COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
7 min read

फिजियोथेरेपी (physiotherapy)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

फिजियोथेरेपी क्या है? (What is physiotherapy?)

जब कोई चोट, बीमारी या विकलांगता से प्रभावित होता है तो फिजियोथेरेपी उनकी चाल और काम को सुधारने में मदद करता है। यह भविष्य में होने वाली चोट या बीमारी के खतरे को भी कम करती है।

यह एक समग्र दृष्टिकोण लेता है जिसमें मरीज़ को सीधे अपनी देखभाल करना भी शामिल किया जाता है।

फिजियोथेरेपी का इस्तेमाल कब किया जाता है? (When is physiotherapy used?)

फिजियोथेरेपी (physiotherapy) हर उम्र के व्यक्ति के लिए मददगार हो सकती है, जिन्हें कोई लंबी स्वास्थ्य संबंधी बीमारी या अवस्था है। साथ ही इन समस्याओं से प्रभावित लोग भी फिजियोथेरेपी (Physiotherapy) का लाभ उठाते हैं:

फिजियोथेरेपी (physiotherapy) आपकी भविष्य में होने वाली चोट से रक्षा करते हुए शारीरिक गतिविधियों को सुधार सकती है।

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist)

फिजियोथेरेपी (physiotherapy) विशेष रूप से प्रशिक्षित और नियमित पेशेवरों द्वारा की जाती है जिन्हें फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) कहा जाता है।

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) अक्सर दवाओं और परिस्थितियों के विभिन्न क्षेत्रों में मल्टी डिसिप्लिनरी टीम (multi-disciplinary team) के हिस्से के रूप में निम्न जगहों पर काम करते हैं:

  • अस्पताल
  • कम्युनिटी हेल्थ सेंटर या क्लिनिक (community health centre or clinic)
  • कुछ डॉक्टरों की सर्जरी में
  • कुछ खेल की टीमों में, क्लबों में, चैरिटी और काम की जगहों पर
  • कुछ फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) घर आने का भी प्रस्ताव देते हैं।

फिजियोथेरेपिस्ट क्या करते हैं? (What physiotherapist do?)

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) बस चोट या बीमारी वाली जगह पर ध्यान देने के बजाय पूरे शरीर पर ध्यान देते है।

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) द्वारा दिये जाने वाले कुछ प्रमुख प्रस्ताव ये हैं:

  • शिक्षा और सलाह: फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) उन चीज़ों के बारे में आपको सामान्य सलाह दे सकते हैं जो आपके दैनिक जीवन पर असर डाल सकती है। जैसे कि आसन (posture) और ठीक से उठाने या संभालने की तकनीक जो आपकी चोट से रोकथाम में मदद कर सकती है।
  • मूवमेंट, टेलर्ड एक्सरसाइज और शारीरिक कार्य की सलाह: व्यायाम आपके सामान्य स्वास्थ्य और गतिशीलता को प्रभावित और विशेष भागों को मजबूत कर सकते हैं।
  • मैन्युअल थेरपी (manual therapy): जहां फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) दर्द और तनाव में शरीर को आराम देने और शरीर की बेहतर कार्यप्रणाली के लिए अपने हाथ का इस्तेमाल करते हैं।

यहां और भी तकनीक हैं जिन्हें कभी-कभी इस्तेमाल किया जाता है। जैसे कि वे व्यायाम जो पानी में किये जाते हैं। हाइड्रोथेरेपी (hydrotherapy) या एक्वाटिक थेरेपी (aquatic therapy) या एक्यूपंक्चर (acupuncture)

मुख्य फिजियोथेरेपी (physiotherapy) तकनीकों के बारे में और पढ़ें।

फिजियोथेरेपी तकनीक और तरीके (Physiotherapy techniques and approaches)

फिजियोथेरेपी में अलग अलग तरह के इलाज और रोकथाम सम्बंधित तरीके शामिल हो सकते हैं जो आपके द्वारा अनुभव की जा रही विशेष समस्या पर निर्भर करते हैं।

फिजियोथेरेपिस्ट से पहली मुलाकात में आपको आगे किस तरह कि मदद चाहिए इसका पता लगाने के लिए मूल्यांकन किया जाएगा।

जिसका फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) द्वारा दी जाने वाली तीन मुख्य सलाहें ये हैं:

  • शिक्षा और सलाह
  • चाल और व्यायाम
  • मैन्युअल थेरेपी

कभी-कभी इलाज के अन्य तरीके जैसे कि एक्यूपंक्चर (acupuncture) और अल्ट्रासाउंड (ultrasound treatment) का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

शिक्षा और सलाह (Education and advice)

फिजियोथेरेपी (physiotherapy) का एक मुख्य पहलू ये है कि इसमें केवल चोट पर ध्यान देने के बजाय पूरे शरीर पर ध्यान दिया जाता है।

इसलिए, आपके स्वास्थ्य को सुधारने के लिए सामान्य सलाह दी जाती है जैसे कि नियमित व्यायाम करना, अपनी लंबाई और बनावट के अनुरूप वजन नियंत्रित करना- ये सब इलाज का महत्वपूर्ण हिस्सा है।

