COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
19th November, 20194 min read

आप कितने तनाव में हैं?

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

तनाव क्या है? (What is stress?)

तनाव होना एक अच्छी बात हो सकती है। यह आपको कड़ी मेहनत करने और जीवन की समस्याओं से निपटने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है। लेकिन बहुत ज़्यादा तनाव से आप परेशान हो सकते हैं और अपने काम नहीं कर पाते हैं। तनाव के लक्षण अलग-अलग होते हैं, यहां तक कि जब तक यह एक समस्या बनकर सामने नहीं आता है तब तक आपको मालूम भी नहीं चलता कि आपको कितना तनाव हैं।

उच्च स्तर का तनाव एक आम बात है। क्या आपके तनाव का स्तर बहुत ज़्यादा हो सकता है? अपने तनाव के स्तर का पता लगाने के लिए यहां कुछ तरीके दिए हैं।

तनाव के लक्षण

धड़कन तेज़ होने से लेकर हाथों में पसीना छूटने तक, तनाव कई अप्रिय संवेदनाओं का कारण हो सकता है। अधिकांश स्थितियों में, ये संवेदनाएं तनाव का स्त्रोत चले जाने पर दिखाई नहीं देती हैं। लेकिन अगर वे नहीं जाते हैं तो ये संवेदनाएं और बदतर हो जाती है और हो सकता है कि आप अत्याधिक तनाव से गुज़र रहे हों।
तनाव के कारण शारीरिक और भावनात्मक लक्षण दिखाई दे सकते हैं, लेकिन अगर आपको इसके ऐसे लक्षण नहीं पता है जो बहुत कम लोग जानते हैं तो यह पता लगाना हमेशा आसान नहीं है कि तनाव आपको बिमार कर रहा है। तनाव को लेकर हम सभी अलग-अलग प्रतिक्रिया देते हैं, लेकिन कुछ गंभीर परिणामों पर हमें ध्यान देना होगा।

तनाव के भावनात्मक और मनौवेज्ञानिक संकेत (Emotional and psychological signs of stress):

  • परेशान और काम का ज़्यादा भार महसूस करना
  • चिड़चिड़ापन, अक्रामकता और उतावलापन
  • चिंता, घबराहट या डर महसूस होना
  • आत्म-सम्मान कम होना
  • अपने विचारों पर नियंत्रण रखने में कठिनाई होना या ‘बार-बार अलग-अलग विचार आना’
  • ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होना
  • निर्णय लेने में कठिनाई होना

गंभीर तनाव से गुज़र रहे लोग आत्महत्या के विचार या व्यवहार अनुभव कर सकते हैं। अगर आप इससे प्रभावित हैं तो किसी डॉक्टर से बात करें।

तनाव के शारीरिक संकेत (Physical signs of stress):

  • सिरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द या खिंचाव
  • चक्कर आना
  • निंद लगने में परेशानी (अर्थात रात में बुरे ख्याल आना या निंद लेने में परेशानी होना या निंद जल्दी खुल जाना)
  • लगातार थकान महसूस करना
  • बहुत ज़्यादा या कम खाना

तनाव के व्यवाहारिक संकेत (Behavioural signs of stress)

  • सामान्य से ज़्यादा शराब पीना या धूम्रपान करना
  • दूसरे के सामने जल्दी से धैर्य खो देना
  • तनाव के कारणों से बचना (उदाहरण के लिए कुछ लोग या परिस्थितियां)

तनाव के कारण

तनाव कई चीज़ों से हो सकता है जिसमें जीवन बदलने वाली कुछ बातें या परिस्थितियां हो सकती है जो आपके नियंत्रण में नहीं होती है। ये परिस्थितियां आपके काम या अध्ययन, पारिवारिक जीवन, स्वास्थ्य, मकान या वित्तीय कारणों से जुड़ी हो सकती हैं।

तनाव के कारण हमेशा नकारात्मक नहीं होते हैं। जब कोई शुभ अवसर हो जैसे कि विवाह या घर में नया बच्चा आया हो तो भी तनाव महसूस होना बिल्कुल सामान्य हैं। जीवन की ऐसी घटनाओं के दौरान नई उम्मीदें या चुनौतियां बढ़ सकती है जिनसे आपको निपटने की आदत नहीं होती है और भले ही आपके जीवन में कोई खास बदलाव न भी हो रहे हों तो भी हल्का सा तनाव आपको प्रभावित कर सकता है। उदाहरण के लिए आपकी ऐसी कोई आदत जो आपका बहुत समय लेती है या आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करती है वह लंबे समय में ज़्यादा तनाव का कारण बन सकती है।

जब आप अपने जीवन में तनाव से छुटकारा पाने के लिए प्रयासरत हो तो यह ज़रूरी है कि आप उसका सामना करने का प्रयास करें, अन्यथा बाद में इसके कारण समस्या बढ़ सकती है।

क्या आपको लगता है कि आप तनाव में हैं?

जितना आपको लगता है क्या आपको उससे ज़्यादा तनाव हैं? इस सीरिज़ के आगे आने वाले लेख आपके तनाव को बेहतर रूप से मैनेज करने में आपकी सहायता करेंगे।

इस दौरान, आप हमारा ऐप डाउनलोड करें और मूड ट्रैकर का इस्तेमाल करें ताकि आपको इस बात का अंदाज़ा हो सके कि तनाव को कितना प्रभावित कर रहा है।

क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।