COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
24th June, 20204 min read

घमौरियों (heat rash) का इलाज कैसे करें

Medical Reviewer:Healthily's medical team
Author:Georgina Newman
मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है। यह Georgina Newman द्वारा लिखा गया है और Healthily's medical team ने इसकी मेडिकल समीक्षा की है।

जैसे-जैसे दुनिया के कुछ हिस्सों में तापमान बढ़ता है और गर्मी दस्तक देती है, लोगों में घमौरियों (heat rash) की समस्या शुरू हो जाती है। अत्यधिक गरमी और ह्यूमिड वातावरण में शरीर से पसीना निकलने की स्थिति में घमौरियां होना सामान्य बात है।

घमौरियां, जिसे माइलीरिया या प्रिक्ली हीट भी कहा जाता है, यह तब होता हैं जब आपको बहुत पसीना आता है।

ज्यादा पसीना निकलने से पसीने की ग्रंथियां बंद हो जाती है और इसके परिणामस्वरूप कुछ दिनों बाद लाल खुजलीदार चकत्ते जैसे हो जाते हैं।

अगर आप अपनी त्वचा के किसी हिस्से पर छोटे-छोटे कई दानों के झुंड को नोटिस करते हैं जिनमें खुजली महसूस होती है तो वह घमौरियां हो सकती हैं। ये शरीर के किसी भी हिस्से पर हो सकती हैं।

वयस्कों और बच्चों दोनों को ही घमौरियां निकल सकती है। हालांकि, इसका सामना करना आसान नहीं होता है, लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं जिनसे आप सुरक्षित और प्रभावी तरीके से इसे ठीक कर सकते हैं।

घमौरियों का उपचार

अगर आपको लगता है कि आपको घमौरियां (Heat rash) हो गई हैं, तो इसका सबसे अच्छा खुद से किया जाने वाला उपचार यह है कि आप आप अपनी त्वचा को जितना संभव हो सके, उतना ठंडा रखे। इसके लिए पसीना निकाल देने वाली गतिविधियों को सीमित करें और खुद को हाइड्रेट रखें।

घमौरियां अपने आप कुछ ही दिनों में समाप्त हो जाती हैं, लेकिन जब ये होती है तो आपको बहुत असहज महसूस होता है, इनसे जल्दी से आराम पाने के लिए आप कुछ सुझावों को फॉलो कर सकते हैं।

ख़ुद को ठंडा रखें और हाइड्रेटेड रहें

ठंडे पानी से स्नान करने पर आपको त्वचा को ठंडक मिलेगी, खासकर जब आप भरी गर्मी में बाहर से आए और शरीर बहुत तप रहा हो।

कोशिश करें कि आप पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करें, इससे आपको शरीर का तापमान विनियमित रखने में मदद मिलेगी। जब मौसम बहुत गर्म या नम हो और आपको बहुत अधिक पसीना निकले तो सुनिश्चित करें कि आप पानी पीते रहें।

अगर आपका मुंह सूखता रहता है और आपको प्यास महसूस होती है, साथ ही आपकी यूरिन का रंग गाढ़ा पीला हो तो ये संकेत है कि आपको पानी की कमी (डिहाइड्रेशन) है और आप अधिक तरल चीजों का सेवन करें।

आप पंखें या एसी भी चला सकते हैं अगर आप कमरे में हवा और कम तापमान चाहते हैं।

खुजली दूर भगाने के उपाय

कोल्‍ड कम्‍प्रेस (Cold compress)

अगर आपकी त्वचा में घमौरियां होने के कारण किसी विशेष स्थान पर खुजली होती है तो खुजली न करें, वरना स्थिति बिगड़ सकती है। इसके बजाय, आप प्रभावित हिस्से पर कोल्ड कम्प्रेस करें जिससे आपको खुजली से आराम मिलेगा।

कैलामाइन लोशन (Calamine lotion)

अगर आपको कोल्ड कम्प्रेस से आराम नहीं मिलता है तो किसी फार्मासिस्ट से सलाह ले सकते हैं।

शायद वो आपको कोई कैलामाइन लोशन दें, जोकि एक टापिकल मेडिसिन है, जिससे त्वचा को ठंडक मिलती है और उसमें होने वाली खुजली या जलन कम हो जाती है। लेकिन कई बार इससे त्वचा में रूखापन आ जाता है।

एंटीहिस्टामाइन टैबलेट (Antihistamine tablets)

एक फार्मासिस्ट, त्वचा पर रैशेज होने की स्थिति में खुजली या सूजन को कम करने के लिए एंटीहिस्टामाइन (antihistamine) टैबलेट दे सकता है। ये मेडिसिन हिस्‍टामाइन (histamine) को रिलीज होने से रोकती है। अगर बहुत अधिक हिस्टामाइन उत्पादित होता है तो भी त्वचा में लालिमा और सूजन (inflamed) आ जाती है।

स्टेरॉयड क्रीम (Steroid cream)

एक अन्य उपचार जो एक फार्मासिस्ट आपको बता सकते वह है - एक स्टेरॉयड क्रीम (steroid cream), जिसे हाइड्रोकार्टिसोन (hydrocortisone) कहा जाता है।

ये क्रीम सूजन और जलन को कम करने में मदद करती हैं, और आपको खुजली से राहत दिलाती है। हालांकि, रैश कम होने में थोड़ा समय लगता है।

स्टेरॉयड क्रीम आपके लिए ठीक नहीं रहती है जब आप गर्भवती हों। इसलिए गर्भावस्था के दौरान, इसे लगाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

घमौरियां होने पर कब डॉक्‍टर दिखाएं

घमौरियां होना कोई चिंताजनक बात नहीं है, लेकिन अगर आपको घमौरियां होने पर लक्षण बहुत कष्टदायक हो जाते हैं तो चिंता न करें, डॉक्टर को दिखाएं।

अगर आपके लक्षण कुछ दिनों से ज्यादा समय तक रहते हैं तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए, कई बार कुछ अन्य कारणों से भी त्वचा पर दाने (rash) आ जाते हैं, इसलिए यह जानना जरूरी है कि दाने क्यों हो रहे हैं।

आपको अन्य लक्षणों जैसे - बुखार आदि पर भी ध्यान देना चाहिए, ये संक्रमण के लक्षण हो सकते हैं।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।