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) भी आपको विशेष सलाह दे सकता है जिसे आप खुद की देखरेख और चोट या दर्द के खतरे को कम करने के लिए रोजाना के कामों पर लागू कर सकते हैं

उदाहरण के लिए अगर आपको पीठ दर्द है तो आपको अच्छे आसन (good posture), ठीक से उठने और संभलने की तकनीक, बेढंगे तरीके से मुड़ने , ओवर स्ट्रेचिंग या लम्बे समय तक खड़े रहने से बचने की सलाह मिल सकती है

चाल और व्यायाम (movement and exercise)

आमतौर पर फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) हिलने-डुलने और काम करने की क्षमता बढ़ाने के लिए चलने-फिरने या व्यायाम की सलाह देते हैं। जिसमें ये शामिल हो सकता है:

  • व्यायाम जो आपके शरीर के विशेष भागों की मज़बूती और चाल सुधारने के लिए बना है: इन्हें आमतौर पर नियमित रूप से एक निर्धारित समय में बार-बार करने की ज़रूरत पड़ती है।
  • कार्य जिसमें आपके पूरे शरीर का हिलना डुलना शामिल हो जैसे कि चलना या तैरना: अगर ऑपरेशन या चोट ने आपकी गतिशीलता को प्रभावित किया है तो ये आपकी सहायता कर सकते हैं
  • व्यायाम जो गर्म और सतही पानी में होते हैं जैसे कि हाइड्रोथेरेपी (hydrotherapy) या एक्वाटिक थेरेपी (aquatic therapy): पानी धीरे-धीरे मजबूत बनाने में मदद करने के लिए प्रतिरोध प्रदान करते हुए मांशपेशियों और जोड़ों को शांत करने में मदद करता है।
  • सलाह और व्यायाम जो आपकी शारीरिक सक्रियता को बढ़ाने में मदद करते हैं। सक्रिय रहने के महत्व और इसे सुरक्षित, प्रभावी तरीके से कैसे किया जाए इस पर सलाह दी जाएगी
  • गतिशीलता में मदद प्रदान करना जैसे कि क्रच (crutches) या चलने वाली छड़ी जो हिलने-डुलने में आपकी मदद करे।

आपका फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) भी आपको व्यायाम की सलाह दे सकता है जो आप लम्बे समय तक दर्द से रोकथाम या फिर से चोट लगने के खतरे को कम करने के लिए जारी रख सकते हैं

आप सामान्य समस्याओं के लिए चार्टर्ड सोसायटी ऑफ फिजियोथेरेपी की वेबसाइट पर गिरने से बचने के साथ ही कई अन्य आम समस्याओं से रोकथाम के लिए व्यायाम खोज सकते हैं।

मैनुअल थेरेपी (manual therapy)

मैनुअल थेरेपी (manual therapy) एक तकनीक है जहां फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) शरीर के टिशू (body tissue) को आराम देने के लिए उनकी मालिश करता है।

 ये मदद कर सकता है:

  • दर्द और अकड़न से आराम में
  • खून के प्रवाह में
  • शरीर के हिस्सों से कुशलता पूर्वक द्रव्य के सूखने में
  • शरीर के अन्य हिस्सों की चाल सुधारने में
  • आराम में

विशेष समस्याओं के इलाज में मैनुअल थेरेपी (manual therapy) इस्तेमाल किया जा सकता है जैसे कि पीठ दर्द, लेकिन यह बहुत सी अवस्थाओं में सहायक हो सकता है जो हड्डियों, जोड़ों और मांसपेशियों को प्रभावित नहीं करते हैं।

उदाहरण के लिए, मालिश कुछ गंभीर या लम्बी चिकित्सीय अवस्था वाले लोगों में चिंता के स्तर को कम और नींद की गुणवत्ता सुधार कर उनके जीवन के स्तर में सुधार ला सकता है। फेफड़ों की कुछ अवस्थाओं के लिए भी मैनुअल तकनीक का इस्तेमाल होता है।

अन्य तकनीक (Other techniques)

फिजियोथेरेपिस्ट (physiotherapist) आपको दर्द से आराम दिलाने और इलाज के लिए अन्य तकनीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिनमें ये शामिल हैं:

  • एक्यूपंक्चर (acupuncture): जहां दर्द कम करने और सुधार के उद्देश्य से महीन सुई आपके शरीर के खास हिस्सों पर लगाई जाती है।
  • transcutaneous electrical nerve stimulation (TENS): एक छोटा बैटरी से चलने वाला यंत्र जो दर्द कम करने के उद्देश्य से प्रभावित क्षेत्र में बिजली प्रवाहित करने के लिए इस्तेमाल होता है।
  • अल्ट्रासाउंड (ultrasound): खून के प्रवाह और सेल की सक्रियता के द्वारा गहरे टिशू के घाव का इलाज हाई फ्रिकवेंसी साउंड वेव द्वारा किया जाता है। जिसका उद्देश्य दर्द और ऐंठन को कम करने साथ ही इलाज को तेज करना होता है।

कुछ लोगों को यह इलाज असरदार लगा है लेकिन इनका समर्थन करते हुए अधिक वैज्ञानिक सबूत नहीं मिले हैं।

NHS के मूल कॉन्टेंट का अनुवादHealthily लोगो
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।