COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
5 min read

तनाव का सामना कैसे करें? (How to deal with stress)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

तनाव (stress) से शारीरिक बदलाव होता है, जो आपको कठिनाइयों और खतरे का सामना करने में सक्षम बनाने हेतु होता है।

आप महसूस कर सकते हैं कि आपका हृदय भारी हो रहा है, सांसे तेज़ हो रही हैं, आपकी मांसपेशियों में तनाव हो रहा है और आपको पसीना आ रहा है।

इसे कभी-कभी फाइट ऑर फ्लाइट (fight or flight) प्रतिक्रिया के रूप में जानते हैं।

एक बार जब खतरा या परेशानी खत्म हो जाती है तो ये शारीरिक प्रभाव भी गायब हो जाते हैं। लेकिन अगर आप लगातार तनाव (stress) में रहते हैं तो आपका शरीर हाई अलर्ट की स्थिति में रहता है और आप में तनाव से संबंधित लक्षण विकसित हो सकते हैं।

तनाव के लक्षण (Symptoms of stress)

आप भावनात्मक, मानसिक और शारीरिक रूप से कैसा महसूस करते हैं और साथ ही साथ आप कैसा बर्ताव करते हैं, तनाव इन सब पर असर डाल सकता है।

आप भावनात्मक रूप से कैसा महसूस कर सकते हैं? (How you may feel emotionally)

  • घबराया हुआ (overwhelmed)
  • चिड़चिड़ा और काफ़ी नर्वस (irritable and 'wound up')
  • चिंतित या डरा हुआ (anxious or fearful)
  • आत्म सम्मान की कमी (lacking in self-esteem)

आप मानसिक रूप से कैसा महसूस कर सकते हैं? (How you may feel mentally)

  • विचारों का तीव्रता से आना-जाना (racing thoughts)
  • हमेशा चिंतित रहना (constant worrying)
  • ध्यान लगाने में परेशानी होना (difficulty concentrating)
  • निर्णय लेने में परेशानी होना (difficulty making decisions)

आप शारीरिक रूप से कैसा महसूस कर सकते हैं? (How you may feel physically)

  • सिरदर्द (headaches)
  • मांशपेशियों में तनाव या दर्द (muscle tension or pain)
  • चक्कर आना (dizziness)
  • सोने में परेशानी (sleep problems)
  • हर समय थकान महसूस होना (feeling tired all the time)
  • ज़्यादा खाना या कम खाना (eating too much or too little)

आप कैसा बर्ताव कर सकते हैं? (How you may behave)

  • शराब पीना या धूम्रपान
  • लोगों पर चिल्लाना
  • जिन लोगों या चीज़ों से आपको समस्या है उनसे बचना

तनाव से कैसे निपटें (How to tackle stress)

आप तनाव को हमेशा रोक नहीं सकते हैं लेकिन बहुत सी चीज़ें हैं जिनसे आप इसको नियंत्रित कर सकते हैं। जैसे:

अन्य चीज़ें जो मदद कर सकती हैं:

  • अपनी परेशानी परिवार और दोस्तों से साझा करें
  • अपनी पसन्द और शौक को ज़्यादा समय दें
  • ब्रेक लें या छुट्टियों पर जाएं
  • कुछ नियमित व्यायाम करें और यह सुनिश्चित करें कि आप स्वस्थ भोजन कर रहे हैं
  • यह सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त नींद ले रहे हैं

तनाव किस वजह से होता है? (What causes stress?)

जीवन में बड़े परिवर्तन यहां तक की बच्चे का होना और शादी की योजना बनाना भी अक्सर तनाव पैदा करते हैं।

यह महसूस करना कि आपके जीवन में हो रही घटनाएं आपके नियंत्रण में नहीं है - उदाहरण के लिए, आपको अपनी किसी गंभीर बीमारी का पता चलता है, आपको ऐसा लगने लगता है कि आप किसी काम को करने में सक्षम नहीं हैं, तो इन वजहों से भी आपको तनाव हो सकता है।

तनाव निम्नलिखित वजहों से भी जुड़ा हो सकता है:

  • काम से: उदाहरण के लिए बेरोज़गारी, काम का ज़्यादा भार या रिटायरमेंट
  • परिवार: उदाहरण के लिए तलाक, रिश्तों में समस्याएं या किसी की देखभाल करने से होने वाला तनाव
  • घर की समस्या: जैसे घर बदलना या पड़ोसियों से परेशानी
  • व्यक्तिगत समस्याएं: उदाहरण के लिए किसी गम्भीर बीमारी से लड़ना, किसी करीबी के निधन की वजह से या आर्थिक समस्याओं की वजह से

अगर संभव हो तो अपने जीवन में तनाव के कारणों से मुकाबला करना बहुत ज़रूरी है, परेशानियों से बचना उन्हें और खराब कर सकता है।

हालांकि तनाव की स्थिति को हमेशा बदल पाना संभव नहीं है। आपको यह मानने की ज़रूरत है कि आप इस विषय में कुछ नहीं कर सकते हैं और आपको अपनी ऊर्जा फिर से कहीं और लगानी चाहिए। उदाहरण के लिए अगर आप किसी की देखभाल करते हैं तो ब्रेक लेने का तरीका खोजिए और वो काम कीजिए जिसमें आपको मज़ा आता है।

तनाव की स्थिति में अपने डॉक्टर से कब मिलना चाहिए? (When to see your doctor about stress)

अगर आपने खुद से सहायता करने की तकनीक का प्रयास किया है और वो कारगर साबित नहीं हुई तो अपने डॉक्टर को दिखाएं। आपके पास बहुत से विकल्प मौजूद हैं जैसे स्व सहायता या कॉग्निटिव बिहेवियरल थेरेपी (cognitive behavioural therapy) (CBT)।

आप कोई तनाव नियंत्रण कोर्स (stress management course) भी कर सकते हैं।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।