COVID-19: नवीनतम सूचनाओं के लिए यहाँ क्लिक करें

×
5 min read

मूत्र में रक्त (Blood in the urine)

मेडिकल समीक्षा के साथ

स्वास्थ्य संबंधी सभी लेखों की चिकित्सीय सुरक्षा जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि जानकारी चिकित्सकीय रूप से सुरक्षित है। अधिक जानकारी के लिए हमारी सम्पादकीय नीति देखें।

यह लेख मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया था। इस लेख का मूल संस्करण यहां देखा जा सकता है।

मूत्र में रक्त आना बहुत ही डरावना हो सकता है और इसकी जांच एक डॉक्टर के द्वारा की जानी चाहिए, लेकिन यह शायद ही किसी जानलेवा स्थिति का सूचक हो सकता है।

अगर आपको अपने मूत्र में ब्राइट लाल रक्त (bright red blood) दिखाई देता है, या आपका मूत्र लाल रक्त कोशिकाओं (red blood cells) के कारण लाल या भूरा हो गया है, तो अपने डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।.

कभी-कभी, ऐसा हो सकता है की मूत्र में रक्त की मात्रा इतनी कम हो की वह नग्न आंखों से ना दिखाई दे और केवल एक प्रयोगशाला (laboratory) में किसी और चीज के लिए किये गए मूत्र परीक्षण (urine test) के दौरान ही स्पष्ट हो पाए। इसका परीक्षण भी आपके चिकित्सक द्वारा किया जाना चाहिए, क्योंकि स्वस्थ अवस्था में मूत्र में रक्त की कोई भी योग्य मात्रा नहीं होनी चाहिए।

चिकित्सा शब्दावली में मूत्र में रक्त की उपस्थिति को हेमट्यूरिया (haematuria) कहा जाता है। यदि नग्न आंखों से मूत्र में रक्त स्पष्ट होता है, तो इसे "मैक्रोस्कोपिक (macroscopic) ", या "विज़बल (visible) हेमट्यूरिया" कहा जाता है। यदि रक्त केवल प्रयोगशाला परीक्षण के दौरान ही पता लगाया जा सकता है, तो इसे "सूक्ष्म (microscopic)", या "अदृश्य/इन्विज़बल (invisible)" कहा जाता है

मूत्र में रक्त यूरिनरी ट्रैक्ट (मूत्र पथ) के भीतर ही कहीं से प्रवेश कर सकता है - जैसे गुर्दे (kidney), मूत्राशय (bladder) या नलिकाएं (tubes) जिनसे मूत्र से गुजरता है। अधिकांश समय ये सिस्टायटिस (cystitis) जैसे किसी मूत्र पथ के संक्रमण (urinary tract infection) (यूटीआई) के कारण होता है।

इस पृष्ठ में आपको मूत्र में रक्त की उपस्थिति के सबसे सामान्य कारणों की रूपरेखा बताई गयी है, ताकि आपको यह पता चल सके कि आपकी समस्या का क्या कारण हो सकता है। हालांकि, इस गाइड का उपयोग अपनी स्थिति का स्वयं-निदान (self-diagnosis) करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए, और यह महत्वपूर्ण है कि आप उचित निदान (diagnosis) के लिए अपने डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।

क्या मूत्र में निश्चित रूप से रक्त ही है?

इससे पहले कि आप आगे पढ़ें, यह सुनिश्चित करना आवश्यक है की क्या आपने हाल ही में चुकंदर (beetroot) खाया है या नहीं, क्योंकि यह मूत्र को गुलाबी रंग का कर सकता है और अनावश्यक संकेत (अलार्म) पैदा कर सकता है। इसके अलावा, कुछ दवाएं, जैसे कि एंटीबायोटिक नाइट्रोफ्यूरेंटोइन (antibiotic nitrofurantoin) भी, मूत्र के रंग को भूरे या लाल रंग में बदल सकती हैं

सुनिश्चित करे कि रक्त वास्तव में आपके मूत्र से आ रहा है, ना की आपकी योनि (vagina) (यदि आप एक महिला हैं तो) या पीछे के मार्ग से।

मूत्र में रक्त किन कारणों से आता है?

