COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
21st November, 20195 min read

तत्काल शांति प्राप्त करने के लिए 5 साँस लेने (ब्रीधिंग) के व्यायाम

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

उच्च स्तर का तनाव हमारे सांस लेने के तरीके को बदल सकता है। इससे श्वास तेज़ और अपूर्ण हो सकती है और कभी-कभी चक्कर आना और अधिक तनाव भी हो सकता है।

साँस लेने के व्यायाम आपको शांत करने में मदद कर सकते हैं। जितना अधिक आप साँस लेने के व्यायाम का अभ्यास करते हैं, उतना ही आपके लिए उन्हें अपने दैनिक जीवन में उपयोग करना आसान होगा।

तनाव से राहत लिए 5 साँस लेने के व्यायाम हैं जिन्हें आप आज़मा सकते हैं। शुरू करने से पहले, एक आरामदायक स्थिति में बैठें और अपनी छाती और कंधों को ढीला छोड़ें

पेट से श्वास

पेट से सांस लेने से तनाव कम हो सकता है और रक्तचाप कम हो सकता है। यह एक ऐसी तकनीक है जिसका उपयोग ध्यान और विश्राम के कई रूपों में किया जाता है। पेट की श्वास आपको अपनी श्वास पर अधिक ध्यान देने के लिए प्रोत्साहित करती है। यह आपको यह पहचानने में मदद कर सकता है कि आप कब तनावग्रस्त हैं ताकि आप अपनी श्वास को उसके अनुसार समायोजित कर सकें।

इस एक्सरसाइज को करने के लिए अपनी आंखें बंद कर लें और अपनी सांसों पर ध्यान दें। अपनी श्वास की गति और गहराई पर ध्यान दें, फिर:

  • एक हाथ अपनी छाती पर और दूसरा अपने पेट पर रखें
  • 2 सेकंड के लिए अपनी नाक से सांस लें और अपने पेट में हवा भरें (आपके पेट का विस्तार होना चाहिए लेकिन आपकी छाती हिलनी नहीं चाहिए)
  • अपने होठों को साथ लाकर बाहर की तरफ करें और सांस छोड़ते हुए अपने पेट को धीरे से दबाएं

गहरी साँस लेने के व्यायाम

जब आप तनाव में हों तो अपनी श्वास को नियंत्रित करने के लिए और तनाव कम करने के लिए नियमित रूप से गहरी साँस लेने के व्यायाम करने की कोशिश करें

इसे करने के लिए:

  • अपनी नाक के माध्यम से एक गहरी सांस लें (अपने डायाफ्राम का उपयोग करें ताकि आपका पेट बढ़े लेकिन आपकी छाती और कंधे स्थिर रहें)
  • अपने मुंह से धीरे-धीरे सांस छोड़ें
  • प्रत्येक बाहरी श्वास को अपनी आंतरिक श्वास से दुगना करें (साँस लेते समय 2 तक गिनें और साँस छोड़ते समय 4 तक गिनें)

एक नथुने से सांस लेना

एक-एक नथुने से सांस लेने से आपको आराम करने और हृदय गति कम करने में मदद मिल सकती है। पूरे अभ्यास के दौरान समान रूप से और स्थिर रूप से सांस लें।

इसे करने के लिए:

  • आरामदायक स्थिति में बैठें
  • अपना दाहिना हाथ अपनी नाक की ओर उठाएं
  • पूरी तरह से सांस छोड़ें और धीरे से अपने दाहिने नथुने को अपने दाहिने अंगूठे का उपयोग करके बंद करें
  • अपने बाएं नथुने से सांस लें और फिर इसे अपनी दाहिनी उंगलियों से बंद करें
  • अपने दाहिने नथुने से अपना अंगूठा उठाएं और सांस छोड़ें
  • अपने दाहिने नथुने से सांस लें और फिर इसे अपने अंगूठे से बंद करें
  • अपनी उंगलियों को अपने बाएं नथुने से निकालें और इससे सांस छोड़ें

ऐसा 5 मिनट तक करें। अपनी बायीं नासिका छिद्र से अंतिम श्वास को बाहर निकालें।

अगर आपकी नाक बंद है तो कोई दूसरा व्यायाम चुनें।

शेर की सांस

इसे योग में सिंह मुद्रा और संस्कृत में सिंहासन कहते हैं। यदि तनाव के कारण आपकी छाती या चेहरे में जकड़न हो जाती है, तो यह व्यायाम उन क्षेत्रों में तनाव को दूर कर सकता है। आप कहीं निजी तौर पर अभ्यास करना चाह सकते हैं क्योंकि यह एक शोर वाला व्यायाम है।

इस अभ्यास को करने के लिए:

  • अपने टांगों को क्रॉस करके बैठें
  • अपनी उंगलियों को फैलाकर अपने हाथों को अपने घुटनों पर रखें
  • अपनी नाक से गहरी सांस लेते हुए अपनी आँखें खुली रखें
  • अपना मुँह खोलें, अपनी जीभ बाहर निकालें और अपनी ठुड्डी की ओर बढ़ाएँ
  • एक लंबे 'हा' के शोर के साथ अपने मुंह से सांस छोड़ें
  • ऊपर देखें जहां आपकी नाक का कोण आपकी भौंह से मिलता है या नीचे की ओर आपकी नाक के सिरे पर

इन चरणों को 2 या 3 बार दोहराएं।

इस अभ्यास को करते समय आप विभिन्न मुद्राओं का उपयोग कर सकते हैं, जैसे अपनी एड़ी पर बैठना।

हमिंग बी सांस

इस श्वास तकनीक को भ्रामरी के नाम से भी जाना जाता है। यह आपको जल्दी से शांत करने में मदद कर सकता है, आपके माथे में तनाव को दूर कर सकता है और निराशा, क्रोध और चिंता की भावनाओं को कम कर सकता है। यह करने के लिए:

  • अपने चेहरे के किसी भी तनाव को जाने दें और अपनी आँखें बंद कर लें
  • अपने चेहरे से जुड़े अपने कान के छोटे त्रिकोणीय हिस्से पर कुछ अंगुलियों को रखें
  • सांस अंदर लें और फिर छोड़ें
  • जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, अपनी उंगलियों से अपने कान के इस हिस्से पर धीरे से दबाएं
  • अपना मुंह बंद करके गुनगुनाते हुए शोर करें

इस प्रक्रिया को तब तक जारी रखें जब तक आप अधिक आराम महसूस न करें।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।