्रमण के उपचार में प्रयोग किया जा सकता है साथ ही इनके अलावा इट्राकोंजोल (itraconazole) नामक एंटीफंगल दवा भी दी जा सकती है।

इट्राकोंजोल (Itraconazole)

इट्राकोंजोल (Itraconazole) आमतौर पर 7 से 15 दिनों के लिए कैप्सूल के रूप में दी जाती है। बच्चों, वृद्धों या जिन्हें लिवर की समस्या है उन्हें इसका इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती।

इट्राकोंजोल (Itraconazole) के साइड इफेक्ट में शामिल हैं:

  • मितली
  • उल्टी
  • अपच
  • दस्त
  • सिरदर्द

इसके बारे में और पढ़ें इट्राकोंजोल (Itraconazole) और मेडिसिन, स्पोरानोक्स और प्रिपरेशन (Sporanox&preparation), स्पोरानोक्स 100 एमजी कैप्सूल्स (Sporanox 100mg capsules)

संक्रमण कैसे वापस लौटता है इस बारे में पढ़ें।

फंगल नेल इंफेक्शन (Fungal nail infections)

फंगल नेल इंफेक्शन (Fungal nail infections) का उपचार एंटीफंगल नेल पेंट या एंटी फंगल गोलियों से किया जा सकता है। एंटीफंगल गोलियां नेल पेंट से बेहतर काम करती हैं हालांकि इनसे सिरदर्द, मितली और दस्त जैसे साइड इफेक्ट हो सकते हैं।

फंगल नेल इंफेक्शन (Fungal nail infections) के उपचार के बारे में और पढ़ें।

रोकथाम

अगर आपके परिवार में किसी को दाद की समस्या है, तो यहां नीचे दी गई सलाह का पालन करने से संक्रमण फैलने से रोका जा सकता है।

दाद होने के लिए किसी संक्रमित व्यक्ति या पशु से सीधे संपर्क होना जरूरी नहीं है। वह इसलिए क्योंकि फंगस फर्नीचर, बालों की कंघी, कपड़ों और तौलिये पर भी जीवित रहने में सक्षम होता है।

अगर आपके घर में किसी को दाद की समस्या है तो:

  • व्यक्तिगत चीजें साझा करने से बचना चाहिए जैसे कंघी, बालों का ब्रश, तौलिये, कपड़े और बिस्तर की चादरें
  • चादरें, तकियों के कवर और तौलिये सामान्य डिटर्जेंट का प्रयोग करते हुए गर्म पानी से धोएं
  • कपड़ों को चादरों से अलग धोएं, इसमें धोने के तापमान को लेकर निर्माता के निर्देशों का पालन करें
  • लोगों की चादरें और कपड़े अलग-अलग धोएं
  • सुनिश्चित करें कि आपके घर का हर सदस्य नियमित रूप से जल्दी-जल्दी अपना हाथ धोएं
  • अगर किसी को सिर में दाद है तो सुनिश्चित करें कि वह सप्ताह में दो बार एंटीफंगल शैम्पू का प्रयोग करे
  • अपनी त्वचा या सिर के प्रभावित हिस्से को खुजाने से बचें क्योंकि यह आपके शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकता है

यह महत्वपूर्ण है कि घर के अन्य सदस्य संक्रमण के संकेतों की खुद में भी जांच करें। अगर जरूरी हो तो उनका इलाज करवाएं।

अगर आपको संशय है कि आपके पालतू पशु को संक्रमण है तो उसे उपचार के लिए उनके डॉक्टर के पास ले जाएं। किसी भी पशु में फर के पैच का गायब होना इस बात का संकेत होता है कि उसे दाद है।

अगर आपके परिवार में किसी को दाद की समस्या है तो उसे स्कूल या कार्यस्थल से दूर रहने की जरूरत नहीं है। बहरहाल, जितना जल्दी हो सके उपचार शुरू किया जाना चाहिए। अन्य बच्चों में इसे फैलने से रोकने के लिए बेहतर व्यक्तिगत साफ-सफाई का ध्यान रखना जरूरी है।

दाद का उपचार कैसे करें यह जानने के लिए पढ़ें।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।