मूत्र में रक्त आने के सामान्य कारण

  • सिस्टायटिस (cystitis / एक मूत्राशय संक्रमण), जिसके कारण पेशाब करते समय आपको आमतौर पर जलन होती है
  • गुर्दा (किड़नी) संक्रमण - आपका तापमान बढ़ सकता है (38ºC या इससे ऊपर) और आपके पेट के बगल वाले हिस्से में दर्द हो सकता है
  • गुर्दे की पथरी, जो दर्द रहित हो सकती है लेकिन कभी-कभी आपके गुर्दे से निकलने वाली नलियों में से एक को अवरुद्ध (बंद) कर सकती है और इसके कारण पेट में तेज़ दर्द हो सकता है
  • मूत्रमार्ग/यूरेथ्रा (urethra) एक ट्यूब जो मूत्र को शरीर से बाहर निकालती है की सूजन- इसे मूत्रमार्गशोथ कहा जाता है, और यह अक्सर क्लैमाइडिया नामक यौन संक्रमण के कारण होता है
  • एक बढ़ी हुई पौरुष/प्रोस्टेट ग्रंथि - वृद्ध पुरुषों में यह एक आम स्थिति है और इसका पौरुष ग्रंथि के कैंसर के साथ कुछ संबंध नहीं है: एक बढ़ी हुई पौरुष ग्रंथि मूत्राशय पर दबाव डालेगी और पेशाब करने में कठिनाई और बार बार पेशाब करने की आवश्यकता महसूस होने जैसी समस्याएँ पैदा करेगी
  • प्रोस्टेट कैंसर (prostate cancer)- यह आमतौर पर 50 वर्ष से आधिक आयु के पुरुषों में होता है और अक्सर धीरे धीरे बढ़ता है : यह प्रायः ठीक हो सकता है यदि इसका इलाज़ जल्दी शुरू हो जाए
  • मूत्राशय कैंसर(Bladder Cancer)-यह भी ज्यादातर 50 वर्ष से अधिक आयु वाले पुरुषों मे पाया जाता है
  • गुर्दे का कैंसर (kidney cancer) - यह भी आमतौर पर 50 वर्ष से आधिक आयु के वयस्कों में होता है । इसका पता अन्य कारणों के लिए किये गये स्कैन से किया जाता है और समय से इसका रोगनिदान हो जाने पर इसे ठीक किया जा सकता है ।

इन सब के बारे में और आधिक जानकारी ऊपर दिये गये लिंक से प्राप्त कि जा सकती है ।

क्या मुझे किसी विशेषज्ञ के पास जाने की आवश्यकता है?

यदि निम्न में से कोई भी लक्षण दिखता है तो आपके डॉक्टर को आपको तत्काल किसी विशेषज्ञ(specialist), आमतौर पर मूत्र रोग विशेषज्ञ (urologist) के पास भेजना चाहिए:

  • आपके मूत्र में रक्त दिखाई देता है पर आपको किसी दर्द का अनुभव नहीं होता है, और परीक्षण से पता चलता है कि कोई संक्रमण नहीं है
  • आपकी आयु 40 वर्ष या उससे अधिक है और आपको बार बार मूत्र पथ का संक्रमण (urinary tract infection) हो रहा है और आपके मूत्र में बार बार रक्त आ रहा है
  • आप 50 वर्ष या अधिक आयु के हैं और मूत्र परीक्षण में आपके मूत्र में रक्त (लहू) आ रहा है जिसका कोई कारण नहीं मिल रहा है
  • आपके पेट में एक मास (mass - एक संभावित ट्यूमर) है जिसे आपके डॉक्टर द्वारा एक स्कैन के माध्यम या शारीरिक परीक्षा के दौरान पाया गया था
  • अदृश्य हेमटुरिया (invisible haematuria) टेस्ट में पाया जाता है, खासकर अगर मूत्र में प्रोटीन भी पाया जाता है- इसकी जांच किसी यूरोलॉजिस्ट(urologist) की बजाय नेफ्रोलॉजिस्ट (nephrologist/ किडनी विशेषज्ञ) द्वारा की जाएगी।
सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk
क्या यह लेख उपयोगी था?

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।